Saturday, May 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: जांजगीर-चांपा में पुलिस टीम पर हमले का मामला.. 6 आरोपी गिरफ्तार,...

छत्तीसगढ़: जांजगीर-चांपा में पुलिस टीम पर हमले का मामला.. 6 आरोपी गिरफ्तार, 7 अभी भी फरार; पामगढ़ थाना प्रभारी और ASI गंभीर रूप से हुए थे घायल

जांजगीर-चांपा: जिले के ग्राम सेमरिया में 3 नवंबर को पुलिस टीम पर हमला करने वाले 6 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, वहीं 7 लोग अभी भी फरार हैं। पुलिस पार्टी अवैध शराब पर कार्रवाई करने के लिए गई थी, जहां आरोपियों ने उन पर जानलेवा हमला किया था। मामला पामगढ़ थाना क्षेत्र का है।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ग्राम सेमरिया के सबरिया डेरा में ममता गोड नाम की महिला और उसका परिवार अवैध शराब बना रहा है। पुलिस ने वहां छापा मारा और 12 लीटर अवैध कच्ची महुआ शराब को जब्त कर लिया। आरोपी ममता के खिलाफ पुलिस ने IPC की धारा 34 (2) आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की। पुलिस आरोपी ममता गोड को हिरासत में लेकर पामगढ़ थाने की ओर रवाना हुई थी।

4 महिला आरोपी भी गिरफ्तार।

4 महिला आरोपी भी गिरफ्तार।

DSP निकोलस खलखो टीम के साथ चारपहिया वाहन में आरोपी महिला को लेकर आगे बढ़ गए थे, वहीं थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे और ASI शिव चन्द्रा बाइक से आ रहे थे, तभी आरोपी महिला के परिजन पहुंचे और लाठी-डंडों और रॉड से थाना प्रभारी और ASI को बीच रास्ते में रोककर उन पर जानलेवा हमला कर दिया। हमले में पामगढ़ थाना प्रभारी ओमप्रकाश कुर्रे और ASI शिव चंद्रा गंभीर रूप से घायल हो गए थे। दोनों को पामगढ़ अस्पताल में प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद बिलासपुर अपोलो रेफर कर दिया गया था। दोनों को अपोलो में भर्ती कराया गया था।

थाना प्रभारी पामगढ़ ओमप्रकाश कुर्रे भी हुए थे घायल।

थाना प्रभारी पामगढ़ ओमप्रकाश कुर्रे भी हुए थे घायल।

फिलहाल पुलिस ने आरोपी मंगली बाई, चंपा बाई, अनीता उर्फ भूरी बाई, शांति बाई, राजाराम उर्फ डोकरा और रामलाल गोड को गिरफ्तार कर लिया है। इन सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। वहीं 7 आरोपी फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular