Wednesday, May 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कटघोरा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम नोनबिर्रा में...

CG: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कटघोरा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम नोनबिर्रा में आयोजित भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में दी विकास कार्यों की सौगात…

  • मुख्यमंत्री श्री बघेल भेंट-मुलाकात के लिए पहुंचे कोरबा जिले के कटघोरा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम नोनबिर्रा
  • ग्रामीणों ने तेंदू फल और सूत धागा के माला पहनाकर मुख्यमंत्री का किया आत्मीय स्वागत
  • मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर कर ग्रामीणों में भारी उत्साह , 30 नर्तकों के दल ने करमा नृत्य कर किया स्वागत
  • राजगीत ‘अरपा पैरी के धार’ के साथ की गई कार्यक्रम की शुरुआत
  • भेंट मुलाकात के दौरान ऋण माफी योजना, जाति प्रमाण पत्र, वन अधिकार पत्र, हाट-बाजार क्लीनिक योजना की ली जानकारी

कोरबा (BCC NEWS 24): मुख्यमंत्री श्री बघेल के कोरबा जिले के नोनबिर्रा पहुंचने पर हेलीपैड पर जनप्रतिनिधियों,  अधिकारी कर्मचारियों एवं आमजनों ने पुष्प गुच्छ, गुलदस्ता भेंटकर उनका आत्मीय स्वागत किया। साथी ग्रामीणों ने तेंदू फल और सूत धागा के माला पहनाकर मुख्यमंत्री श्री बघेल का अभिनंदन किया। साथ ही हेलीपैड पर ग्राम रेंकी के ग्रामीणों ने करमा नृत्य कर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। पारंपरिक धुन और मांदर की थाप पर करमा नृत्य ने मुख्यमंत्री श्री बघेल का मन मोह लिया। मुख्यमंत्री के स्वागत में भारी संख्या में ग्रामीणजन हेलीपैड पर मौजूद रहे। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सभी जनता का स्वागत स्वीकार करते हुए सभी का अभिवादन किया। जनजाति सदस्यों द्वारा खुशी के अवसर पर करमा नाच किया जाता है। आदिवासी संस्कृति की विशेष पहचान करमा नृत्य जनजाति सदस्यों द्वारा फसल कटाई की खुशी और त्योहारों पर किए जाने वाला विशेष नृत्य है। उन्होंने छत्तीसगढ़ महतारी की छायाचित्र पर पुष्प अर्पित कर मुख्यमंत्री ने पूजा अर्चना की। कार्यक्रम की शुरुआत राजगीत अरपा पैरी के धार के साथ की गई। इस दौरान उन्होंने आमजनों से संवाद के दौरान क्षेत्र के विकास के लिए अनेक घोषणाएं की। इन घोषणाओं में पूर्व माध्यमिक शाला मुड़पार का उन्नयन, ग्राम नोनबिर्रा में 50 सीटर पोस्ट मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास, आदिमजाति सेवा सहकारी समिति (नया लैम्पस) का निर्माण, नोनबिर्रा के खलारी जलाशय का जीर्णाेद्धार नोनबिर्रा के शिवसागर तालाब का उन्नयन एवं सौंदर्यीकरण, शासकीय ग्राम्य भारती महाविद्यालय को स्नातकोत्तर महाविद्यालय का दर्जा, ग्राम बोइदा में उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का निर्माण विधानसभा कटघोरा क्षेत्र में 25 देव गुड़ी (ठाकुर देव) का निर्माण तथा चौरा रानी में अहाता निर्माण एवं सड़क चौड़ीकरण के कार्य शामिल है। नोनबिर्रा में मुख्यमंत्री श्री बघेल के स्वागत के दौरान सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत, प्रभारी मंत्री श्री प्रेमसाय सिंह टेकाम, कटघोरा क्षेत्र के विधायक श्री पुरुषोत्तम कंवर, पाली तानाखार क्षेत्र के विधायक श्री मोहित राम केरकेट्टा, गौ सेवा आयोग के सदस्य श्री प्रशांत मिश्रा, जनपद अध्यक्ष पाली श्रीमती दुलेश्वरी सिदार, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद दीपका श्रीमती संतोषी दीवान, राम कुमार श्रीवास, श्रीमती मीरा कंवर, श्रीमती प्रमिला कंवर सहित भारी संख्या में ग्रामीण जन मौजूद रहे। प्रशासन की तरफ से मुख्यमंत्री का स्वागत बिलासपुर संभागायुक्त डॉ संजय अलंग, पुलिस महानिरीक्षक श्री बद्रीनारायण मीणा, कलेक्टर श्री संजीव झा, पुलिस अधीक्षक श्री संतोष सिंह, जिला पंचायत सीईओ श्री नूतन कंवर, डीएफओ कटघोरा श्रीमती प्रेमलता यादव और अन्य अधिकारियों ने किया।

भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ग्रामीणों से हुए रूबरू – मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के दौरान आमजनों के जीवन स्तर को सुदृढ़ करने के लिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित की जा रही अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं जैसे – राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, सुराजी ग्राम योजना, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल, धन्वंतरी योजना, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक जैसी अनेक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी ग्रामीणों से ली। इस दौरान किसान देवीप्रसाद पटेल ग्राम नोनबिर्रा ने बताया कि उन्होंने 75 क्विंटल धान बेचा है। धान के विक्रय के बाद एक लाख रुपए सीधे उनके खाते में आए हैं। उन्होंने बताया कि वे सब्जी का व्यवसाय भी करते हैं तथा शासन की योजनाओं का लाभ भी मिल रहा है। मुख्यमंत्री के पूछे जाने पर देवीप्रसाद ने कहा कि शासन की योजनाओं का लाभ पाकर उनकी पत्नी और बहू के लिए दो-दो तोला सोना लिया है। इसी प्रकार ग्राम छिंदपुर के किसान देवसिंह राठौर ने बताया कि उनका 50 हजार रुपए ऋण माफ़ हुआ है तथा बिजली बिल हाफ़ योजना का भी लाभ मिल रहा है। उन्होंने बताया कि उनके गांव में ज्यादा बिजली बिल आने की समस्या आ रही है। मुख्यमंत्री के द्वारा ऋणमाफी से बचे हुए पैसों के व्यय की जानकारी पूछे जाने पर देवसिंह ने बताया कि उन पैसों का उपयोग घर के आवश्यक खर्च में किया है।

किसान को वन अधिकार पट्टे दिए जाने के कार्य में हुई लापरवाही, मुख्यमंत्री ने किया पटवारी का तत्काल निलंबन – ग्राम तिवरता (हरदी बाजार) के किसान रमेश कुमार जांगड़े ने मुख्यमंत्री से शिकायत की कि पात्र होने के बावजूद उन्हें वन अधिकार पट्टा नहीं मिल सका है। किसान रमेश की समस्या को गंभीरता से लेते हुए सुनकर मुख्यमंत्री ने शीघ्र उन्हें वन अधिकार पट्टा देने के निर्देश अधिकारियों को दिए तथा संबंधित क्षेत्र के पटवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश भी दिए। ग्राम दमिया निवासी चंद्रवती जगता और उनकी मां ने बताया कि उन्हें 30 साल से पट्टा नहीं मिला। जिसे सुनकर मुख्यमंत्री ने प्रकरण की जांच करने एसडीएम को निर्देशित किया। मुख्यमंत्री द्वारा जाति प्रमाण पत्र के बारे में पूछे जाने पर आरती चौहान ने बताया कि उसका सर्टिफिकेट नहीं मिल पा रहा है। इस पर मुख्यमंत्री ने प्रकरण को देखकर जाति प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। भेंट-मुलाकात के दौरान नोनबिर्रा की ग्रामीण सरोज करपे ने मुख्यमंत्री को बताया कि हाट बाजार क्लिनिक योजना के तहत हर सोमवार को मोबाइल क्लीनिक बस आती है जिसमें ग्रामीणों का निःशुक्ल इलाज होता है।

सैलागांव निवासी रेखा विश्वकर्मा ने मुख्यमंत्री को बताया कि गोधन न्याय योजना के तहत उनके समूह के द्वारा 300 क्विंटल से ज्यादा खाद बनाया गया है। इससे हुई आमदनी से सभी सदस्यों ने 26-26 हजार रुपए आपस में बांटकर सोने के झुमके खरीदे हैं। इसी प्रकार गोधन न्याय योजना के बारे में निर्मला बाई कंवर ने बताया कि उन्होंने ढाई सौ क्विटंल गोबर बेचकर 50 हजार रूपये की आमदनी प्राप्त की है। यह सुनकर मुख्यमंत्री ने उनकी सराहना की। तेंदूपत्ता संग्रहण के बारे में पूछे जाने पर मनशीला पैकरा ने बताया कि उनके बेटे के 12वीं में फर्स्ट डिवीजन आने पर प्रोत्साहन योजना के तहत छात्रवृत्ति मिली। जिससे उनके बेटे की आगे की पढ़ाई में आर्थिक रूप से सहायता मिली है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular