Saturday, July 13, 2024
Homeछत्तीसगढ़CG: विकसित भारत संकल्प यात्रा मेरी कहानी मेरी जुबानी... गरीबों के लिये...

CG: विकसित भारत संकल्प यात्रा मेरी कहानी मेरी जुबानी… गरीबों के लिये वरदान साबित हो रहा आयुष्मान कार्ड

  • संतोषी ने कहा आयुष्मान कार्ड की वजह से उनकी सास देवकुंवर ने जीती जिंदगी की जंग

रायपुर: धमतरी जिले के गौरव ग्राम कंडेल की रहने वाली संतोषी बताती है, कि उनकी सास देवकुंवर साहू को ब्रेस्ट कैंसर होने की खबर सुनकर वे काफी घबरा गईं थीं, कि इतनी बड़ी बीमारी का ईलाज वे कैसे करायेंगी। मेहनत-मजदूरी कर घर-परिवार का पालन पोषण करने वाली संतोषी को फिर आयुष्मान भारत योजना के तहत निःशुल्क ईलाज की याद आयी। फौरन उन्होंने अपनी सास का इलाज कराना शुरू कर दिया और आयुष्मान कार्ड से ईलाज कराने के बाद वे स्वस्थ हो गईं। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद करते हुए संतोषी कहतीं हैं कि कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वे अपनी सास का कैंसर जैसी बड़ी बीमारी का ईलाज आयुष्मान कार्ड की वजह से करा सकेंगी, उनकी सास देवकुंवर साहू ने अपनी जिंदगी की जंग जीत गईं हैं।

उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा देश के गरीब एवं मध्यमवर्गीय परिवार को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत योजना संचालित की जा रही है। इस योजना से गरीब वर्ग के लोगांे को अब स्वास्थ्य खराब होने पर ईलाज की चिंता नहीं रही है। इस योजना का लाभ देश के करोड़ो लोग ले रहे और स्वस्थ्य हो रहे हैं। यह योजना गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है। विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत जिले के विभिन्न विकासखण्डों में प्रतिदिन संकल्प शिविर आयोजित किये जा रहे हैं। इन शिविरों में जहां जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा उपस्थित ग्रामीणों को विभागीय जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देकर पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा रहा है। वहीं योजनाओं से लाभान्वित हितग्राही भी अपनी कहानी सुनाने में पीछे नहीं हट रहे हैं। इस योजना के तहत पात्र बीपीएल परिवारों को 5 लाख रुपये तक एपीएल परिवारों को 50 हजार रूपये का स्वास्थ्य बीमा केंद्र सरकार मुहैया कराती है। परिवार को आयुष्मान गोल्डन कार्ड जारी किया जाता है। इस कार्ड को दिखाकर सूचीबद्ध अस्पतालों में फ्री इलाज कराया जा सकता है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular