Thursday, June 20, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: बिलासपुर में पेड न्यूज पर चुनाव आयोग की पहली कार्रवाई... बेलतरा...

CG: बिलासपुर में पेड न्यूज पर चुनाव आयोग की पहली कार्रवाई… बेलतरा से कांग्रेस प्रत्याशी विजय केशरवानी को नोटिस जारी, खबर को माना गया विज्ञापन

BILASPUR: बिलासपुर में स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने पेड न्यूज के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। उन्होंने बेलतरा के कांग्रेस प्रत्याशी विजय केशरवानी के पक्ष में प्रकाशित खबर को लेकर नोटिस जारी किया है। खबर को विज्ञापन मानते हुए प्रत्याशी के खर्च में शामिल करने को कहा गया है।

दरअसल, चुनाव आयोग ने मतदाताओं को भ्रामक जानकारी देने और प्रभावित करने वाली समाचार को पेड न्यूज की श्रेणी में रखा है। इस तरह की गतिविधियों की निगरानी के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी को अलग से मीडिया सर्टिफिकेशन एवं मानिटरिंग सेल बनाने के लिए कहा है।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देश पर बिलासपुर विधानसभा की छह सीटों की निगरानी के लिए सेल का गठन किया गया है, जो संचार के विभिन्न माध्यमों पर नजर रख रही है।

बेलतरा प्रत्याशी के समर्थन में प्रकाशित खबर पर नोटिस

चुनाव के दौरान मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए किसी भी तरह की भ्रामक सूचना जारी होने की खबरों पर भी नजर रखी जा रही है। ऐसे ही बेलतरा विधानसभा क्षेत्र में समाचार पत्र में प्रकाशित खबर को जिला निर्वाचन अधिकारी ने पेड न्यूज माना है। इस पर कार्रवाई करते हुए रिटर्निंग ऑफिसर ने कांग्रेस प्रत्याशी विजय केशरवानी को नोटिस जारी किया है।

इस मामले में प्रकाशित समाचार को पेड न्यूज मानते हुए इसे विज्ञापन की श्रेणी में शामिल किया गया है। पेड न्यूज पर कड़ी कार्रवाई करते हुए जिले में अन्य प्रत्याशियों को भी नोटिस जारी किया गया है।

त्रिलोक श्रीवास के समर्थन से विजय को मिली मजबूती

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर अवनीश शरण ने बताया कि एक समाचार पत्र में त्रिलोक श्रीवास के समर्थन से विजय केशरवानी को मजबूती मिलने के साथ ही भाजपा के विधायक रजनीश सिंह और जनपद उपाध्यक्ष विक्रम सिंह के भी कांग्रेस के पक्ष में प्रचार करने संबंधी भ्रामक खबर प्रकाशित की गई है।

यह खबर विजय केशरवानी के पक्ष में मतदाताओं को प्रेरित करने वाली है। इसलिए कांग्रेस के प्रत्याशी विजय केशरवानी को नोटिस जारी करते हुए खबर को पेड न्यूज की श्रेणी में रखते हुए उनके खर्चे में शामिल किया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular