Wednesday, June 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: 'एक महीने डिप्रेशन में रही, सोचा सुसाइड कर लूं'... रायपुर की...

CG: ‘एक महीने डिप्रेशन में रही, सोचा सुसाइड कर लूं’… रायपुर की रेप पीड़िता बोली- कोल्ड ड्रिंक पिलाई, नींद खुली तो शरीर में तेज दर्द था

रायपुर: मैं उस रात के बाद डिप्रेशन में चली गई। एक महीने तक लोगों से डिस्कनेक्ट हो गई। अकेले रहने लगी। बातचीत करना बंद कर दिया। सोचा कि सुसाइड कर लूं… लेकिन दोस्तों का सपोर्ट मिला। और फिर मैंने खुद को संभाला। ये बातें उस रेप पीड़िता ने कही, जिसने रायपुर के एक स्पा सेंटर में नौकरी जॉइन की थी। मंशा थी कि खुद के पैरों पर खड़ी होगी। लेकिन 24 घंटे में ही स्पा मालिक ऐसी हरकत कर देगा, इसका अंदाजा उसे नहीं था।

मेरी मजबूरी का फायदा उठाया

रेप पीड़िता ने बताया कि वह 29 जुलाई को कटोरा तालाब स्थित स्पा सेंटर में काम मांगने गई थी। सेंटर के मालिक अभिषेक साहू ने उसे 10 हजार सैलरी देने की बात कही। इस पर वह तैयार हो गई और काम शुरू कर दिया।

रेप का आरोपी अभिषेक साहू स्पा सेंटर का मालिक है। यहां पीड़िता नौकरी के लिए गई थी।

रेप का आरोपी अभिषेक साहू स्पा सेंटर का मालिक है। यहां पीड़िता नौकरी के लिए गई थी।

देर रात अकेले घर जाना मुश्किल,तो वो होटल ले गया

पीड़िता ने बताया कि पहले दिन स्पा सेंटर में रात 10 बजे तक ग्राहक थे। मुझे वहां से निकलने में देरी हो गई। ऐसे में देर रात अकेले घर जाना मुश्किल था। मैंने ये बात अभिषेक सर से कही तो उन्होंने मुझे टेंशन ना लेने की बात की।

काम खत्म होने के बाद वह मुझे घुमाने और खाने-पीने के बहाने होटल लेकर गया। इस बीच उसने मुझे कोल्ड ड्रिंक पिलाई। जिसमें शायद उसने कुछ नशे की गोली मिलाई गई थी। जिसके बाद मुझे तेज नींद आने लगी।

सुबह उठी तो शरीर में दर्द महसूस हुआ

सुबह नींद खुली तो होटल के कमरे में ही थी। पूरे शरीर में तेज दर्द हो रहा था। कुछ अलग और अजीब सा महसूस हो रहा था। मैंने अभिषेक से पूछा कि रात में क्या हुआ? तो उसने कहा कि जो भी हुआ, तुम सब कुछ भूल जाओ।

मैंने जब नाराज होते हुए फिर पूछा तो उसने मुझे सच बताते हुए कहा कि चुप हो जाओ, वरना मैं वीडियो वायरल कर दूंगा। जिसके बाद मैं डर गई। फिर उसने कहा कि स्पा सेंटर में काम करती रहो मैं तुम्हारी तनख्वाह बढ़ा दूंगा।

पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने उसके साथ गाली गलौज और मारपीट भी की है।

पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने उसके साथ गाली गलौज और मारपीट भी की है।

आत्महत्या करने का मन किया

इस घटना के बाद मैं पूरी तरह अकेले हो गई। किसी से बात नहीं पा रही थी। मैंने अपना फोन भी बंद कर दिया। सुसाइड करने का मन होने लगा। फिर कुछ सहेलियों ने हिम्मत दी। मैंने शिकायत लेटर लिखा और पुलिस को जाकर दिया।

मुझे डर था कि वो मेरी हत्या न करवा दे

थाने में शिकायत की तो डर था कि वह मुझे जान से मरवा देगा। अब पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बावजूद मेरे अंदर का ये डर खत्म नहीं हुआ है। मैं चाहूंगी कि जरूरत पड़ने पर पुलिस मेरी मदद करे। अभिषेक को सख्त सजा मिले।

शहर के बीच चौक पर की मारपीट

पीड़िता ने कहा कि जब शिकायत की बात का अभिषेक को अंदाजा हुआ तो स्टाफ के सामने उसे शहर के बीच चौराहे पर 2 थप्पड़ मारे। इसके अलावा मेरे साथ गाली-गलौज और अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया।

आरोपी हो चुका है गिरफ्तार

पीड़िता अनुसूचित जाति वर्ग से है। इस वजह से 25 सितम्बर को विशेष थाने में FIR दर्ज होते ही अगले दिन आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट से जेल भेज दिया गया है। अब इस मामले में पुलिस आगे की जांच कर रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular