Wednesday, April 24, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: जिंदल कंपनी के इंजीनियर से 15.38 लाख की ठगी... यूट्यूब वीडियो...

CG: जिंदल कंपनी के इंजीनियर से 15.38 लाख की ठगी… यूट्यूब वीडियो के लाइक एंड अर्न की लालच में फंसाया; ऑनलाइन कमाई का दिया था झांसा

बिलासपुर: रायगढ़ के जिंदल स्टील एंड पावर कंपनी के इंजीनियर ऑनलाइन ठगी के शिकार हो गए। यू-ट्यूब में उन्होंने लाइक एंड अर्न वीडियो देखा, जिसके चक्कर में पड़ कर 15 लाख 38 हजार रुपए गवां दिया। ठगों ने उन्हें घर बैठे कमाई का लालच दिया और वीडियो दिखाकर एनी डेस्क ऐप डाउन लोड कराया था। उनकी शिकायत पर साइबर रेंज थाना ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

रायगढ़ के कोतरा रोड में जिंदल स्टील पावर कंपनी का इंजीनियरिंग हॉस्टल है। इसमें कंपनी में इंजीनियर मोहित भी रहता है। मोहित यू-ट्यूब में घर बैठे कमाई करने के लिए वीडियो देख रहा था। इसमें एक वीडियो को देखकर लाइक करने पर कमीशन देने का झांसा दिया गया था।

साइबर ठगों के झांसे में आकर फंस गया इंजीनियर और हो गंवाए पैसे।

साइबर ठगों के झांसे में आकर फंस गया इंजीनियर और हो गंवाए पैसे।

ठगों ने किया कॉल यू-ट्यूब लिंक भेजकर दिला लालच
वीडियो सर्च करने के बाद मोहित के पास एक कॉल आया। कॉल करने वाले ने घर बैठे कमाई करने का लालच दिया। इसके लिए मोहित के नंबर पर यू-ट्यूब लिंक भेजा और लाइक करने के लिए कहा। शुरुआत में वीडियो लाइक करने पर मोहित के अकाउंट में रुपए आते दिखाई दिए। इसका स्क्रीन शॉट पर ठगों ने मोहित को भेजा।

एनी डेस्क ऐप डाउन लोड कराया और खाली कर दिया बैंक अकाउंट
ठगों ने उसे झांसा दिया कि अभी जो अकाउंट बना है उसमें केवल उनके रकम दिखेगी, पर उसका उपयोग नहीं कर सकेगा। पैसे उनके अकाउंट में जमा करने के लिए ठगों ने ऐनी डेस्क ऐप लिंक शेयर किया और उसे डाउनलोड करने के लिए कहा। ऐप डाउनलोड कराने के बाद ठगों ने यूपीआई आईडी से पैसे जमा करने का दावा किया।

उनसे आईडी पासवर्ड भी पूछ लिया। फिर उनके बैंक अकाउंट से 15 लाख 38 हजार रुपए पार कर दिया। जिसके बाद मोहित को ठगी का एहसास हुआ। उन्होंने इसकी शिकायत रेंज साइबर थाने में की, जिस पर पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है।

ऑनलाइन पैसे कमाने के लालच में पड़ कर हो गया ठगी का शिकार।

ऑनलाइन पैसे कमाने के लालच में पड़ कर हो गया ठगी का शिकार।

साइबर एक्सपर्ट बोले- साइबर फ्रॉड से बचने सावधानी जरूरी
साइबर एक्सपर्ट व थाना प्रभारी मनोज नायक ने बताया कि सोशल मीडिया या वॉट्सऐप पर अनजान नंबरों से आने वाले कॉल से सावधान रहें और उनसे अपनी निजी जानकारी, बैंक डिटेल संबंधी जानकारी शेयर ना करे। किसी भी प्रकार के थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड न करें। साथ ही किसी भी प्रकार के लुभाने वाले स्कीम या लालच में ना आए।

सोशल मीडिया पर चल रहे लाइक, सब्सक्राइब और इनकम जैसे फ्रॉड स्कीम से बचे। क्योंकि, कोई भी व्यक्ति या संस्था इस तरह से घर बैठे कमाई करने वाला काम नहीं करता। इस तरह से छोटी-छोटी बातों को जानकर लोग साइबर फ्रॉड के शिकार होने से बच सकते हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular