Tuesday, July 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: महादेव ऐप केस, एक आरोपी नोएडा से गिरफ्तार... बेटिंग के जरिए...

CG: महादेव ऐप केस, एक आरोपी नोएडा से गिरफ्तार… बेटिंग के जरिए करोड़ों की ठगी; 1 हफ्ते पहले UAE में पकड़ा गया था ऑनर रवि उप्पल

रायपुर: छत्तीसगढ़ समेत देश भर में चर्चित महादेव बेटिंग ऐप के जरिए करोड़ों रुपए की ठगी करने वाले एक आरोपी को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपी पर पहले ही गैंगस्टर एक्ट लगा चुकी है। आरोपी का नाम हिमांशु है, उसे महामाया फ्लाई ओवर के पास से गिरफ्तार किया गया। इससे अलावा नोएडा पुलिस इस केस में पहले ही 18 आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई कर चुकी है।

7 फरवरी के बाद नोएडा पुलिस ने इस मामले में यूपी के अलग-अलग शहरों से 18 लोगों को गिरफ्तार किया था। इन लोगों ने डेढ़ माह में करीब 400 करोड़ रुपए से ज्यादा के ट्रांजेक्शन किए थे। इनका सरगना दुबई से बैठकर यहां गेमिंग को ऑपरेट करता हुआ मिला था। इस ऐप का मालिक भिलाई निवासी सौरभ चंद्राकर है। उसके साथी रवि उप्पल को हफ्ते भर पहले UAE पुलिस ने हिरासत में लिया है।

नोएडा पुलिस ने महादेव ऐप के जरिए करोड़ों की ठगी करने वाले हिमांशु को अरेस्ट किया है।

नोएडा पुलिस ने महादेव ऐप के जरिए करोड़ों की ठगी करने वाले हिमांशु को अरेस्ट किया है।

पौने 2 करोड़ से ज्यादा रकम को पुलिस किया था फ्रीज

जिस समय नोएडा पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ा था, उससे दो महीने में 10 बैंकों के 26 फर्जी बैंक खातों में 4 अरब 5 करोड़ 91 लाख 90 हजार रुपए के ट्रांजेक्शन की जानकारी मिली थी। इन पैसों को दूसरे बैंक खातों में ट्रांसफर कर दिया गया था। बाकी 1 करोड़ 86 लाख से ज्यादा की रकम को पुलिस ने फ्रीज किया था।

पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत किया गिरफ्तार

पुलिस ने तरुण लखेरा, राहुल, अभिषेक, आकाश साहू, हिमांशु, अनुराग वर्मा, विवेक, दीपक, विशाल शर्मा, अभी रावत, दिव्य प्रकाश, हर्षित चौरासिया, आकाश तिवारी, नीरज गुप्ता, आकाश जोशी और दीपक को गिरफ्तार किया था। इसमें से हिमांशु बाहर आ गया था। पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए इसे गिरफ्तार किया।

महादेव ऐप का को-ऑनर रवि उप्पल UAE में पकड़ा गया

महादेव ऑनलाइन बेटिंग ऐप के सह संस्थापक रवि उप्पल को UAE पुलिस ने हिरासत में लिया था। रवि भारत में वांटेड है। रवि को जल्द ही भारत लाया जा सकता है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) के कहने पर इंटरपोल ने रवि उप्पल के खिलाफ पहले ही रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था। माना जा रहा है कि इसके बाद सौरभ चंद्राकर की गिरफ्तारी भी जल्द हो सकती है।

महादेव बेटिंग ऐप के सह-संस्थापक रवि उप्पल को UAE पुलिस ने हिरासत में लिया था।

महादेव बेटिंग ऐप के सह-संस्थापक रवि उप्पल को UAE पुलिस ने हिरासत में लिया था।

इन देशों में फैला है सट्टा ऐप का नेटवर्क

महादेव ऐप के ऑनर सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल हैं। दोनों ने दुबई से सट्टे का खेल शुरू किया, जो अब पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, श्रीलंका समेत 11 देशों तक फैल चुका है। वहां इसके पार्टनर सट्‌टे का खेल महादेव बुक, रेड़डी अन्ना और अंबानी बुक का संचालन कर रहे हैं। महादेव ऐप से रोजाना करीब 250 से 300 करोड़ रुपए की कमाई हो रही था।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में बना था मुद्दा

छत्तीसगढ़ के चुनावों में महादेव ऑनलाइन सट्टा ऐप केस बड़ा मुद्दा बना था। बीजेपी ने राज्य के मुख्यमंत्री को महादेव ऐप के जरिए करोड़ों रुपए मिलने का आरोप लगाकर चुनाव में जमकर घेरा था। चुनाव के दौरान बीजेपी ने अपने आरोप पत्र और बाद में घोषणा पत्र में भी महादेव सट्टा ऐप का जिक्र किया था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular