Saturday, July 20, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: 44 कबाड़ियों की 25 से ज्यादा दुकानें सील... चोरी के सामानों...

CG: 44 कबाड़ियों की 25 से ज्यादा दुकानें सील… चोरी के सामानों को खपाया जा रहा था, पुलिस की अलग-अलग 22 टीमों ने की कार्रवाई

दुर्ग: पुलिस ने 44 से अधिक कबाड़ियों पर कार्रवाई कर 25 से अधिक दुकानों को सील करवाईं है। शहर के अलग-अलग जगहों पर चोरी की बढ़ती घटनाओं के बाद कबाड़ की दुकानों में सामानों को खपाया जा रहा था। शिकायत के बाद पुलिस ने 22 अलग-अलग टीमें बनाकर कार्रवाई की गई।

इन टीमों में राजपत्रित अधिकारीयों से लेकर एसीसीयू प्रभारी और जिले के सभी शहरी थानों के अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को शामिल किया गया था। टीम में 14 निरीक्षक, 20 उप निरीक्षक, 25 सहायक उप निरीक्षक और 80 से अधिक प्रधान आरक्षक एवं आरक्षक शामिल थे।

बड़ी मात्रा में कबाड़ किया गया सील

बड़ी मात्रा में कबाड़ किया गया सील

इन टीमों ने 31 अगस्त की शाम 35 अलग-अलग टीमों में बंटकर औचक कार्रवाई की। टीमों ने जिले के शहरी थाना क्षेत्रांतर्गत अवैध कबाड़ियों के ठिकानों पर रेड किया। इस दौरान कुल 44 कबाड़ियों के गोदामों पर एक साथ दबिश दी गयी। कई जगह भारी मात्रा में लोहे के अवैध कबाड़ वाहनों के कटे हुए कलपूर्जे भी मिले। सेंटरिंग प्लेट, बीएसपी का सरिया, लोहा, ऐंगल सहित कुछ कवाड़ियों के यहां उद्योगों में बनने वाले जॉब वर्क भी पाए गए।

25 कबाड़ियों की दुकाने की गई सील

25 कबाड़ियों की दुकाने की गई सील

15 से अधिक काड़ियों को किया गया गिरफ्तार

कार्रवाई के दौरान दुर्ग पुलिस ने 15 से अधिक कबाड़ संचालकों को हिरासत में लिया है। इन सभी से पूछताछ की जा रही है। इस पूरी कार्रवाई की मॉनीटरिंग खुद एसपी दुर्ग ने की। इस दौरान जामुल थाना क्षेत्र के कबाड़ी राजू मंडले की दुकान से 1 ट्रक स्क्रैप जप्त किया गया। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

दुर्ग एसपी शलभ कुमार सिन्हा

दुर्ग एसपी शलभ कुमार सिन्हा

कबाड़ियों को बाउंडओवर करने की तैयारी
दुर्ग एसपी ने कार्रवाई के दौरान जिले के बड़े कबाड़ी नदीम, ललित, शाकिर, पाल कबाड़ी, राजू मंडले सहित दर्जनों कबाड़ियों की दुकानों को सील करने का आदेश दिया। उनका कहना है कि दुकान सील करने की कार्रवाई के बाद सभी अवैध कबाड़ संचालकों को प्रतिबंधित करते हुए बाउंडओवर कराने की तैयारी की जा रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular