Friday, April 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG News: संयुक्त संचालक ने दो शिक्षक को किया सस्पेंड... प्रधानपाठक ने...

CG News: संयुक्त संचालक ने दो शिक्षक को किया सस्पेंड… प्रधानपाठक ने BEO आफिस में की थी गालीगलौज, छात्राओं का घर तक पीछा करता था शिक्षक

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही: बिलासपुर के संयुक्त संचालक आरपी आदित्य ने प्रधान पाठक और एक शिक्षक को सस्पेंड कर दिया है। दोनों शिक्षकों के खिलाफ मिले शिकायत की जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की गई है। बता दें कि दोनों शिक्षकों को सस्पेंड अवधि में जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता रहेगी। वहीं दोनों को बीईओ कार्यालय गौरेला में अटैच कर दिया गया है।

दरअसल, बीईओ कार्यालय में पहुंचकर अधिकारियों और कर्मचारी से गाली गलौज कर मारपीट की धमकी देने और शासकीय काम में बाधा पहुंचाने वाले प्रधान पाठक होशेलाल टंडन और छात्राओं से मारपीट करने और स्कूल से घर तक उनका पीछा करने के मामले में शिक्षक मयंक शर्मा पर कार्रवाई की गई है।

प्रधान पाठक के सस्पेंड का जारी आदेश

प्रधान पाठक के सस्पेंड का जारी आदेश

प्रधान पाठक​​​​​​​ ने की थी अधिकारी-कर्मचारी से गाली गलौज

शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला हरिपुर विकासखंड गौरेला में पदस्थ प्रधान पाठक होशेलाल टंडन ने 29 दिसम्बर 2023 को बीईओ कार्यालय गौरेला में जाकर अधिकारी-कर्मचारी से गाली गलौज करते हुए मारपीट करने की धमकी दी थी। इसकी शिकायत गौरेला के बीईओ डॉ. संजीव शुक्ला ने जीपीएम जिला कलेक्टर प्रियंका ऋषि महोबिया से किया था।

कलेक्टर ने इस मामले की जांच कर होशेलाल टंडन को कारण बताओ नोटिस जारी कर उससे जवाब मांगा था। लेकिन समयावधि में जवाब पेश नहीं किया गया। जांच के बाद जिला कलेक्टर द्वारा 24 जनवरी 2024 को प्रधान पाठक​​​​​​​ होशेलाल टंडन खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने की अनुशंसा की गई थी।

शिक्षक मयंक शर्मा के सस्पेंड का नोटिस जारी

शिक्षक मयंक शर्मा के सस्पेंड का नोटिस जारी

छात्राओं का करता था पीछा

पूर्व माध्यमिक शाला कन्या सारबहरा में पदस्थ शिक्षक मयंक शर्मा के खिलाफ शिकायत मिली थी कि शिक्षक मयंक शर्मा छात्राओं के साथ मारपीट करते हैं। वे स्कूल भी देरी से आते हैं और दिया गया सब्जेक्ट भी नहीं पढ़ाते हैं। इसके अलावा प्रधान पाठक के निर्देशों का पालन नहीं करते बल्कि उन्हें जान से मारने की धमकी भी देते हैं।

इतना ही नहीं शाला प्रबंधन समिति के सदस्यों द्वारा मयंक शर्मा पर आरोप लगाया गया था कि वे छात्राओं से गलत हरकत करते हैं और स्कूल से उनके घर तक पीछा करते हैं। उपरोक्त शिकायत की जांच के बाद डीईओ जेके शास्त्री के जांच प्रतिवेदन के आधार पर शिक्षक मयंक शर्मा को संयुक्त संचालक के द्वारा सस्पेंड कर उन्हें बीईओ कार्यालय गौरेला में अटैच कर दिया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular