Wednesday, February 28, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: फेंसिंग वायर में फंसी मादा भालू.. अब उसकी भी मौत; शावक...

CG: फेंसिंग वायर में फंसी मादा भालू.. अब उसकी भी मौत; शावक ने मौके पर तोड़ा था दम, गंभीर चोट की वजह से मां की भी जान गई

रायगढ़: जिले के तमनार वन परिक्षेत्र के कर्मागढ़ में होली के दिन मादा भालू और उसका शावक प्लांटेशन के फेंसिंग तार में फंस गए थे। जहां शावक की तो मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं मादा भालू का इलाज जारी था। इसी बीच मादा भालू की भी मौत हो गई है। जिसके बाद वन विभाग के द्वारा मृत भालू का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, होली की सुबह एक मादा भालू और उसका शावक कर्मागढ़ में लगे फेंसिंग तार में फंस गए थे। इस घटना में शावक की मौके पर ही मौत हो गई थी। लेकिन मादा भालू के जबड़े और पैर में गंभीर चोट लगने को वजह से ग्रामीणों के सहयोग से मादा भालू को तार से निकालते हुए इंदिरा विहार में लाकर उसका उपचार किया जा रहा था। इसी बीच शुक्रवार की रात उसकी भी मौत हो गई।

8 दिन में 3 वन्य प्राणी की मौत

यूं तो रायगढ़ जिले के जंगलों में कई प्रकार के वन्य प्राणी विचरण करते हैं, यहां अलग अलग वन परिक्षेत्रों में आये दिन वन्य प्राणियों की मौत की खबरे अक्सर सामने आते रहती है। हाल फिलहाल की बात करें तो 4 मार्च को रायगढ़ वनपरिक्षेत्र के संबलपुरी मार्ग में अज्ञात वाहन की ठोकर से एक चीतल की मौत हो चुकी है। वहीं अब तमनार वन परिक्षेत्र में 2 भालू की मौत की घटना को मिलाकर महज 8 दिनों में अब तक 3 वन्य प्राणियों की मौत हो चुकी है।

अवैध शिकार की घटनाएं भी जारी

चारो तरफ से जंगलों से घिरे रायगढ़ जिले के जंगलों में एक लंबे समय से वन्यप्राणियों के अवैध शिकार के मामले लगातार सामने आते रहे हैं, कई मामलों में आरोपी आज जेल में सजा भी काट रहे हैं। कई बार जानवरों के लिए बिछाए गए जाल में फंसकर इंसानों की मौत की घटनाएं भी सामने आ चुकी है। होली के दिन भी भालू शावक की मौत के बाद कर्मागढ़ के ग्रामीणों ने बताया था कि किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा खरगोश या फिर जंगली सुअर के लिए जाल बिछाया गया था, जिसमें भालू फंसे और उसके बाद फेंसिंग तार में फंसे थे। मौके पर तीर के कुछ टुकड़े भी मिले थे। जिससे यहां अवैध शिकार के पुख्ता प्रमाण मिले चुके हैं।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular