Friday, April 19, 2024
Homeकांकेरछत्तीसगढ़ की साय सरकार 'अमृतकाल की नींव' का बजट: GREAT CG की...

छत्तीसगढ़ की साय सरकार ‘अमृतकाल की नींव’ का बजट: GREAT CG की थीम पर किया गया तैयार; वित्तमंत्री चौधरी के ब्रीफकेस पर ‘ढोकरा शिल्प की झलक’

रायपुर: छत्तीसगढ़ की साय सरकार अपना पहला बजट पेश कर रही है। बजट को अमृतकाल के नींव का बजट और GREAT CG की थीम पर तैयार किया गया है। इसके जरिए केंद्र सरकार के अमृत काल को भी प्रोजेक्ट करने का प्रयास किया गया है।

वित्त मंत्री ओपी चौधरी जिस ब्रीफकेस में बजट लेकर पहुंचे हैं, उस पर छत्तीसगढ़ के आदिम जनजाति कला की पहचान ‘ढोकरा शिल्प’ की झलक दिखाई दे रही है। इस पर भारत माता और छत्तीसगढ़ महतारी की तस्वीर भी बनी है। इसके जरिए विकसित भारत और विकसित छत्तीसगढ़ की परिकल्पना की गई है।

बजट को अमृतकाल की नींव का दिया गया नाम। इस पर छत्तीसगढ़ महतारी और भारत माता की तस्वीर।

बजट को अमृतकाल की नींव का दिया गया नाम। इस पर छत्तीसगढ़ महतारी और भारत माता की तस्वीर।

6 बिंदुओं के समेटे हुए है प्रदेश का बजट

ब्रीफकेस पर अमृतकाल के नींव का बजट लिखा हुआ है। यह यह दर्शाता है कि केंद्र की सभी योजनाओं का लाभ प्रदेश की जनता को निरंतर मिलता रहेगा। साथ ही ब्रीफकेस के पीछे GREAT CG लिखा है जो Guarantee, Reform, Economic Growth, Achievement, Technology, Сарех और Good Governance को दर्शाता है।

विकसित भारत में छत्तीसगढ़ का महत्वपूर्ण योगदान

ब्रीफकेस में दर्शाई गई तस्वीरों के जरिए बताया गया है कि विकसित भारत निर्माण में छत्तीसगढ़ प्रदेश का योगदान बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा। छत्तीसगढ़ शासन का लोगो जिसमें धान की बाली है, यह दर्शाती है कि यह किसान हितैषी सरकार है और किसानों के हित को सदैव प्राथमिकता में रखेगी।

बजट पर साइन करते वित्तमंत्री ओपी चौधरी।

बजट पर साइन करते वित्तमंत्री ओपी चौधरी।

छत्तीसगढ़ को स्वर्णिम राज्य के रूप में करेंगे स्थापित

इस ब्रीफकेस में छत्तीसगढ़ के मैप को स्वर्णिम रूप में दर्शाया गया है, जो ये बताता है कि सरकार सुशासन के साथ छत्तीसगढ़ के युवा, महिला और किसानों की आय में वृद्धि करने के उद्देश्य के साथ कार्य करेगी। छत्तीसगढ़ राज्य को देश में एक स्वर्णिम राज्य के रूप मे स्थापित करेगी।

बजट में मोदी की गारंटी

साय सरकार अपने पहले बजट के जरिए ये बताना चाहती है कि, यह सरकार मोदी की गारंटी को पूरा कर सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास व सबका प्रयास के सिद्धांतों पर चलकर छत्तीसगढ़ की जनता के विकास के प्रति पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

इस बार भी पेपर लेस बजट

छत्तीसगढ़ में इस बार भी पेपर लेस और डिजीटल बजट पेश किया जाएगा। इससे पहले भूपेश सरकार ई-बजट पेश कर चुकी है। भूपेश बघेल ने गोबर के ब्रीफकेस का इस्तेमाल बजट पेश किया था। ऐसा करने वाला छत्तीसगढ़ पहला राज्य था। इस ब्रीफकेस पर संस्कृत में ‘गोमय वसते लक्ष्मी’ लिखा था, जिसका अर्थ गोबर में लक्ष्मी का वास होता है।

देश में पहली बार गोबर के ब्रीफकेस में लाया गया था बजट

देश में ऐसा पहली बार है जब किसी मुख्यमंत्री ने बजट लाने लिए गोबर से बने ब्रीफकेस का इस्तेमाल किया है। आम तौर पर इससे पहले अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्री चमड़े या जूट से बने ब्रीफकेस का इस्तेमाल बजट की प्रति लाने के लिए करते रहे हैं। इस ब्रीफकेस को रायपुर गोकुल धाम गौठान में काम करने वाली महिला स्वंय सहायता समूह ‘एक पहल’ की महिलाओं ने तैयार किया है।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular