Sunday, May 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: CG न्यूज़- गुब्बारे फुलाते समय सिलेंडर फटा, युवक का...

BCC News 24: CG न्यूज़- गुब्बारे फुलाते समय सिलेंडर फटा, युवक का पैर कटा.. रायगढ़ के नटवर स्कूल के मैदान में हादसा, अग्रसेन जयंती समारोह की चल रही थी तैयारी

छत्तीसगढ़: रायगढ़ में शनिवार दोपहर नटवर स्कूल परिसर में हाइड्रोजन सिलेंडर फट जाने से गुब्बारा फुलाने वाले का एक पैर शरीर से अलग होकर 10 फीट दूर जा गिरा। हादसे में स्कूल के बच्चे बाल-बाल बच गए। इधर गुब्बारा फुलाने वाला युवक सुशील पटेल जमीन पर गिरकर तड़पने लगा। घटना की तुरंत पुलिस को खबर की गई। मौके पर पहुंची पुलिस अलग हो चुके पैर को पॉलीथिन में रखकर घायल को अस्पताल लेकर गई। स्कूल मैदान में अग्रसेन जयंती समारोह मनाया जाना है। इसकी सजावट के लिए यहां गुब्बारे लगाए जा रहे थे, तभी यह हादसा हुआ।

एडिशनल एसपी लखन पटले ने कहा कि गुब्बारा फुलाने का काम बेहरापाली गांव के रहने वाले सुशील पटेल को दिया गया था। शनिवार को सुबह से ही सुशील पटेल गुब्बारा फुलाने के काम में लग गया था। नटवर स्कूल प्रांगण में वह हाइड्रोजन गैस सिलेंडर से गुब्बारे फुला रहा था, इसी बीच सिलेंडर ब्लास्ट हो गया। फिलहाल उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। उसके साथी को भी मामूली चोट आई है। दोनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अग्रवाल समाज के सदस्य सुरेश गोयल ने कहा कि युवक के इलाज का पूरा खर्च समाज द्वारा वहन किया जाएगा।

पुलिस घायल को लेकर गई अस्पताल।

पुलिस घायल को लेकर गई अस्पताल।

इधर स्कूल के बच्चे जो लंच की छुट्टी होने पर बाहर ही घूम रहे थे, उनकी जान बच गई। अगर वे गुब्बारा फुलाने वाले के पास होते, तो एक बड़ा हादसा हो सकता था। नटवर स्कूल परिसर में सिलेंडर फटने की घटना की जांच के लिए कलेक्टर रानू साहू ने 3 सदस्यीय समिति गठित की है। एसडीएम रायगढ़ गगन शर्मा, खाद्य अधिकारी चितरंजन सिंह और जिला शिक्षाधिकारी आरपी आदित्य को जांच का जिम्मा सौंपा गया है।

जिले में 10 दिवसीय अग्रसेन जयंती समारोह के पहले दिन ही ये हादसा हो गया। गुब्बारा फुलाने का काम दो लोग कर रहे थे। मैदान में 4 सिलेंडर रखे थे। इनमें से 2 सिलेंडर से गुब्बारा फुलाया जा रहा था।

धमाके के बाद क्षतिग्रस्त सिलेंडर।

धमाके के बाद क्षतिग्रस्त सिलेंडर।

धमाके से टूटी खिड़कियों की कांच

दोपहर करीब 2 बजे तेज धमाके के साथ सिलेंडर फटा। ब्लास्ट इतना जोरदार था कि स्कूल की खिड़कियों में लगे कांच भी टूट गए। वहीं सिलेंडर भी दो टुकड़ों में बंट गया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular