Friday, April 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़उप सरपंच ने पुजारी की नाबालिग बेटी से रेप किया... लड़की के...

उप सरपंच ने पुजारी की नाबालिग बेटी से रेप किया… लड़की के पिता बोले- अश्लील फोटो-वीडियो वायरल करने की धमकी दी, इसलिए बेटी ने सुसाइड किया

राजस्थान/उदयपुर: उप सरपंच और उसके 2 अन्य साथियों ने नाबालिग लड़की से रेप किया। इसके बाद उसके मोबाइल पर उसका अश्लील वीडियो और फोटो भेजकर उसे ब्लैकमेल करने लगे। इससे वह इतनी परेशान हो गई कि सुसाइड कर लिया। लड़की के मोबाइल की परिवार वालों ने जांच की तो होश उड़ गए। मोबाइल में लड़की के अश्लील फोटो और वीडियो भेजे गए थे। घर वालों ने उप सरपंच सहित उसके 2 अन्य साथियों के खिलाफ रेप और सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। मामला उदयपुर के सायरा इलाके का है।

5 अगस्त को किया था सुसाइड

सायरा थानाधिकारी प्रवीण सिंह ने बताया- 5 अगस्त को सायरा थाना क्षेत्र के एक गांव में 16 साल की लड़की ने सुसाइड कर लिया था। वह 10वीं की स्टूडेंट थी। लड़की के पिता गांव के ही मंदिर पर पुजारी हैं। पिता ने रिपोर्ट में बताया है कि 5 अगस्त को बेटी ने जहर खा लिया था। पड़ोसियों से जानकारी मिली कि उनकी बेटी बाड़े में बेहोश पड़ी है। आनन-फानन में उसे हॉस्पिटल ले जा रहे थे। रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। अगले दिन 6 अगस्त को संदिग्ध मौत को लेकर सायरा थाने में रिपोर्ट दी थी। इस रिपोर्ट में रेप का जिक्र नहीं था।

मोबाइल देखकर उड़े होश

8 अगस्त को लड़की के पुजारी पिता ने थाने में दूसरी रिपोर्ट दी। इसमें पिता ने उप सरपंच शंकर सिंह पुत्र नाथू सिंह राजपूत, दीपक (20 ) पुत्र हरीश सुथार और तखतराम (25) पुत्र नवलराम गायरी के खिलाफ रेप और सुसाइड के लिए उकसाने का मामला दर्ज करवाया। पिता ने रिपोर्ट में कहा- 7 अगस्त को लड़की का मोबाइल देखा गया। उसमें लड़की के अश्लील वीडियो और फोटो मिले। ये वीडियो और फोटो इन्हीं तीनों आरोपियों ने भेजे थे। वीडियो-फोटो वायरल करने की बार-बार धमकी भी दी गई थी।

राष्ट्रीय महिला आयोग की ओर से ये ट्वीट किया गया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की ओर से ये ट्वीट किया गया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने डीजीपी से मांगी रिपोर्ट

बुधवार को राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस केस का संज्ञान लिया है। आयोग ने इस मामले को लेकर ट्वीट किया है। इसके बाद यह मामला सबके सामने आया है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने ट्वीट किया- उदयपुर में नाबालिग के साथ हुए रेप और हत्या वाले घटना को लेकर आहत हैं। राजस्थान में महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ रहे हैं। इस मामले में डीजीपी को लेटर लिख 5 दिन में रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है।

‘उदयपुर की बेटी मांगे इंसाफ’.. ट्विटर पर ट्रेंड किया

8 अगस्त को मामला दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने अब तक कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं की है। इसके बाद से हैश टैग उदयपुर की बेटी मांगे इंसाफ ट्रेंड कर रहा है। यूजर नाबालिग के आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। उधर, पुलिस का अलग ही तर्क है। थानाधिकारी प्रवीण सिंह ने कहा- पोस्टमॉर्टम में रेप की पुष्टि नहीं हुई है। मेडिकल बोर्ड ने यह पोस्टमॉर्टम किया था। पॉक्सो व सुसाइड के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular