Sunday, May 26, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाचरित्र शंका में पत्नी की गला घोंटकर हत्या... पड़ोसी के घर जाने...

चरित्र शंका में पत्नी की गला घोंटकर हत्या… पड़ोसी के घर जाने से किया था मना, नहीं मानी तो सनकी ने मार डाला

दुर्ग: जिले के भिलाई में बीती एक जनवरी को मंशा देवी (28 साल) की संदेहास्पद मौत के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस की जांच में सामने आया है कि मंशा की मौत कोई दुर्घटना नहीं बल्कि हत्या थी। उसकी हत्या उसके पति राजेश कुमार ने की है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा है।

एएसपी सिटी अभिषेक झा ने बताया कि छावनी थाना अंतर्गत सुंदर नगर तालाब के पास कैंप 1 निवासी राजेश कुमार उर्फ राजू (34 साल) ने अपनी पत्नी मंशा देवी को गंभीर हालत में शासकीय अस्पताल सुपेला पहुंचाया था। वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। डॉक्टरों ने मर्ग मेमो रिपोर्ट छावनी थाने भेजी। छावनी पुलिस ने शव को पंचनामा कार्रवाई के बाद पीएम के लिए भेजा।

छावनी पुलिस स्टेशन

छावनी पुलिस स्टेशन

पुलिस ने मर्ग जांच के दौरान जब मंशा के पति राजेश से पूछताछ की तो उसने बताया कि वो बच्चों को स्कूल लेने के लिए गया था। उसकी पत्नी मंशा घर में थी। जब वो बच्चों को लेकर घर पहुंचा तो देखा कि मंशा पलंग पर बेहोश पड़ी है। इसके बाद उसने उसे अस्पताल पहंचाया जहां उसे मृत बताया गया।

मंशा के माता पिता ने जताई थी हत्या की आशंका

पुलिस ने बताया कि मंशा के परिजनों को जब इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने पुलिस से उनके आने पर ही अंतिम संस्कार करने का निवेदन किया। इसके बाद पुलिस ने 4 दिसंबर को मंशा के मायके वालों के उत्तर प्रदेश से आने के बाद पोस्टमार्टम कराया और शव उनके सुपुर्द किया। परिजनों उस दौरान आरोप लगाया कि उनकी बेटी की हत्या की गई है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुई मारपीट करने पुष्टि

पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने शार्ट पीएम रिपोर्ट भी लिया। उसमें हेड इंजरी के साथ ही यह बात सामने आई की मंशा के साथ मारपीट की गई थी। जब पुलिस ने पूछताछ की तो यह सच्चाई पता चली कि राजेश अक्सर मंशा के साथ मारपीट करता था। एक जनवरी की सुबह मंशा अपने पड़ोस के घर गई थी। उस बात को लेकर भी राजेश ने उसे झगड़ा करते हुए मारपीट की थी।

सख्ती से पूछताछ करने पर पति ने कबूला जुर्म

पुलिस ने जब आरोपी राजेश को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसको अपनी पत्नी के चरित्र पर शक था। घटना के दिन भी उसने उसे पड़ोसी के घर जाने से मना किया था, वो नहीं मानी इसलिए मारपीट किया। वो इतने गुस्से में आ गया था कि उसने मंशा का गला दबाया और उसका सिर जोर से दीवार पर टकरा दिया। सिर पर अधिक चोट आने से उसकी मौत हो गई। इसके बाद उसने खुद को बचाने के लिए गलत कहानी पुलिस को बताई।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular