Friday, April 19, 2024
Homeगरियाबंदपोतों ने की दादी की हत्या: धान बेचने को लेकर हुआ था...

पोतों ने की दादी की हत्या: धान बेचने को लेकर हुआ था विवाद, दादा ने दोनों आरोपियों को पकड़वाया

गरियाबंद/ गरियाबंद जिले में 2 पोतों ने मिलकर अपनी दादी की बेरहमी से हत्या कर दी। अपनी पत्नी की मौत के बाद दादा ने पुलिस को सारा सच बयां कर दिया। दादा ने आरोपी पोतों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया, जिसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामला पांडुका थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, पांडुका थाना क्षेत्र के अतरमर गांव में साधुराम निषाद अपने बेटे और पोतों के साथ रहता था। शुक्रवार को साधु राम की पत्नी और भूपेन्द्र व लोकेश निषाद का अपनी दादी धुस्सा बाई के साथ विवाद हुआ। घर में रखे 10 कट्ठा धान को बेचने की बात भूपेंद्र और लोकेश ने कही थी, जिसके लिए दादी ने मना कर दिया था।

आरोपी पोते भूपेन्द्र और लोकेश निषाद।

आरोपी पोते भूपेन्द्र और लोकेश निषाद।

दादी की इनकार सुनकर दोनों पोते नाराज हो गए। धीरे-धीरे बात इतनी बढ़ गई कि गुस्से में आकर पोतों ने अपनी ही दादी पर लात-मुक्कों और हाथ से इतने वार किए कि उसकी तबीयत बिगड़ गई। गंभीर रूप से घायल महिला को नयापारा राजिम अस्पताल रेफर किया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

मृतक दादी धुस्सा बाई।

मृतक दादी धुस्सा बाई।

डॉक्टरों ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में शरीर और सिर पर आई गंभीर चोटों के कारण मौत का होना बताया। इसके आधार पर पांडुका थाना प्रभारी ने गांव में पहुंचकर परिवार से पूछताछ की। तब उसके दादा ने पुलिस को सारी बात बताई। दादा ने कहा कि दोनों पोतों ने मिलकर 10 कट्ठा धान बेचने पर हुए विवाद के चलते अपनी ही दादी के साथ बेरहमी से मारपीट की थी। गंभीर हालत में उसे इलाज के लिए नयापारा राजिम अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

पांडुका पुलिस ने दोनों पोतों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। दोनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular