Wednesday, April 24, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: BIG न्यूज़- पत्नी की खुदकुशी के दो-दिन बाद तालाब...

BCC News 24: BIG न्यूज़- पत्नी की खुदकुशी के दो-दिन बाद तालाब में कूदा पति.. सुसाइड नोट में लिखा- ससुरालवालों ने बदनाम कर दिया

मध्यप्रदेश: भोपाल में लेडी टीचर के सुसाइड के तीसरे दिन उनके म्यूजिक टीचर पति ने भी खुदकुशी कर ली। शनिवार को पति ने बड़े तालाब में राजाभोज स्टैच्यू के पास से छलांग लगा दी। उन्होंने एक सुसाइड नोट छोड़ा है। इसमें सुसाइड करने के लिए ससुर और साले को जिम्मेदार बताया है। बता दें, टीचर इंदू साहू ने दो दिन पहले सुसाइड कर लिया था। इसके बाद पति सुभाष साहू ने जान दे दी।

सुभाष ने सुसाइड नोट में लिखा- मेरी मौत का कारण साला प्रदीप साहू, ससुर मदनलाल साहू हैं। इन्होंने मेरे परिवार को बदनाम कर दिया। मैं उनके घर की इज्जत बचाने में लगा रहा और उन्होंने मेरे घर की बदनामी की। मुझे और मेरे परिवार को बदनाम किया। तलैया थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

भोपाल के शिवनगर, छोला निवासी सुभाष साहू (39) म्यूजिक टीचर थे। गुरुवार को उनकी पत्नी इंदू साहू (37) ने खुदकुशी कर ली थी। इंदू के भाई और पिता ने दामाद को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया था। सुभाष शनिवार सुबह घर से बाइक से निकले थे। उन्होंने VIP रोड स्थित राजा भोज की प्रतिमा के पास से बड़े तालाब में कूदकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से उनका शव पानी से बाहर निकाला। तब तक काफी देर हो चुकी थी। सुभाष की बाइक पुलिस को VIP रोड पर राजा भोज प्रतिमा के पास मिली है।

सुसाइड नोट में लिखा- उनकी इज्जत अभी तक बचाता रहा…

मेरी मौत का कारण प्रदीप साहू, ससुर मदन लाल साहू हैं। इन्होंने मेरे परिवार को बदनाम कर दिया है। मैं उनके घर की इज्जत बचाने में लगा रहा और उन्होंने मेरे घर की बदनामी की। मुझे और मेरे परिवार को बदनाम किया। मुझे मानसिक यंत्रणा दी। यदि ये मेरे परिवार के खिलाफ कुछ भी करते हैं, तो मेरी मौत का कारण यही लोग माने जाएं। मेरी सास यमुना बाई, जीजी रामेश्वर साहू…। बाकी मैंने एक लेटर डिटेल में लिखा है, जो आपको बाद में मिल जाएगा। इसमें मैंने सारी सच्चाई लिख दी है… उनकी इज्जत, जो मैं अभी तक बचा रहा था..।

सुभाष ने ये सुसाइड नोट छोड़ा है।

सुभाष ने ये सुसाइड नोट छोड़ा है।

ससुर-साले के आरोपों से आहत हुआ

सुभाष के दोस्तों ने बताया कि पत्नी की मौत के बाद उसके ससुरालवालों ने उसके चरित्र को लेकर मनगढ़ंत आरोप लगाए। इससे वह टूट गया। अपने दोस्तों से सुभाष ने बताया था कि ससुराल वाले उसके घरवालों को बदनाम कर रहे हैं। सुभाष ने कई बार ससुरालवालों को समझाने का प्रयास भी किया, लेकिन किसी ने समझा ही नहीं।

भाई बोला- ससुरालवालों ने सुभाष को पीटा था

सुभाष के बड़े भाई संजय ने बताया कि इंदू के परिवारवालों ने भाई के साथ मारपीट की थी। उनके बुजुर्ग पिता को मारा। घर से जेवर, सामान लेकर चले गए। शुक्रवार सुबह मेरे भांजे को भानपुर में बुलाया। इसके बाद उसे गाड़ी से टक्कर मारकर भाग गए। मेरे भाई को उसके ससुरालवालों ने इस तरह प्रताड़ित किया कि उसने खुदकुशी कर ली।

पत्नी ने हथेली में लिखा था- मेरा मंगल, मेरी जान ले गया…

सुभाष की शादी गैरतगंज (रायसेन) की इंदू साहू (37) से 3 साल पहले हुई थी। इंदू सरकारी स्कूल में गेस्ट टीचर थीं। इंदू ने ससुराल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। उन्होंने पति के फोटो के पीछे लिखा था- मैं बेवफा नहीं हूं। हथेली पर लिखा था- मैं अपनी मर्जी से जान दे रही हूं। मम्मी-पापा, भैया सॉरी… मेरा मंगल मेरी जान ले गया।

टीचर की हथेली पर सुसाइड नोट लिखा मिला था। मायकेवालों का आरोप है कि यह ससुरालवालों की ही करतूत है।

टीचर की हथेली पर सुसाइड नोट लिखा मिला था। मायकेवालों का आरोप है कि यह ससुरालवालों की ही करतूत है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular