Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: CG न्यूज़- डेढ़ घंटे की मूसलाधार बारिश में ही पूरा...

BCC News 24: CG न्यूज़- डेढ़ घंटे की मूसलाधार बारिश में ही पूरा शहर हुआ जलमग्न.. कलेक्टर बंगले समेत सैकड़ों घरों में घुसा पानी; कई मोहल्ले एवं रिहायशी इलाकों की गलियां हुई लबालब, निकासी की व्यवस्था नहीं, निगम का ड्रेनेज सिस्टम फेल, जिला प्रशासन में मची खलबली

छत्तीसगढ़: बिलासपुर में गुरुवार की शाम हुई मूसलाधार बारिश से कलेक्टर बंगले सहित सैकड़ों घरों में नाले का पानी घुस गया। कलेक्टर बंगले में पानी निकालने के लिए निगम की टीम जुट गई है और मोटर लगाकर पानी निकाला जा रहा है। इधर, शहर के मेन रोड और रिहायशी इलाकों की गलियां लबालब हो गई। डेढ़ घंटे की बारिश से निगम की घोर अव्यवस्था और ड्रेनेज सिस्टम का फेलियर सामने आ गया। राजेंद्र नगर, अज्ञेय नगर, विनोबा नगर, विद्यानगर, मगरपारा, मंझवापारा, मित्र विहार कॉलोनी और सरकंडा क्षेत्र के साथ ही दर्जनों कॉलोनियों में बारिश का गंदा पानी गलियों में नदी की तरह बहते हुए घरों तक पहुंच गया।

इस बारिश में ऐसे कई इलाकों, सड़कों में पानी भर रहा है, जहां आज तक जलभराव की समस्या नहीं थी। इसमें व्यापार विहार की स्मार्ट रोड, नर्मदा नगर, नेहरू नगर जैसे कई इलाके शामिल हैं। नगर निगम की पूरी पानी निकासी की व्यवस्था ठप हो गई है। रिंग रोड दो पर बनी पत्रकार कॉलोनी में इतना पानी भरा कि पास स्थित जतिया तालाब की मेड़ तोड़कर पानी उस तक ले जाना पड़ा। करीब 2 घंटे हुई भीषण बारिश से हजारों लोग फंसे रहे। बारिश कम होने के बाद भी सड़कों पर भरे पानी के कारण कामकाजी लोग अपने घर तक पहुंचने के लिए मशक्कत करते रहे। सड़कों में भरे पानी में वाहन आधे से ज्यादा डूबकर खराब भी हुए। बारिश के कारण शहर के अधिकांश हिस्सों में लाइट भी बंद रही।

मूसलाधार बारिश के बाद सड़कों में लबालब पानी भर गया।

मूसलाधार बारिश के बाद सड़कों में लबालब पानी भर गया।

गुरुवार की शाम करीब साढ़े पांच बजे झमाझम बारिश शुरू हुई। करीब 2 घंटे तक लगातार मूसलाधार बारिश से राजेंद्र नगर में कलेक्टर बंगला के साथ ही जेल रोड, मिशन हॉस्पिटल रोड, पुराना बस स्टैंड से लेकर अग्रसेन चौक, देवकीनंदन चौक, सरकंडा के अशोक नगर बंधवापारा, शिवम होम्स, चौबे कॉलोनी, स्मार्टसिटी रोड तक मुख्य मार्ग में पानी भर गया। इसी तरह श्रीकांत वर्मा मार्ग, मित्र विहार कॉलोनी, हंसा विहार, विद्यानगर विनोबा नगर, महाराणा प्रताप चौक, व्यापार विहार मंगला, मंझवापारा, बंधवारापारा, तोरवा सहित सभी इलाकों में नाली से ऊपर सड़कों में पानी बहने लगा। देखते ही देखते नाले का पानी घरों में भर गया।

शहर में कुछ इस तरह बारिश का नजारा देखने को मिला।

शहर में कुछ इस तरह बारिश का नजारा देखने को मिला।

कलेक्टर बंगला पहुंचा निगम का अमला
देर शाम कलेक्टर बंगले में बारिश का पानी भरने की खबर मिलते ही कमिश्नर सहित अफसर वहां पहुंच गए। यहां पानी निकालने के लिए निगम की टीम जुटी हुई है और वॉटरपंप लगाया गया है। दरअसल, बंगले में नाले का पानी घुस गया है और निकासी की व्यवस्था नहीं है।

कलेक्टर बंगला में पानी निकालने के लिए निगम का अमला जुटा रहा।

कलेक्टर बंगला में पानी निकालने के लिए निगम का अमला जुटा रहा।

सर्किट हाउस में रह रहे कलेक्टर सौरभ कुमार
हाल ही में हुए कलेक्टरों के तबादले के बाद IAS सारांश मित्तर रायपुर चले गए हैं। लेकिन, उन्होंने बंगला खाली नहीं किया है। इसके चलते नवपदस्थ कलेक्टर सौरभ कुमार अभी सर्किट हाउस में रह रहे हैं। कलेक्टर बंगले में पानी भरने की खबर से जिला प्रशासन के अफसरों में खलबली मच गई है।

कलेक्टर बंगले के बाहर भी लबालब पानी भर गया।

कलेक्टर बंगले के बाहर भी लबालब पानी भर गया।

शहर में कहीं नहीं है पानी निकासी की व्यवस्था
नगर निगम ने जल भराव की समस्या से निपटने नालियों के निर्माण करने का दावा किया है। वहीं, 110 नालियों की सफाई में भी लाखों रुपए खर्च किया गया है। मेयर रामशरण यादव अलग-अलग मोहल्लों में जाकर नाले की सफाई कराने का दावा करते रहे। लेकिन, बारिश के बाद फिर से सभी इलाके जलमग्न हो गए और पानी निकासी की व्यवस्था फेल साबित हो गई।

शहर के प्रमुख मार्गों में भी नाली का पानी भर गया।

शहर के प्रमुख मार्गों में भी नाली का पानी भर गया।

बारिश में चल रहा नाली निर्माण
कश्यप कॉलोनी, मंझवापारा सहित शहर के कई जगहों में बारिश के बीच नाला निर्माण चल रहा है और काम अधूरा पड़ा है। मगरपारा, मंगला, सरकंडा सहित कई मोहल्लों में नाली निर्माण चल रहा है। मानसून के पहले ही नाली निर्माण पूरा हो जाना था, लेकिन ठेकेदारों की मनमानी के चलते अब भी काम चल रहा है।

स्मार्ट सिटी रोड में भी नहीं है नाले का इंतजाम
मंझवापारा और अज्ञेय नगर में बारिश शुरू होते ही गलियों में पानी भर गया। यहां स्मार्ट सिटी में पानी निकाली की व्यवस्था नहीं है, जिसके चलते नाली का पानी सड़क में आ गया। बताया गया कि व्यापार विहार इलाके के नाले का पानी कॉलोनियों में जा रहा है। यहां नाली का पानी घरों के भीतर बैक हो गया। इससे घरों के अंदर गंदगी, कीड़े-कचरा आ गया।

कॉलोनियों की गलियों में तीन फीट पानी आ गया।

कॉलोनियों की गलियों में तीन फीट पानी आ गया।

स्कूलों में भरा पानी
बारिश के बाद सरकंडा के बंधवापारा के साथ ही दयालबंद स्थित स्कूल में पानी भर गया। ऐसे में अब रात तक पानी निकाली नहीं हुआ तो शुक्रवार को स्कूली बच्चों की छुट्‌टी करनी पड़ेगी।

बिरकोना खार से आया पानी, जोरापारा में भरा पानी
पिछले दिनों हुई बारिश के बाद खेतों से लगातार पानी आ रहा है। बिरकोना खार का पानी सरकंडा क्षेत्र के बंधवापारा तरफ से पहुंच रहा है। इसके चलते बंधवापारा, जोरापारा, अशोक नगर इलाके में नाले ऊफान पर है और सड़कों और कॉलोनियों में पानी भर गया है।

शहर में हर तरफ सड़कें व गलियां लबालब हो गई।

शहर में हर तरफ सड़कें व गलियां लबालब हो गई।

यातायात ठप, जगह-जगह लगा जाम
बारिश के बीच चौक-चौराहों व मेन रोड में पानी भरने के बाद वाहनों की कतार लग गई। पुराना बस स्टैंड में चार फीट तक पानी भर गया। इसी तरह अशोक नगर चौक व्यापार विहार, देवकी नंदन चौक, गोलबाजार में जगह-जगह पानी भरने के बाद वाहनों की कतार लगी रही। इसके चलते जाम से लोग हलाकान रहे।

कलेक्टर बंगला में पानी भरा तब, अफसर छाता लेकर निकल गए।

कलेक्टर बंगला में पानी भरा तब, अफसर छाता लेकर निकल गए।

शहर में रूलाती रही बिजली
बारिश के दौरान शाम से लेकर देर रात तक बिजली बार-बार आती जाती रही। इसके चलते शहर में ब्लैक आउट की स्थिति बन गई। सरकंडा, मंगला, PGBT कॉलेज सबस्टेशन में तकनीकी खामी बताकर बिजली बंद कर दिया गया था। बारिश के बीच घरों में पानी भरने और बिजली गुल होने से लोग परेशान होते रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular