Tuesday, July 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़कवर्धा: एक ही दिन में नेशनल लोक अदालत में 2400 से अधिक...

कवर्धा: एक ही दिन में नेशनल लोक अदालत में 2400 से अधिक प्रकरणों का निराकरण…

कवर्धा: छत्तीसगढ़ राज्य में तालुका न्यायालय के स्तर से लेकर उच्च न्यायालय स्तर तक सभी न्यायालयों में शनिवार 9 सितम्बर को नेशनल लोक अदालत का आयोजित किया गया। कबीरधाम जिले के जिला न्यायाधीश, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष श्रीमती सत्यभामा अजय दुबे द्वारा उक्त नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ विद्या की देवी सरस्वती जी के फोटोचित्र पर पूजा/अर्चना करते हुए दीप प्रज्जवलित कर किया गया। तत्पश्चात् अन्य न्यायाधीशगण, उपस्थित पक्षकारगण एवं अधिवक्तागण तथा अन्य संस्थाओं के अधिकारियों द्वारा भी दीप प्रज्जवल किया गया।

उक्त लोक अदालत में राजीनामा योग्य समस्त प्रकृति के प्रकरण रखे गए थे,जिनमें से 1038 प्रकरणों का निराकरण किया गया। मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के प्रकरणों में माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती सत्यभामा दुबे
द्वारा कुल 11 प्रकरण का निराकरण करते हुए 47,90,000/- की अवार्ड राशि पारित की गई, साथ ही उक्त भांति का ही प्रकरण श्रीमान् श्रीनिवास तिवारी, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, कबीरधाम द्वारा 01 प्रकरण का निराकरण करते हुए 350000/- की अवार्ड राशि पारित की गई। इसके अतिरिक्त कुटुम्ब न्यायालय द्वारा कुल 23 प्रकरणों का निराकरण किया गया, जिसमें से 1 प्रकरण का निराकरण वर्चुअल मोड पर किया गया। राजस्व न्यायालय में कुल 1325 प्रकरणों का निराकरण हुआ।

सचिव श्री अमित प्रताप चन्द्रा, जानकारी देते हुए बताया कि लोक अदालत में जिले के सुदूर क्षेत्रों से पक्षकार जिला न्यायालय प्रांगण में अपने प्रकरणों के निराकरण के लिए उपस्थित होते है, जिन पक्षकारगणों के प्रकरणों का निराकरण हुआ, उन्हें संबंधित न्यायालय के न्यायाधीशगणों द्वारा फलदार पौधे दिए गये तथा पक्षकारों की सुविधा के लिए नगर पालिका द्वारा पेयजल व्यवस्था की गई थी तथा बैंक द्वारा पक्षकारों के लिए स्वल्पाहार की व्यवस्था की गई थी।

नेशनल लोक अदालत में जिला न्यायालय में कुल 08 खण्डपीठ न्यायालय स्तर में, राजस्व न्यायालय स्तर में 12 खण्डपीठ गठित की गई थी। उक्त नेशनल लोक अदालत के सफल आयोजन के अनुक्रम में समस्त न्यायालयीन कर्मचारीगण, पैरालिगल वालिन्टियर्स, जिला प्रशासन, जिला पंचायत, नगर पालिका, पुलिस विभाग, समस्त बैंको सहित अन्य समस्त विभागों का भरपूर सहयोग रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular