Sunday, March 3, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: SECL के गेवरा खदान में हादसा... BEML कंपनी के वाटर टैंकर...

कोरबा: SECL के गेवरा खदान में हादसा… BEML कंपनी के वाटर टैंकर में शॉर्ट सर्किट से लगी आग, डीजल टैंक में लीकेज बनी वजह

कोरबा: एसईसीएल के गेवरा खदान में हादसा हुआ है। जहां गेवरा माइंस के बाघा बार्डर में BEML कंपनी 100 टन वाटर टैंकर में अचानक शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। बताया जा रहा है कि वाहन के डीजल टैंक में लीकेज की वजह से यह हादसा हुआ है।

जानकारी के अनुसार, ऑपरेटर अविनाश प्रताप सिंह गेवरा खदान के वेस्ट सेक्शन बाघा बार्डर के पास BEML कंपनी के 100 टन क्षमता वाले वाटर टैंकर को डंपयार्ड में ​​​​​​​लेकर पहुंचा था। इस दौरान वाहन के इंजन से अचानक से धुआं निकलना शुरू हुआ और वाहन सहित पूरा टैंकर आग की चपेट में आ गया। धूं-धूं कर जल रहे वाहन में लगी आग की लपटें दूर तक उठ रही थी।

गेवरा खदान के वेस्ट सेक्शन बाघा बार्डर के पास आग लगी।

गेवरा खदान के वेस्ट सेक्शन बाघा बार्डर के पास आग लगी।

ऑपरेटर अविनाश ​​​​​​​ने किसी तरह टैंकर से कूद कर अपनी जान बचाई। इस घटना के बाद खदान में हड़कंप मच गया और कर्मियों की भीड़ इकट्ठा हो गई। आग लगने पर तुरंत फायर ब्रिगेड को भी सूचना दी गई लेकिन उसके आने से पहले ही वाहन जल कर खाक हो गया। हादसे की सूचना मिलते ही सुरक्षा विभाग के और प्रबंधन के बड़े अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

खदान में करोड़ों रुपए के भारी भरकम मशीनें आग के जद में आ रही है।

खदान में करोड़ों रुपए के भारी भरकम मशीनें आग के जद में आ रही है।

बता दें कि चलती टैंकर में आग लगने की यह कोई नया मामला नहीं है। रखरखाव के अभाव में करोड़ों रुपए के भारी भरकम मशीनें आग के जद में आ रही है जबकि बीते एक सप्ताह पहले 3 दिसंबर को यहां सुरक्षा पखवाड़ा का समापन हुआ था, जिसमें सुरक्षा बरतने से संबंधित दिशा-निर्देश दिए गए थे। इसके बाद भी हादसों का दौर लगातार जारी है ।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular