Sunday, March 3, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: NTPC के विस्थापितों को नौकरी दिलाना मुश्किल है... उद्योग मंत्री लखनलाल...

कोरबा: NTPC के विस्थापितों को नौकरी दिलाना मुश्किल है… उद्योग मंत्री लखनलाल ने कहा- आने वाले समय में स्थानीयों को मिले रोजगार, इसकी करेंगे कोशिश

बिलासपुर/कोरबा: छत्तीसगढ़ सरकार में उद्योग मंत्री लखनलाल देवांगन ने बिलासपुर में कहा कि NTPC के भूमि विस्थापितों को नौकरी दिला पाना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि मैं खुद भू-विस्थापित रहा हूं, हमारे गांव के लोग विस्थापित हैं, हालांकि उन्होंने आश्वासन दिया कि आने वाले समय में यह प्रयास किया जाएगा कि औद्योगिक इकाईयों में स्थानीय युवाओं को रोजगार मिले।

लखनलाल देवांगन ने ये दो टूक लफ्जों में कहा कि विभाग को मैं ही चलाऊंगा, किसी अधिकारी की नहीं चलेगी, हम जो निर्देश देंगे, वही करना होगा। मंगलवार को कोरबा से रायपुर प्रवास के लिए निकले श्रम एवं उद्योग मंत्री लखनलाल देवांगन कुछ समय के लिए बिलासपुर में भी रुके थे।

इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने जमकर भ्रष्टाचार किया। हमारी सरकार प्रदेश से पूरी तरह से भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए संकल्पित है। हम ऐसी उद्योग नीति बनाएंगे, जिसमें स्थानीय लोगों को नौकरी में प्राथमिकता मिले। उन्होंने कहा कि रायपुर पहुंचकर विभाग का पदभार लूंगा। इसके बाद अधिकारियों से चर्चा करूंगा। कहां क्या गलत क्या सही है, इसकी जानकारी लेने के बाद सब ठीक करने का काम किया जाएगा। हमारा प्रयास है कि प्रदेश में उद्योग के लिए अच्छा वातावरण तैयार हो, उद्योगों को बढ़ावा मिले और स्थानीय लोगों को ज्यादा से ज्यादा अवसर मिले।

विभाग का काम संभालने मंगलवार को रायपुर रवाना होने से पहले उद्योग मंत्री लखनलाल देवांगन ने बिलासपुर में मीडिया से की बातचीत।

मैं ही चलाऊंगा विभाग, अधिकारी नहीं

सीधे-सादे और सरल-सहज मिजाज़ के मंत्री लखनलाल देवांगन ने विभाग को अधिकारियों द्वारा चलाए जाने की चर्चा के सवाल पर कहा कि मैं कोरबा नगर पालिक निगम में मेयर रहा हूं, मेरी अपनी कार्यशैली है। लेकिन यह तय है कि विभाग को मैं ही चलाऊंगा। किसी भी अधिकारी के इशारे पर काम नहीं होगा। अफसर हमारे निर्देशों पर काम करेंगे।

जमीन आवंटन करेंगे निरस्त

सिरगिट्टी समेत प्रदेश के अन्य स्थानों पर औद्योगिक क्षेत्रों में जमीन की बंदरबांट के सवाल पर उद्योग मंत्री लखनलाल देवांगन ने कहा कि पहले जांच कराई जाएगी कि जमीन किस उद्देश्य से दी गई। जमीन का इस समय क्या उपयोग हो रहा है। अगर नियम विरुद्ध उद्योग लगाया गया या फिर स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं दिया गया हो, तो जमीन का आवंटन निरस्त किया जाएगा।

भ्रष्टाचार मुक्त होगा छत्तीसगढ़

लखनलाल देवांगन ने कहा कि कांग्रेस सरकार में सभी विभागों में जमकर भ्रष्टाचार हुआ है, वो चाहे रेत हो, कोयला हो, शराब हो, गोठान या फिर जमीन का मामला हो। कोई भी विभाग कांग्रेस सरकार में भ्रष्टाचार से अछूता नहीं रहा है। अब भाजपा की सरकार बन गई है। छत्तीसगढ़ से भ्रष्टाचार को पूरी तरह से खत्म कर दिया जाएगा और जनता के हित में काम किए जाएंगे।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular