Wednesday, April 24, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: मंत्री डॉ डहरिया साहू समाज के नव निर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण...

छत्तीसगढ़: मंत्री डॉ डहरिया साहू समाज के नव निर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में हुये शामिल…

  • बड़गांव में साहू समाज भवन का किया लोकार्पण

रायपुर: नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया आज यहां रायपुर जिले के बड़गांव में आयोजित साहू समाज के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने बड़गांव में लगभग 6.50 लाख की लागत से बने साहू समाज के भवन का लोकार्पण किया और नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई। कार्यक्रम में डॉ. डहरिया ने साहू समाज के पदाधिकारियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देते  हुए कहा कि आप सबके समन्वित प्रयासों से साहू समाज उत्तरोत्तर विकास कर पाने में सफल होगा। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता का विषय है कि साहू समाज भक्त माता कर्मा के दिखाए हुए मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। भक्त माता कर्मा का संपूर्ण जीवन उनके आदर्श न केवल साहू समाज के लिए अपितु सर्व समाज के लिए अनुकरणीय है। डॉ डहरिया ने कहा कि साहू समाज की आराध्य देवी भक्त माता कर्मा हमें यह प्रेरणा देती है कि हम उनके उच्च आदर्शों को ‘‘मनसा वाचा कर्मणा’ के पवित्र भाव से स्वीकार कर उसे व्यवहारिक रूप दें। उन्होंने कहा कि किसी भी सामाजिक संगठन की सार्थकता इस बात पर निर्भर करती है कि वह सामाजिक समरसता को कितना संवर्धित कर रहा है। किसी भी समाज की प्रगति और विकास का पैमाना सामाजिक बंधुओं के शैक्षणिक स्तर से आंका जाता है। समाज को शिक्षा की ओर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। 

 मंत्री डॉ डहरिया
 नव निर्वाचित
हू समाज के नवनिर्वाचित पदाधिकारी बड़ी संख्या में समाज के लोग, जनप्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे। 

मंत्री डॉ. डहरिया ने कहा कि आरंग विकासखंड के विभिन्न जगहों पर करीब 242 सामाजिक भवन बनाये गये हैं, जिसमें करीब 62 भवन साहू के सामाजिक भवन शामिल हैं। सभी समाजों के लिए सामुदायिक भवन के निर्माण हो जाने से सामाजिक कार्य करने में सुविधा होगी। छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा अनेक जनहितैषी और कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही है। इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए समाज की ओर से भी पहल होनी चाहिए। कार्यक्रम में साहू समाज के नवनिर्वाचित पदाधिकारी बड़ी संख्या में समाज के लोग, जनप्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे। 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular