Tuesday, May 28, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: BIG न्यूज़- रेप के आरोप में मिर्ची बाबा गिरफ्तार.....

BCC News 24: BIG न्यूज़- रेप के आरोप में मिर्ची बाबा गिरफ्तार.. महिला ने दर्ज कराया केस; पुलिस को बताया- छेड़खानी का विरोध पर बाबा ने कहा था- बच्चा ऐसे ही होता है

भोपाल/ग्वालियर: हमेशा चर्चा में रहने वाले वैराग्यनंद गिरि उर्फ मिर्ची बाबा रेप केस में फंस गए हैं। मिर्ची बाबा को सोमवार रात को ग्वालियर के एक होटल से गिरफ्तार किया गया है। बाबा पर एक दिन पहले ही 28 साल की महिला ने भोपाल के महिला थाने में रेप का केस दर्ज कराया है। मिर्ची बाबा को नागा बाबा का दर्जा प्राप्त है। वे खुद को हरिद्वार के पंचायती निरंजनी अखाड़ा का महामंडलेश्वर कहते हैं।

पीड़िता रायसेन की रहने वाली है। उसने शिकायत में पुलिस को बताया था कि उसकी शादी को चार साल हो चुके हैं। बच्चे नहीं हैं, इसलिए मिर्ची बाबा के संपर्क में आई थी। बाबा ने पूजा-पाठ कर संतान होने का दावा किया। इलाज के नाम पर महिला को नशे की गोलियां खिलाकर रेप किया। घटना इसी साल जुलाई की है। विरोध करने पर बाबा बोला- बच्चा ऐसे ही होता है।

पुलिस ने रात में गिरफ्तार कर लिया
ग्वालियर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश डंडोतिया की टीम ने भोपाल पुलिस के इनपुट पर के आधार पर कार्रवाई की। डंडोतिया व उनकी टीम ने होटल नारायणन से मिर्ची बाबा को रात में गिरफ्तार कर लिया। फिर भोपाल पुलिस को सौंप दिया है। बताया जाता है कि इस संबंध में भोपाल पुलिस कमिश्नर ने SSP ग्वालियर को फोन किया था। हालांकि, अभी तक पुलिस ने अधिकृत रूप से इस खबर को पुष्ट नहीं किया है।

राजनीति में काफी सक्रिय रहे हैं
मिर्ची बाबा मध्यप्रदेश के पूर्व CM दिग्विजय सिंह के खास माने जाते हैं। कमलनाथ सरकार में बाबा को राज्यमंत्री का दर्जा था। साल 2019 में लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह की जीत के लिए पांच क्विंटल लाल मिर्ची का हवन किया था। मिर्ची बाबा ने तब ऐलान किया था कि अगर दिग्विजय सिंह चुनाव नहीं जीते तो वो जल समाधि ले लेंगे। दिग्विजय की हार के बाद जल समाधि लेने के लिए भोपाल कलेक्टर से अनुमति मांगी थी, जो नहीं मिली थी।

स्मृति ईरानी और उनकी बेटी पर दिया था बयान
मिर्ची बाबा ने बढ़ती महंगाई पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर विवादित बयान दिया था। मिर्ची बाबा ने कहा था- एक समय जब देश में रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें सिर्फ 400 रुपए हुआ करती थी। उस वक्त यही स्मृति ईरानी सड़क पर डांस करती थी। आज रसोई गैस की कीमत 1000 रुपए से ज्यादा पहुंच चुकी है तो वह चुप्पी साधे हुए हैं। स्मृति की बेटी के लिए कहा था- तुम्हारी बेटी गोवा में बीयर बार चला रही है और गोमांस बेचने का लाइसेंस ले रखा है। धिक्कारता हूं तुम्हें एक भारत का संन्यासी होने के नाते…।

मिर्ची बाबा ने जनवरी में CM हाउस पर धरना देने जा रहे थे। पुलिस ने उनको बीच में ही रोक दिया। पुलिस कार्रवाई से गुस्साए मिर्ची बाबा ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को पाखंडी तक कह दिया था।

मिर्ची बाबा ने जनवरी में CM हाउस पर धरना देने जा रहे थे। पुलिस ने उनको बीच में ही रोक दिया। पुलिस कार्रवाई से गुस्साए मिर्ची बाबा ने गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को पाखंडी तक कह दिया था।

कहा था- गोवंश की हत्या से संत समाज नाराज
बाबा ने कहा था प्रदेश में गोवंश की हत्‍याएं भी नहीं रुक रही हैं। इससे संत समाज आक्रोशित है। इसी के विरोध में अनशन करने मिर्ची बाबा अपने मिनाल रेसीडेंसी स्‍थित आवास से जैसे ही CM हाउस जाने के लिए निकले, पुलिस ने उन्‍हें रोक लिया। भाजपा सरकार में संतों का सम्मान नहीं है। उन्‍होंने कहा था मैं गायों को बचाने के लिए मरते दम तक लड़ता रहूंगा।

मां काली फिल्म पर दिया सिर काटने वाला बयान
मां काली के विवादास्पद पोस्टर पर वैराग्यानंद गिरि महाराज उर्फ मिर्ची बाबा ने भी आपत्ति जताते हुए बयान दिया था। एक धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने नोएडा गए मिर्ची बाबा ने वहां कहा कि काली मां का जो पोस्टर बनाया गया है, उससे मां को अपमानित किया गया है। उनके मुताबिक, ऐसी फिल्म के निर्देशक व निर्माता का जो सिर काटकर लाएगा, उसे पंचायती निरंजनी अखाड़े का महामंडलेश्वर होने के नाते 20 लाख रुपए इनाम दूंगा।

सांसद प्रज्ञा ठाकुर को फर्जी साध्वी कहा था
मिर्ची बाबा ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर को फर्जी साध्वी कहा था। बाबा ने कहा था कि प्रज्ञा ठाकुर मुझे सर्टिफिकेट दिखाए कि वह किस अखाड़े से है। प्रज्ञा ठाकुर की भाषा भी साध्वी जैसी नहीं है। साध्वी के गुरु कह चुके हैं कि वह मेरी चेली नहीं है। मां नर्मदा को साध्वी नाला बताती है। BJP में फर्जी साधु-संत पनपा रही है। वहीं BJP में फर्जी संतों की भरमार है।

ग्वालियर में पूर्व CM कमलनाथ की सभा में मंच पर मिर्ची बाबा को कुर्सी नहीं दी गई। इससे नाराज बाबा सभा में ही धरने पर बैठ गए थे।

ग्वालियर में पूर्व CM कमलनाथ की सभा में मंच पर मिर्ची बाबा को कुर्सी नहीं दी गई। इससे नाराज बाबा सभा में ही धरने पर बैठ गए थे।

नाराज होकर जमीन पर लगाया आसन
ग्वालियर में पूर्व CM कमलनाथ की आमसभा में मंच पर जगह न मिलने से नाराज हुए मिर्ची बाबा मंच के सामने ही जमीन पर बैठ गए थे। मिर्ची बाबा काफी देर तक वहां बैठे रहे। महापौर प्रत्याशी शोभा सतीश सिकरवार के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ फूलबाग में आमसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। जब मंच पर पूर्व CM कमलनाथ, नेता प्रतिपक्ष सहित कई बड़े नेता विराजमान हुए तो मिर्ची बाबा को जगह नहीं मिली। उसके बाद मिर्ची बाबा मंच के सामने जमीन पर बैठ गए। हालांकि, बाद में उन्हें देख पूर्व CM कमलनाथ सहित कई बड़े नेताओं खुद नीचे आए और उन्हें मनाकर मंच पर ले गए।

मिर्ची बाबा ने पिछले दिनों ऐलान किया था कि वह साधु-संतों के साथ धर्म संसद करेंगे। कांग्रेस के लिए वोट मांगेंगे। वह मिशन 2023 के साथ निकाय चुनाव में भी धर्म संसद करेंगे, जिसमें देशभर के साधु-संतों को निमंत्रण दिया जाएगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular