Thursday, July 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़ में एक ही दिन में 500 से ज्यादा केस... 4 की...

छत्तीसगढ़ में एक ही दिन में 500 से ज्यादा केस… 4 की मौत, 2484 एक्टिव मरीज, रोजाना 10 हजार टेस्ट के दिए गए निर्देश

रायपुर: छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के आंकड़े अब डराने लगे हैं। बीते 24 घंटों में प्रदेश में 6223 सैम्पलों की जांच की गई, जिनमें 531 नए पॉजिटिव केस मिले हैं।इस तरह एक्टिव मरीजों की संख्या 2484 हो गई है। राज्य में पॉजिटिविटी दर 8.53 प्रतिशत है, वहीं 4 मरीजों की मौत हुई है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक मृतक रायपुर,महासमुन्द, सरगुजा और कांकेर जिले से हैं।‌चारों की मौत को-मॉर्बिडिटी यानि कोरोना के साथ अन्य किसी गंभीर बीमारी की वजह से हुई है।

स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश भर के कोरोना संक्रमण के आंकड़े जारी किए हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश भर के कोरोना संक्रमण के आंकड़े जारी किए हैं।

इन जिलों में मिले संक्रमण के मामले

प्रदेश में सबसे ज्यादा संक्रमित 84 कोरोना मरीज रायपुर जिले में मिले हैं। राजनांदगांव में नए मरीजों की संख्या 52 है। सरगुजा जिले में 38, बिलासपुर जिले में भी नए मरीजों की संख्या 38 रही। कांकेर जिले में 32, बलौदा बाजार से 31, दुर्ग से 30, सूरजपुर जिले से भी 30 मरीजों की पुष्टि हुई है।इसी तरह बालोद जिले से 24, रायगढ़ से 23,महासमुंद से 20, बेमेतरा से 19,बीजापुर से 17, धमतरी से 16, कोरिया से 14, दंतेवाड़ा से 11, कबीरधाम से 11, कोरबा जिले से 10, जांजगीर-चांपा से 8,बलरामपुर से 6, गरियाबंद से 4, जशपुर से 4, बस्तर से 3, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से 2, कोंडागांव से 1, नारायणपुर से 1 और सुकमा जिले से भी 1 मरीज की पुष्टि हुई है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने रोजाना 10 हजार टेस्ट के निर्देश दिए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने रोजाना 10 हजार टेस्ट के निर्देश दिए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने विभाग को अलर्ट रहने कहा, रोजाना दस हजार टेस्ट के दिए निर्देश

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने देश और प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मंगलवार वरिष्ठ विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को अलर्ट रहते हुए कोरोना की जांच, इलाज, इससे बचाव और नियंत्रण के लिए सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने को कहा। स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड-19 के लक्षण वाले लोगों में इसकी पुष्टि के लिए ज्यादा से ज्यादा जांच आरटीपीसीआर टेस्ट के माध्यम से कराए जाने के साथ ही मेडिकल उपकरणों, ऑक्सीजन किट, वैक्सीन, दवाईयों, कन्जुमेबल्स की समुचित व्यवस्था रखने के निर्देश दिए। उन्होंने पिछले एक माह में कोरोना से हुई मौतों की समीक्षा भी की।

बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक मंत्री टीएस सिंहदेव ने ली।

बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक मंत्री टीएस सिंहदेव ने ली।

मंत्री टीएस सिंहदेव ने कोरोना के संदिग्ध मरीजों की सैंपल जांच में तेजी लाते हुए रोजाना दस हजार टेस्ट करने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पतालों में जीवनरक्षक उपकरणों के संचालन और कोविड-19 के उपचार से जुड़े मानव संसाधन का प्रशिक्षण भी शुरू करने को कहा।

उन्होने अस्पतालों में सामान्य बिस्तरों के साथ ही आईसीयू बेड, एचडीयू बेड और ऑक्सीजन सुविधा एवं वेंटिलेटर सुविधा वाले बिस्तरों की जानकारी ली। उन्होंने अस्पतालों में सर्जिकल मास्क, पीपीई किट, कैप्स, ग्लोव्स एवं एन-95 मास्क की उपलब्धता के बारे में भी पूछा। स्वास्थ्य मंत्री ने बैठक में कहा कि कोरोना संक्रमित 95 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में ही उपचार से अभी स्वस्थ हो जा रहे हैं। लेकिन देश और प्रदेश में लगातार बढ़ रहे संक्रमण दर को देखते हुए अस्पतालों में भी इसके इलाज और नियंत्रण की तैयारी रखनी होगी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बैठक में बताया कि प्रदेश में रोजाना सैंपलों की जांच की संख्या बढ़ाई जा रही है। इस महीने 11 अप्रैल से 17 अप्रैल के बीच प्रतिदिन औसत 3763 टेस्ट किए गए हैं, जबकि मार्च महीने के पहले सप्ताह में प्रतिदिन औसत 1008 टेस्ट किए जा रहे हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular