Friday, February 23, 2024
Homeउत्तरप्रदेशरिटायर्ड IPS ने सुसाइड किया.... लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को मारी गोली,...

रिटायर्ड IPS ने सुसाइड किया…. लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को मारी गोली, कमरे में मिला सुसाइड नोट

लखनऊ: लखनऊ के गोमती नगर में रिटायर्ड IPS डीके शर्मा ने लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। 73 साल के शर्मा पत्नी और दो बेटों के साथ विकास खंड इलाके में रहते थे। कमरे से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है। इसमें डिप्रेशन की वजह से जान देने की बात लिखी हुई है। डीके शर्मा 2010 में DG आवास विकास पुलिस निगम के पद से रिटायर्ड हुए थे।

हालांकि, पुलिस ने उस कमरे को सील कर दिया है, जिसमें डीके शर्मा की लाश मिली है। सुसाइड के बाद जो फोटो सामने आई है। उसमें लाश कुर्सी पर थी। सामने छोटी टेबल रखी हुई है। पुलिस के मुताबिक, शर्मा ने कुर्सी में बैठकर कनपटी पर गोली मारी है। रिवॉल्वर भी कुछ दूरी पर पड़ा मिला है। उसे जांच के लिए भेजा गया है। फर्श पर काफी खून बिखरा हुआ है।

कमरे में रखी कुर्सी पर उनका शव मिला है। लाश कुछ इस हालत में मिली है। कनपटी पर गोली लगी है।

कमरे में रखी कुर्सी पर उनका शव मिला है। लाश कुछ इस हालत में मिली है। कनपटी पर गोली लगी है।

फॉरेंसिक और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट भी मौके पर पहुंचे। कमरे में सबूत इकट्‌टा किए। बताया जा रहा है कि मंगलवार सुबह 7.15 बजे पुलिस को डीके शर्मा के सुसाइड की सूचना मिली। ऐसे में माना जा रहा है कि उन्होंने सुबह के वक्त ही खुद को गोली मारी है। घटना के वक्त घर में कौन-कौन था? कौन कहां था? इस बारे में डिटेल नहीं मिल पाई है।

पुलिस अफसरों का कहना है कि जिस पोजिशन में लाश मिली है। उससे लगता है कि पूरा प्लान करके उन्होंने सुसाइड किया है। वह कुर्सी में बैठे उसके बाद पिस्टल से कनपटी में गोली मारी। फिलहाल, सीनियर आईपीएस से मामला जुड़ा होने के चलते पुलिस सभी एंगल पर जांच कर रही है।

सुसाइड की खबर मिलने के बाद पुलिस और फॉरेंसिक की टीम गोमतीनगर स्थित उनके आवास पहुंची। वहां कमरे की जांच की।

सुसाइड की खबर मिलने के बाद पुलिस और फॉरेंसिक की टीम गोमतीनगर स्थित उनके आवास पहुंची। वहां कमरे की जांच की।

‘मैं अपनी ताकत और हेल्थ खो रहा हूं’
कमरे से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें उन्होंने अपनी बीमारी को सुसाइड की वजह बताया है। लिखा है-“मैं सुसाइड कर रहा हूं। मैं एनजाइटी से परेशान हूं। मैं अपनी ताकत और हेल्थ को खो रहा हूं। इसके लिए कोई जिम्मेदार नहीं है।” सुसाइड नोट के आखिरी में उन्होंने अंग्रेजी में अपना नाम लिखा। आज की तारीख लिखी और फिर सिग्नेचर भी किए। इसके ऊपर ही उन्होंने वह पेन रख दिया, जिससे उन्होंने इस नोट को लिखा था। यह नोट कमरे की टेबल पर एक राइटिंग पैड में लिखा मिला।

रिटायर्ड आईपीएस के कमरे से पुलिस को यह सुसाइड नोट मिला है। इसमें उन्होंने आत्महत्या की वजह लिखी है।

“वो बहुत जिंदादिल इंसान, DG रैंक से रिटायर हुए”
डीके शर्मा के सुसाइड की खबर मिलते ही पुलिस विभाग के सीनियर ऑफिसर मौके पर पहुंच गए। ADG (सुरक्षा) विनोद कुमार सिंह भी घर पहुंचे। उन्होंने कहा,”मेरा डीके शर्मा से 25 साल पुराना संबंध है। वह गोरखपुर में IG जोन हुआ करते थे। तभी से मेरे अभिभावक की तरह संबंध रहे हैं। 90 के दशक से क्रिकेट टीम से जुड़े थे। वो कमेंट्री भी करते थे। बहुत जिंदादिल इंसान रहे हैं। उनके सुसाइड पर विश्वास नहीं हो रहा। वह 1975 बैच के अफसर रहे हैं। DG रैंक से रिटायर हुए थे।”

सुसाइड के बारे में उन्होंने कहा,”ये जांच का विषय है। कौन सी ऐसी बात हो गई कि अचानक ऐसा स्टेप लिया। ये हमारे लिए आश्चर्य का विषय है। बिल्कुल यकीन नहीं हो रहा है।”

डीके शर्मा के घर उनके परिचित पहुंच रहे हैं। परिवार को ढांढस बंधवा रहे हैं।

शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया
सुसाइड की खबर मिलने के बाद डीके शर्मा के घर पर रिश्तेदार, दोस्त और पड़ोसी पहुंच गए हैं। आखिर ऐसी क्या बीमारी थी, जिससे आईपीएस हार गया? इस बारे में पता नहीं चल पाया है। सभी हैरत में थे कि उन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया। परिवार ऐसे सवालों पर फिलहाल कुछ भी नहीं बता पा रहा है। शर्मा के शव को पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। एक बेटा और कुछ रिश्तेदार पोस्टमॉर्टम हाउस गए हैं।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular