Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: CG न्यूज़- पुलिस आरक्षक की हत्या में खुलासा.. दोस्त...

BCC News 24: CG न्यूज़- पुलिस आरक्षक की हत्या में खुलासा.. दोस्त ही निकला कातिल; उधार देने के चक्कर में आरक्षक की गई जान, युवक के साथ शराब पी, फिर पैसे मांगे, उसने विवाद किया और चार्चिंग केबल से गला घोंटा; गिरफ्तार

छत्तीसगढ़: राजनांदगांव जिले के सोमनी थाना क्षेत्र में शनिवार को पुलिस आरक्षक संतोष यादव की हत्या कर दी गई। रविवार को पुलिस ने हत्या के आरोपी दानिश खान (22 वर्ष) को अब गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी बख्तावर चाल तुलसीपुर का रहने वाला है। आरक्षक संतोष यादव (35 वर्ष) की लाश नागपुर नेशनल हाईवे- 53 पर सोमनी और ठाकुर टोला के बीच ग्राम ठेकवा के पास मिली थी।

24 घंटे के अंदर पुलिस ने केस को सॉल्व कर लिया है। पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव प्रफुल्ल ठाकुर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी कि 5000 रुपए के पुराने लेनदेन के कारण आरोपी ने आरक्षक की हत्या कर दी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की, तो उसकी कार में बैठा हुआ आरोपी दिख गया। आरोपी की शिनाख्त दानिश खान के रूप में हुई। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी को घेराबंदी कर पकड़ा है।

24 घंटे के अंदर आरोपी को पकड़ने में पुलिस को मिली सफलता।

24 घंटे के अंदर आरोपी को पकड़ने में पुलिस को मिली सफलता।

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि शुक्रवार रात को वो दोनों कार से निकले थे। दोनों ने पहले शराब पी। इसके बाद संतोष अपने दिए हुए पैसे मांग रहा था। इसी बात पर दोनों के बीच विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि आरोपी दानिश खान ने कार की पिछली सीट पर मोबाइल चार्जर के केबल से आरक्षक का गला घोंट दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। आरोपी ने आरक्षक को वहीं हाईवे किनारे छोड़ दिया और उसकी कार को शहर के भगत सिंह चौक पर खड़ा कर दिया। आरोपी की निशानदेही पर मृतक की कार और घटना में इस्तेमाल केबल को जब्त कर लिया गया है।

नेशनल हाईवे- 53 पर सड़क किनारे मिली थी लाश।

नेशनल हाईवे- 53 पर सड़क किनारे मिली थी लाश।

लाश मिलने के बाद शनिवार को CSP गौरव राय ने बताया था कि पुलिस आरक्षक संतोष यादव पुलिस लाइन में ड्राइवर था। वो शुक्रवार रात अपने घर से खाना खाने के बाद टहलने के लिए निकला था, लेकिन फिर वापस नहीं लौटा। शनिवार सुबह उसका शव हाईवे के किनारे मिला था। आरक्षक मूल रूप से उत्तर प्रदेश के वाराणसी का रहने वाला था और यहां पुलिस लाइन में अपनी पत्नी और बच्चे के साथ रहता था। आरक्षक संतोष यादव के पिता बीएन यादव कबीरधाम के कुंडा थाने में ASI हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular