Tuesday, June 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG में ED की कार्रवाई पर दिल्ली में बवाल... स्मृति ईरानी बोली-...

CG में ED की कार्रवाई पर दिल्ली में बवाल… स्मृति ईरानी बोली- बघेल ने सत्ता में रहकर सट्टा का खेल खेला, जयराम बोले- ED-BJP मिले हुए

रायपुर: शुक्रवार की शाम ED की ओर से किए गए खुलासे के बाद शनिवार की सुबह दिल्ली में सियासी बवाल मचा हुआ है। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ही दल छत्तीसगढ़ में ईडी की कार्रवाई को लेकर जमकर बयानबाजी कर रहे हैं। इन दोनों ही दलों के बड़े नेता अपने-अपने दावों के साथ सामने आए।

सबसे पहले सुबह-सुबह भारतीय जनता पार्टी की नेता स्मृति जुबिन ईरानी ने भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस ली। उन्होंने मीडिया से कहा कि भूपेश बघेल जी सत्ता में रहकर सट्टा का बड़ा खेल कर रहे हैं। राज्य के मुख्यमंत्री को लेकर बहुत बड़े खुलासे हुए हैं। असीम दास नाम के एक व्यक्ति से 5.30 करोड़ रुपये से ज्यादा बरामद हुए हैं। मैं आज कुछ सवाल पूछना चाहती हूं, ‘क्या ये सत्य है कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के नेताओं को शुभम सोनी (ऑनलाइन सत्ता अप का प्रमोटर) के माध्यम से असीम दास पैसा पहुंचाते थे?

भारतीय जनता पार्टी की नेता स्मृति जुबिन ईरानी ने भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस ली।

भारतीय जनता पार्टी की नेता स्मृति जुबिन ईरानी ने भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस ली।

स्मृति ईरानी के सवाल

स्मृति ईरानी ने पूछा कि क्या ये सच है कि शुभम सोनी के एक वॉइस मैसेज के माध्यम से ये आदेश दिया गया कि वो रायपुर जाएं और भूपेश बघेल को चुनाव के खर्च के लिए पैसा दें? क्या ये सच है कि 2 नवंबर को रायपुर के होटल ट्राइडेंट में दास से पैसे बरामद हुए?

असीम दास नाम के एक व्यक्ति से 5.30 करोड़ रुपए से ज्यादा बरामद हुए हैं।

असीम दास नाम के एक व्यक्ति से 5.30 करोड़ रुपए से ज्यादा बरामद हुए हैं।

बीजेपी ने लगाए सीएम पर ये आरोप

बीजेपी नेता ने सीएम भूपेश बघेल पर आरोप लगाते हुए कहा है कि ये तथ्य चौंकाने वाला है कि जिस शुभम सोनी के बारे में असीम दास ने बयान दिया है, ये माना जा रहा है कि जांच एजेंसी के पास शुभम सोनी की आवाज में भी सबूत उपलब्ध हैं। एक लिखित बयान में ये कहा गया है कि सट्टा एप के प्रमोटर्स ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को 538 करोड़ रुपये रिश्वत दी है।

स्मृति ईरानी की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने एक्स पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

स्मृति ईरानी की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने एक्स पर अपनी प्रतिक्रिया दी।

कांग्रेस ने दिया जवाब

स्मृति ईरानी की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने एक्स पर लिखा कि जब ED के बचाव में भाजपा सुबह-सुबह खुलकर आ जाए, तो उनकी मिलीभगत, जुगलबंदी और एजेंसियों का छत्तीसगढ़ और राजस्थान में राजनीतिक दुरूपयोग स्पष्ट हो जाता है। चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए। कांग्रेस के दिल्ली मुख्यालय में केसी वेणुगोपाल, अभिषेक मनु सिंघवी और जयराम रमेश ने इस मामले में मीडिया से बातचीत भी की।

कांग्रेस के महासचिव KC वेणुगोपाल।

कांग्रेस के महासचिव KC वेणुगोपाल।

कांग्रेस के महासचिव KC वेणुगोपाल ने कहा कि जब भी चुनाव आता है, भाजपा के लिए ED हथियार बन जाता है। छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार लोकप्रिय है। भाजपा का एक ही लक्ष्य है कि हमारे मुख्यमंत्री की छवि को खराब किया जाए। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छत्तीसगढ़ की सरकार और मुख्यमंत्री को बदनाम करने के लिए स्पष्ट साजिश है। इस साजिश का जवाब छत्तीसगढ़ की जनता देगी।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बीजेपी पर कसा तंज।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बीजेपी पर कसा तंज।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी दी प्रतिक्रिया

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी का काम ही है लोगों को डराना, लोगों को फंसाना और वर्करों को डिमॉरलाइज करना, लेकिन छत्तीसगढ़ में ऐसे डरने वाले वोटर्स नहीं हैं, नेता नहीं हैं, इसका भुगतान उन्हें ही करना होगा।

शुक्रवार की शाम ED की ओर से किए गए खुलासे के बाद शनिवार की सुबह दिल्ली में सियासी बवाल मचा हुआ है।

शुक्रवार की शाम ED की ओर से किए गए खुलासे के बाद शनिवार की सुबह दिल्ली में सियासी बवाल मचा हुआ है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी कुमारी सैलजा ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप

इधर बीजेपी द्वारा सीएम भूपेश बघेल पर लगाए गए सट्टेबाजी ऐप से संबंधित आरोपों पर छत्तीसगढ़ की कांग्रेस प्रभारी कुमारी सैलजा का कहना है कि “जब उन्हें कुछ और नहीं मिल रहा, तो वे इस तरह की बातें कर रहे हैं। यहां भूपेश बघेल ने अच्छा काम किया है। लोग भाजपा पर भरोसा नहीं करते हैं। जब सभी रणनीति विफल हो जाती है, तो वे हमेशा इस तरह की चीजों का सहारा लेते हैं।

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस प्रभारी कुमारी सैलजा ने बीजेपी पर साधा निशाना।

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस प्रभारी कुमारी सैलजा ने बीजेपी पर साधा निशाना।

भूपेश बघेल की सरकार भरोसे की सरकार है- कुमारी सैलजा

हम चुनाव के दौरान केंद्रीय एजेंसियों के अधिक दुरुपयोग की उम्मीद कर रहे थे और वही हो रहा है, लेकिन हमें अपने द्वारा किए गए काम पर भरोसा है। भूपेश बघेल और पूरे राज्य मंत्रिमंडल ने कड़ी मेहनत की है और हम इसे आगे बढ़ाएंगे। छत्तीसगढ़ के लोगों ने हम पर भरोसा किया है और यह ‘भरोसे की सरकार’ है।”

उपमुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव ने स्मृति ईरानी को सबूत दिखाने की दी चुनौती

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के बयान पर छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि “उनके पास अगर कोई जानकारी और सबूत है, तो सामने क्यों नहीं रखतीं, आरोप क्यों लगा रही हैं। उनके पास जानकारी है और वे सामने नहीं रख रहे हैं, तो वे भी सहभागी हैं क्या?

छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव ने स्मृति ईरानी को सबूत सामने लाने को कहा।

छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव ने स्मृति ईरानी को सबूत सामने लाने को कहा।

यह वही ED है, जिसके अधिकारियों के घरों में भारी मात्रा में पैसा मिला है। हम उम्मीद कर रहे थे कि चुनाव से ठीक पहले ऐसा होगा। यह अप्रत्याशित नहीं है। जब वे चुनाव हारने वाले हैं, तो ये बातें सामने ला रहे हैं। यहां तक कि ED की प्रेस रिलीज में भी कोई तथ्य नहीं है। कौन से लोग देश में चुनी सरकारों को गिराते हैं और ऑपरेशन लोटस करते हैं, ये सभी जानते हैं।”

ये है पूरा मामला

छत्तीसगढ़ में चुनावी मौसम के बीच केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी ने बड़ा दावा किया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शुक्रवार (3 नवंबर) को कहा कि महादेव सट्टेबाजी ऐप के प्रवर्तकों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अब तक 508 करोड़ रुपये दिए हैं।

ईडी के इस दावे पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि किसी की इज्जत उछालना आसान है। मुख्यमंत्री के खिलाफ किसी को मारपीट कर ऐसा बुलवा दो, इससे बड़ा मजाक क्या होगा।

इससे पहले 2 नवंबर को प्रवर्तन निदेशालय ने रायपुर के ट्रायटॉन होटल में और भलाई के एक मकान में छापेमारी की थी। जहां से 5 करोड़ से ज्यादा की रकम बरामद हुई। असीम दास और पुलिस कांस्टेबल भीम सिंह को अरेस्ट किया गया ।असीम दास ने करोड़ों रुपए कांग्रेस नेताओं को पहुंचाने की जानकारी दी । इससे पहले सट्टा एप मामले में आरोपी शुभम सोनी ने भी ईमेल के जरिए प्रवर्तन निदेशालय को बताया था कि उसने करोड़ों रुपए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पहुंचाएं है। गुरुवार को पकड़े गए इन आरोपियों को ईडी की कस्टडी में रखा गया है । 10 नवंबर को इस मामले में अगली सुनवाई होगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular