Sunday, May 26, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: सूरजपुर- ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता विनिता गुर्जर के अथक प्रयास से फुलमति एवं...

छत्तीसगढ़: सूरजपुर- ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता विनिता गुर्जर के अथक प्रयास से फुलमति एवं पवन हुए सुपोषित…

सूरजपुर: मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान माननीय मुख्यमंत्री की महत्वकांक्षी योजना है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान का मुख्य उद्देश्य 06 माह से 03 वर्ष के बच्चों एवं 15 से 49 वर्ष की एनीमिक महिलाओं को लाभान्वित करना है। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान 02 अक्टूबर 2019 से प्रारंभ किया गया है जिसका मुख्य उद्देश्य 06 वर्ष तक के बच्चों को कुपोषण से मुक्त करना है । कुपोषण एवं एनीमिया को दूर करने के लिये शासन द्वारा वर्तमान में संचालित योजनाओं में कमी की पहचान कर उसे दूर करना भी योजना का मुख्य उद्देश्य है अतः 06 माह से 03 वर्ष तक के कुपोषित बच्चों को भी अतिरिक्त पोषण आहार गरम भोजन पौष्टिक खिचड़ी के रूप में दिया जाना उचित होगा। आँगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज 06 माह से 03 वर्ष के कुपोषित बच्चों को बढ़ती उम्र में गर्म भोजन की ज्यादा आवश्यकता है, जो उन्हें विभाग द्वारा संचालित योजनाओं से नहीं मिल पा रहा है । आँगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज 06 माह से 03 वर्ष के कुपोषित बच्चों को गर्म भोजन, पौष्टिक खिचड़ी उपलब्ध कराकर स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकता है।

उपरोक्त उद्देश्य की पूर्ति हेतु 06 माह से 03 वर्ष के बच्चों हेतु गर्म भोजन एवं 15 से 49 वर्ष की एनीमिक महिलाओं हेतु गर्म भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है । मुख्यमंत्री सुपोषण अभिया से लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों में से फुलमति एक बालिका है जो मिनी आँगनबाड़ी केन्द्र छोटे गेरुवाडांड़ में दर्ज है। इस बच्ची का वजन 12.2 कि.ग्रा. है जो मध्यम श्रेणी मे थी, आँगनबाडी कार्यकर्ता विनिता गुर्जर द्वारा फुलमति को निरंतर मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की योजनाओं से लाभान्वित कराया गया एवं ऑ.बा. कार्यकर्ता विनिता गुर्जर द्वारा गृह भेंट कर निरंतर बच्ची के माता-पिता को स्वच्छता के संबंध में जागरुक कर प्रात्साहित किया गया जिससे माता-पिता द्वारा बच्ची के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया गया वर्तमान में फुलमति का वजन 13.4 कि.ग्रा. है और वह सामान्य श्रेणी में आ गई है।

इसी प्रकार उक्त केन्द्र का बालक पवन कुमार जिसका वजन 89 कि.ग्रा. है एवं बच्चे की तबियत भी खराब रहता था, आँगनबाड़ी कार्यकर्ता विनिता गुर्जर द्वारा पवन को निरंतर मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की योजनाओं से लाभान्वित कराया गया एवं औ०.बा. कार्यकर्ता विनिता गुर्जर द्वाराएवं हेल्थ फ्राईडे के माध्यम से स्वास्थ्य लाभ कराया गया। बच्चे की निरंतर निगरानी की जाने लगी एवं ऑ.बा. कार्यकर्ता विनिता गुर्जर द्वारा गृह भेंट कर निरंतर बच्चे के माता-पिता को स्वच्छता के संबंध में जागरुक कर प्रात्साहित किया गया जिससे माता-पिता द्वारा बच्चे के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया गया वर्तमान में बच्चे का वजन 9.9 कि.ग्रा. हो गया है एवं बच्चे के माता-पिता के व्यवहार में भी व्यापक परिवर्तन देखा गया। मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान से बच्चों के स्वास्थ्य में सुधार के साथ-साथ उनके माता-पिता के व्यवहार में भी परिवर्तन देखा गया जो योजना का मुख्य उद्देश्य है। हितग्राहियों द्वारा ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता विनिता गुर्जर के अथक प्रयासों की सराहना करते हुये शासन द्वारा संचालित योजना के लिये माननीय मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापन किया गया ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular