Friday, July 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबासरगुजा के तीनों विधायक रात में पहुंचे मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल... सभी वार्डों...

सरगुजा के तीनों विधायक रात में पहुंचे मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल… सभी वार्डों का किया निरीक्षण, व्यवस्थाएं सुधारने एक सप्ताह की दी मोहलत

सरगुजा: प्रदेश में सरकार बदलने के साथ ही व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने की कवायद शुरू हो गई है। सरगुजा जिले के तीनों विधायक रात को मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे। विधायकों ने हॉस्पिटल और एमसीएच के सभी वार्डों का निरीक्षण किया और मरीजों से चर्चा कर समस्याएं पूछीं।

विधायकों के देर रात हॉस्पिटल पहुंचने की सूचना पर हड़कंप मच गया। कलेक्टर सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भागते हुए हॉस्पिटल पहुंचे। विधायकों ने अव्यवस्थाओं को दूर करने एक सप्ताह की मोहलत अधिकारियों को दी है।

सरगुजा जिले के तीनों विधायक राजेश अग्रवाल, प्रबोध मिंज और रामकुमार टोप्पो शनिवार रात को भाजपा जिलाध्यक्ष ललन प्रताप सिंह सहित अन्य नेताओं के साथ मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के निरीक्षण के लिए पहुंचे। विधायक सीधे हॉस्पिटल के वार्डों में पहुंचे और डॉक्टरों के बारे में पूछताछ की। विधायकों के हॉस्पिटल पहुंचने की सूचना मिलते ही प्रशासन और स्वास्थ्य अमले में हड़कंप मच गया। कलेक्टर कुंदन कुमार, सीएमओ डॉ आरएन गुप्ता, सीएमएचओ डॉ रमेश आर्य सहित अन्य चिकित्सा अधिकारी भागते हुए हॉस्पिटल पहुंचे।

विधायकों ने मरीजों के परिजनों से की चर्चा।

विधायकों ने मरीजों के परिजनों से की चर्चा।

वार्डों में मरीजों और परिजनों से की बातचीत

विधायकों ने वार्डों में मरीजों और परिजनों से मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। उन्हें मिल रहे खाने के संबंध में पूछा। समय पर रूटीन जांच और इलाज के संबंध में जानकारी ली। मेडिकल और सर्जिकल वार्डों के निरीक्षण के बाद तीनों विधायक एमसीएच बिल्डिंग पहुंचे और प्रसूता माताओं के साथ भर्ती बच्चों के परिजनों से भी चर्चा कर समस्याओं की जानकारी ली।

एमसीएच के बेबी वार्मर यूनिट का निरीक्षण।

एमसीएच के बेबी वार्मर यूनिट का निरीक्षण।

एक सप्ताह में व्यवस्था सुधारने की हिदायत

विधायकों को अस्पताल में कई स्थानों पर गंदगी और पानी की समस्या समेत कुछ अन्य समस्याएं मिलीं। इन्हें एक सप्ताह में ठीक करने के लिए कहा गया है। विधायकों ने कहा कि मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में सरगुजा सहित संभाग भर से मरीज आते हैं। डॉक्टरों के साथ स्टाफ के व्यवहार को लेकर शिकायतें मिलने पर विधायकों ने कहा कि यह शिकायत फिर नहीं आनी चाहिए। एक सप्ताह में खामियों को दूर कर व्यवस्था को दुरुस्त कर लें।

आयुष्मान कार्ड की शिकायत

निरीक्षण के दौरान दो मरीजों के परिजनों ने आयुष्मान कार्ड के काम नहीं करने के कारण इलाज में देरी और जांच सुविधा नहीं मिल पाने की शिकायत की। अस्पताल प्रबंधन द्वारा बताया गया कि सर्वर काम नहीं करने और फिंगर प्रिंट मैच नहीं करने के कारण ऐसा हो रहा है। विधायकों ने कहा कि यह समस्या नहीं आनी चाहिए। मरीजों को समय पर उपचार मिले, इसकी व्यवस्था करें। विधायकों के निरीक्षण के दौरान हॉस्पिटल में हड़कंप मचा रहा। पहले भी यह हॉस्पिटल चिकित्सकों और स्टाफ की मनमानी, बच्चों की मौत के कारण चर्चा में रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular