Sunday, June 16, 2024
Homeमध्यप्रदेशभोपाल: छात्रा ने कहा था प्यार करते हो तो तुम हिंदू बन...

भोपाल: छात्रा ने कहा था प्यार करते हो तो तुम हिंदू बन जाओ; आरोपी बोला- तुम्हारा धर्म परिवर्तन कराऊंगा, फोन में कई लड़कियों के निजी फोटो भी मिले…

  • पीड़िता बी.टेक की छात्रा है, इंजीनियर बताने वाला आरोपी गाड़ी सुधारने का काम करता है

भोपाल में नाम छिपाकर बी.टेक की छात्रा से ज्यादती कर उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश करने वाला आरोपी आशु उर्फ असद बाइक मैकेनिक है। उसके मुस्लिम होने का पता चलने पर लड़की ने उससे कहा था कि प्यार करते हो, तो तुम हिंदू बन जाओ। इस पर आरोपी असद बोला कि मैं तो हिंदू नहीं बनूंगा, लेकिन तेरा धर्म जरूर बदलवा दूंगा। लड़की के मना करने पर उसने उससे मारपीट तक कर दी।

इतना ही नहीं असद ने छात्रा को बदनाम करने के लिए उसके फोटो अपने स्टेटस पर अपलोड करते हुए उसके बारे में अपशब्द लिखे। मजबूर होकर छात्रा ने असद के खिलाफ एफआईआर कराई। असद पर ज्यादती, छेड़छाड़, मारपीट, गाली गलौज और मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्र्य विधि 2020 के अपराध दर्ज किया गया है। आरोपी के मोबाइल में कुछ और लड़कियों के भी निजी फोटो मिले हैं।

कई दिनों तक पीछा कर प्रेम जाल में फंसाया

ASP राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि छात्रा के बयान के आधार पर ही असद पर एफआईआर की गई है। 23 साल की पीड़िता मूलत: बालाघाट की रहने वाली है। वह भोपाल से बी.टेक सेकंड ईयर की पढ़ाई कर रही है। अशोका गार्डन में किराए से रहने वाली छात्रा की पहचान 30 वर्षीय आशु से 2019 में हुई थी। वह छात्रा का कई दिनों से पीछा कर रहा था।

नवंबर 2019 में पहली बार बात करने पर आशु ने बताया था कि वह मैकेनिकल इंजीनियर है। एक महीने के अंदर ही आशु ने 12 दिसंबर को छात्रा से शादी करने का प्रस्ताव रखते हुए ज्यादती की। इसके बाद वह उससे ज्यादती करता रहा।

जन्मदिन पर खुली पोल

पीड़िता ने बताया कि पिछले साल 19 मार्च को आशु का जन्मदिन था। वह उसे लेकर रायसेन गया था। इसी दौरान वह अचानक गायब हो गया। वह उसकी तलाश में दरगाह पहुंची, तो वह अंदर नमाज पढ़ते दिखा। छात्रा के पूछने पर आशु ने बताया कि वह आशु नहीं असद है। यह सुनते ही छात्रा वहां से दुखी होकर अपने कमरे पर आ गई।

उसके बाद असद उसके पीछे पड़ गया और उसका धर्म परिवर्तन करने पर दबाव बनाने लगा। इतना ही नहीं कई बार उससे सरेराह मारपीट भी की, लेकिन छात्रा चुप रही। असद ने 11 जनवरी को छात्रा का रास्ता रोकते हुए उससे फिर मारपीट की थी।

इसलिए कराई एफआईआर

पीड़िता ने बताया कि वह माता-पिता और समाज में बदनामी के डर के कारण अब तक चुप रही, लेकिन असद ने सोशल मीडिया पर उसके निजी फोटो पर भद्दे कमेंट्स और अपशब्दों का उपयोग कर उसे बदनाम करने का प्रयास किया। उसने बीच में पढ़ाई छोड़ने का भी मन बना लिया था, लेकिन उसने सोचा की आरोपी को सजा मिलनी चाहिए। इसी कारण उसने एफआईआर दर्ज कराई।

असद के जाल में कुछ और लड़कियां भी हो सकती हैं

ASP राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि आरोपी के मोबाइल फोन को ब्लॉक कर दिया गया है। उसने पीड़ित लड़की के फोटो और अश्लील कमेंट अपने स्टेटस पर अपलोड किए थे। इतना ही नहीं उसके फोन से कुछ और लड़कियों के फोटो मिले हैं। यह निजी फोटो हैं। इससे संभावना बढ़ गई है कि असद कुछ और लड़कियों के संपर्क में था। हालांकि वह कौन है? अभी इसकी तफ्तीश की जा रही है। ASP भदौरिया ने कहा कि इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि इस मामले में कुछ और पीड़ित भी हो सकती है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular