Friday, March 1, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: छत्तीसगढ़- पालतू कुत्ते के चलते हादसा, एक की मौत.....

BCC News 24: छत्तीसगढ़- पालतू कुत्ते के चलते हादसा, एक की मौत.. कार चलाते समय अचानक स्टेयरिंग में चढ़ गया डॉग; अनियंत्रित होकर पलटी गाड़ी; चपेट में आए 8 मजदूर घायल.. आस-पास के लोगों ने जमकर किया हंगामा

छत्तीसगढ़: बिलासपुर में रविवार दोपहर 12 बजे बड़ा हादसा हो गया। तेज रफ्तार कार मजदूरों को टक्कर मारने के बाद पलट गई। इस हादसे में भवन निर्माण कार्य में लगी एक महिला की मौत हो गई और 8 मजदूर घायल हो गए हैं। उन्हें इलाज के लिए CIMS में भर्ती कराया गया है। हादसा तारबाहर थाना क्षेत्र में हुआ है।

कार चला रहा नाबालिग अपने पालतू डॉग का इलाज कराने गया था। इस दौरान उसका कुत्ता स्टेयरिंग में आ गया। इसके बाद कार अनियंत्रित हो गई और उसने मजदूरों को चपेट मे लिया, फिर कार पलट गई। इस घटना के बाद लोगों की भीड़ जुट गई और जमकर हंगामा हुआ। इसके चलते यहां करीब आधे घंटे तक सड़क जाम की स्थिति निर्मित हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घायलों को एंबुलेंस में ले जाया गया अस्पताल

घायलों को एंबुलेंस में ले जाया गया अस्पताल

कार में सवार नाबालिग और उसका भाई CMD चौक से अग्रेसेन चौक तरफ आ रहे थे। कार को नाबालिग चला रहा था। अभी तेज रफ्तार कार स्वदेशी प्लाजा के सामने पहुंची थी। जहां भवन निर्माण कार्य चल रहा है। इसी दौरान कार के स्टेयरिंग में कुत्ते की चढ़ने की वजह से नाबालिग कार को नियंत्रित नहीं कर सका और मजूदरों को चपेट में लेते हुए कार पलट गई।

हादसे में सरकंडा के साइंस कॉलेज के पास रहने वाली महिला सरस्वती गोंड पति फिरतराम (50) की मौत हो गई, जबकि फरहदा निवासी श्याम सुंदर (45 साल), भोली पटेल (35 साल), रानी (19 साल), रत्ना पटेल (18 साल), अभय पटेल ( 22 साल), संजू पोर्ते (23 साल), रामलाल (50 साल), समय बाई घायल हो गए। हादसे के बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई। उन्होंने पुलिस की मदद से घायलों को इलाज के लिए भेजा। वहीं, मरने वाली महिला के शव को जिला अस्पताल भेजा गया है।

सड़क किनारे रखे भवन निर्माण सामग्री भी बनी हादसे की वजह

सड़क किनारे रखे भवन निर्माण सामग्री भी बनी हादसे की वजह

कार सवार नाबालिग पकड़ाया
हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कार सवार नाबालिग को पकड़कर थाने ले गई है। वहीं उसका भाई और दोस्त वहां से भाग गए हैं। पूछताछ में पता चला कि 17 नाबालिग SECL कर्मी का बेटा है। उसने बताया कि वह अपने छोटे भाई के साथ बीमार डॉग का इलाज कराने जा रहा था। तभी उसका कुत्ता कार की स्टेयरिंग में चढ़ गया और कार अनियंत्रित हो गई। जिससे यह हादसा हो गया। घटना के बाद वहां जुटी भीड़ ने जमकर हंगामा मचाया। इस घटना की जानकारी मिलते ही SP पारुल माथुर मौके पर पहुंच गई। उन्होंने भीड़ को समझाइश देकर शांत कराया। इसके बाद जाम हटवाया गया।

कार पलटने के बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई और जमकर हंगामा मचाया

कार पलटने के बाद वहां लोगों की भीड़ जुट गई और जमकर हंगामा मचाया

नाबालिग को दी कार, पैरेंट्स के खिलाफ केस
SP पारुल माथुर घायल मजदूरों को देखने CIMS भी गईं। उन्होंने कहा कि नाबालिग बच्चे को कार चलाने के लिए देने वाले पैरेंट्स के खिलाफ केस दर्ज करने कहा गया है। नाबालिगों को वाहन चलाना अपराध है और उनके पैरेंट्स के खिलाफ कार्रवाई करने का प्रावधान है। इस मामले में पैरेंट्स पर भी केस दर्ज किया जा रहा है।

हादसे की एक वजह यह भी है
घटनास्थल पहुंची SP पारुल माथुर ने बताया कि हादसे की एक वजह यह भी है कि निर्माणाधीन भवन के लिए रेत और गिट्‌टी को सड़क किनारे रख दिया गया था। इसके चलते आवागमन बाधित हो रहा था। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को बिल्डिंग मटेरियल सामग्री को जब्त करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मामले की जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कही है।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular