Tuesday, June 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: भानुप्रतापपुर उपचुनाव.... BJP प्रत्याशी पर नाबालिग से गैंगरेप का आरोप; मरकाम...

CG: भानुप्रतापपुर उपचुनाव…. BJP प्रत्याशी पर नाबालिग से गैंगरेप का आरोप; मरकाम ने FIR की कॉपी के साथ दिए सबूत, कहा- नेताम ने पीड़ित को देह व्यापार में धकेला

कांकेर: छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कांकेर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम पर नाबालिग से गैंगरेप और उसे देह व्यापार में धकेलने समेत तमाम गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने सबूतों के साथ ये बात मीडिया के सामने रखी है।

भानुप्रतापपुर उपचुनाव में भाजपा से प्रत्याशी बनाए गए ब्रह्मानंद नेताम को लेकर मोहन मरकाम ने कहा कि उन पर झारखंड राज्य के जमशेदपुर जिले में केस दर्ज है। 15 साल की नाबालिग से गैंगरेप कर उसे देह व्यपार में धकेलने का आरोप लगाते हुए मरकाम ने FIR की कॉपी भी मीडिया को दिखाई। घटना 2019 को बताई जा रही है। पीसीसी चीफ ने कहा कि पुलिस ने पहले 5 आरोपियों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की थी, जिसके बाद जांच में 10 से 12 आरोपी सामने आए, जिनमें भाजपा प्रत्याशी भी शामिल हैं।

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम।

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम।

मोहन मरकाम ने कहा कि जमशेदपुर के थाना टेल्को में अपराध क्रमांक 84/2019 में 15 मई 2019 को पॉक्सो एक्ट समेत कई धाराओं में ब्रह्मानंद नेताम के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। कांग्रेस ने खुलासा किया कि पीड़िता ने एक डायरी में गैंगरेप के सभी आरोपियों के नाम लिखकर रखे थे। इस मामले में झारखंड पुलिस ने छतीसगढ़ से संबंध रखने वाले शीतल उर्फ सपना महतो, सुरेंद्र सिन्हा को महासमुंद से 2019 में ही गिरफ्तार किया था। ब्रह्मानंद नेताम का नाम पुलिस के द्वारा पेश चालान में भी शामिल है।

मरकाम ने कहा कि जिस साल FIR दर्ज हुई थी, तब झारखंड में भाजपा की रघुबर दास की सरकार थी। उन्होंने कहा कि बच्ची के साथ एक फ्लैट में अनाचार किया गया था। ब्रह्मानंद नेताम के खिलाफ IPC की धारा 366a,376(3),376ab,376ad,120b।4/6 पॉक्सो 4,5,6,7,9 की धाराओं में केस दर्ज है।

बीजेपी प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम पर कांग्रेस ने लगाए गंभीर आरोप।

बीजेपी प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम पर कांग्रेस ने लगाए गंभीर आरोप।

मोहन मरकाम ने कहा कि झारखंड पुलिस ने प्रमुख आरोपियों की सीडीआर रिपोर्ट और पीड़िता के पास से मिली डायरी के आधार पर जांच आगे बढ़ाई थी, जिसमें ब्रह्मानंद नेताम के नाम का खुलासा हुआ है। झारखंड पुलिस ने 5 आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार लिया है, जबकि शेष आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए धर पकड़ जारी है। पीसीसी चीफ ने कहा कि भाजपा प्रत्याशी की गिरफ्तारी कभी भी हो सकती है, अगर भाजपा माता और बहनों की इज्जत करती है, तो उन्हें तत्काल ब्रह्मानंद नेताम का प्रचार करना बंद कर देना चाहिए।

नाम निर्देशन पत्र में नहीं किया उल्लेख

पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा प्रत्याशी ने नाम निर्देशन पत्र में इस घटना के बारे में कहीं उल्लेख नहीं किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रत्याशी के इस कृत्य से पूरे छतीसगढ़ का सिर शर्म से झुक गया है। उन्होंने कहा कि दुष्कर्म के आरोपी को बीजेपी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। जनता तय करे कि उसे ऐसे व्यक्ति को अपना नेता चुनना है क्या? उन्होंने कहा कि भाजपा गैंगरेप के आरोपी को संरक्षण देने के साथ ही टिकट भी दे रही है। मोहन मरकाम ने कहा कि एनएसयूआई कार्यकर्ता पर जैसे ही रेप के आरोप लगे, तत्काल उन पर कार्रवाई की गई, लेकिन भाजपा ने दुष्कर्म के आरोपी को प्रत्याशी ही बना लिया।

ब्रह्मानंद नेताम के नामांकन के दौरान कक्ष में मौजूद बीजेपी नेता।

ब्रह्मानंद नेताम के नामांकन के दौरान कक्ष में मौजूद बीजेपी नेता।

कांग्रेस ने की बीजेपी प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम की शिकायत

इसके अलावा कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम की शिकायत प्रदेश कांग्रेस कमेटी के विधिक विभाग ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी से की है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि 17 नवंबर को नामांकन के दौरान कक्ष में 5 से अधिक लोग शामिल थे। कांग्रेस ने बीजेपी प्रत्याशी पर कार्रवाई की मांग मुख्य निर्वाचन अधिकारी से की है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के विधिक विभाग का आवेदन।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के विधिक विभाग का आवेदन।

कांग्रेस ने कहा है कि नामांकन के दौरान बीजेपी प्रत्याशी और नेताओं ने नियमों का उल्लंघन किया है। कांग्रेस के विधिक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष देवा देवांगन ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को शिकायत पत्र सौंपा है। भाजपा प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम के नामांकन के दौरान पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, भानुप्रतापपुर विधानसभा प्रभारी बृजमोहन अग्रवाल, रामविचार नेताम, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी, कांकेर सासंद मोहन मंडावी, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत, जिलाध्यक्ष सतीश लाठिया, वरिष्ठ नेता नंदकुमार साय समेत अन्य नेता भी नामांकन कक्ष में मौजूद थे।

कांकेर जिले की भानुप्रतापपुर विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव 5 दिसंबर को होना है। यह सीट पिछले महीने कांग्रेस विधायक मनोज सिंह मंडावी के निधन से खाली हुई है। भारत निर्वाचन आयोग ने 5 नवंबर को इस चुनाव का कार्यक्रम जारी कर दिया। यह चुनाव गुजरात चुनाव के साथ ही कराया जाएगा। इसका परिणाम भी गुजरात-हिमाचल के परिणामों के साथ आएगा।

ऐसा रहेगा चुनाव का पूरा शेड्यूल

1. नामांकन- 10 नवंबर से 17 नवंबर

2. नामांकन की जांच – 18 नवंबर

3. नाम वापसी का मौका – 21 नवंबर तक

4. मतदान- 5 दिसंबर

5. मतगणना- 8 दिसंबर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular