Friday, April 19, 2024
Homeउत्तरप्रदेशBIG News: ब्लैकमेलिंग से परेशान 7वीं की छात्रा ने किया सुसाइड.. पड़ोसी...

BIG News: ब्लैकमेलिंग से परेशान 7वीं की छात्रा ने किया सुसाइड.. पड़ोसी के पास था उसका न्यूड वीडियो; मकान मालिक दोस्ती का बना रहा था दबाव

उत्तर प्रदेश: गोरखपुर में 3 दिन पहले 7वीं की छात्रा के सुसाइड मामले में चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। पुलिस सूत्रों से पता चला है कि छात्रा का पड़ोसी युवक के पास न्यूड वीडियो था। वह उसे वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल कर रहा था। इससे परेशान होकर उसने फांसी लगा ली। आरोपी युवक मकान मालिक जुगुल गुप्ता का करीबी है। इसलिए उसका अक्सर घर आना-जाना रहता था।

आरोपी युवक किराएदारों से किराया वसूलने से लेकर मकान मालिक के सभी काम करता था। किराया वसूलने के बहाने वह अक्सर छात्रा के घर पहुंच जाता था। इसी दौरान छात्रा की उससे अच्छी जान-पहचान हो गई। आरोपी ने इसी का फायदा उठाकर छात्रा का न्यूड वीडियो उसके मोबाइल से निकाला लिया। पुलिस को शक है कि इसमें मकान मालिक का भी हाथ है। जांच में पता चला है कि मकान मालिक भी लगातार छात्रा से दोस्ती करने का दबाव बना रहा था।

  • खबर में आगे बढ़ने से पहले तीन दिन पहले क्या हुआ, सबसे पहले इसे पढ़िए…
छात्रा अपने परिवार के साथ इसी घर में किराए पर रहती थी।

छात्रा अपने परिवार के साथ इसी घर में किराए पर रहती थी।

कमरे में लटकी मिली थी लाश, सुसाइड नोट नहीं मिला
रविवार रात गोरखपुर में छात्रा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। वह काली मंदिर गली के पुर्दिलपुर मोहल्ले में किराये पर रहती थी। घर के कमरे में उसकी फंदे से लटकती हुई लाश मिली थी। मकान मालिक की सूचना पर पुलिस पहुंची थी। पुलिस ने मां को फोन करके बताया कि आपकी बेटी ने सुसाइड कर लिया है।

फिर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। सोमवार सुबह गांव से घर पहुंचे छात्रा के परिवार वालों ने मकान मालिक और अन्य किराएदारों पर गैंगरेप के बाद हत्या कर फांसी पर लटकाने के आरोप लगा रहे हैं।

हालांकि, मामला काफी तूल पकड़ने के बाद पुलिस ने मकान मालिक समेत 3 अज्ञात पर हत्या और रेप की धाराओं में केस भी दर्ज कर लिया है। जबकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मौत की वजह हैंगिंग यानी कि फंदा से लटक कर मौत की पुष्टि हुई है।

  • हत्या और सुसाइड में क्यों उलझी गुत्थी, इसे भी पढ़िए…
बेटी की मौत के बाद रोती-बिलखती मां।

बेटी की मौत के बाद रोती-बिलखती मां।

मौत के बाद पड़ोसी ने फॉर्मेट कर दिया मोबाइल
अब पुलिस उस वीडियो को हासिल करने में लगी है, जिससे छात्रा को ब्लैकमेल किया जा रहा था। इसके साथ ही पुलिस युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। लेकिन, छात्रा की मौत के ठीक बाद युवक ने अपना मोबाइल फॉर्मेट कर दिया। ऐसे में पुलिस का शक अब और पुख्ता होता जा रहा है। हालांकि, पुलिस युवक के मोबाइल को कब्जे में लेकर डाटा रिकवर करने के लिए भेजी है। ताकि, उसके मोबाइल से छात्रा का वीडियो रिकवर किया जा सके।

परिवार का पुलिस की थ्योरी से इनकार
ऐसे में पुलिस का मानना है कि वीडियो वायरल होने के डर से ही छात्रा ने सुसाइड कर लिया होगा। जबकि, दूसरी ओर छात्रा के परिवार वाले ठीक इससे अलग बात कर रहे हैं। उनका आरोप है, पुलिस अब भी मकान मालिक को बचाने में लगी है। परिवार ने किसी भी तरह के अश्लील वीडियो की जानकारी होने से इनकार किया है।

भाई का ही फोन यूज करती थी बहन
उनका कहना है कि घर में सिर्फ दो मोबाइल फोन थे। एक पिता के पास, जोकि वह लेकर ड्यूटी पर जाते थे। जबकि, अभी हाल में ही छात्रा के भाई ने भी एक मोबाइल फोन खरीदा था। बेटे का ही मोबाइल कभी- कभी बेटी भी यूज करती थी। फिलहाल दोनों मोबाइल पीड़ित परिवार के पास ही है। परिवार में ऐसी कोई दिक्कत नहीं थी, जिसके लिए बेटी सुसाइड करेगी। अगर कोई ऐसी बात होती तो वह परिवार से जरूर शेयर करती।

ये छात्रा की मां है।

ये छात्रा की मां है।

मां से जल्दी घर आने को बोली थी बेटी
हालांकि, घटना के पहले दिन भी छात्रा की मां ने बताया था कि मौत से पहले बेटी ने उन्हें फोन किया था। फोन कर छात्रा ने अपनी मां से जल्दी घर आने की भी बात कही थी। छात्रा की मां ने भी पड़ोसी युवक की नियत ठीक नहीं होने की बात कही थी। लेकिन, अब परिवार इन सभी बातों से इनकार कर रहा है।

वे बेटी की मौत का जिम्मेदार सिर्फ मकान मालिक को ही मान रहे हैं। परिवार सुसाइड की बात मानने को तैयार ही नहीं है। जबकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में साफ तौर पर हैंगिंग यानी कि फंदे से लटक कर मौत की पुष्टि भी हुई है।

हर एंगल पर चल रही जांच
जबकि, SP सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया, ”छात्रा की मौत के मामले में हर एक एंगल पर जांच की जा रही है। उसके पड़ोस में रहने वाले एक युवक से पूछताछ की जा रही है। एक वीडियो की भी बात सामने आई है, हालांकि अभी इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है। युवक के मोबाइल से डाटा रिकवर कराया जा रहा है।

इसके अलावा भी अन्य बिंदुओं पर भी बारीकी से जांच की जा रही है। जल्द ही इस केस में सब कुछ साफ कर दिया जाएगा। पीड़ित परिवार मकान मालिक पर ही हत्या का आरोप लगा रहा है। लेकिन, अब तक मकान मालिक के खिलाफ ऐसे कोई सबूत सामने नहीं आए हैं।”

  • अब आइए जानते हैं, कैसे सामने आई वीडियो की बात…?

घटना के बाद पुलिस छात्रा के शव का जबरदस्ती अंतिम संस्कार करा रही थी। लेकिन, मोहल्ले की लड़कियों और औरतों के साथ परिवार ने बेटी का शव पुलिस से छीन लिया।

पड़ोसी से खुल रहे राज
पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जब पुलिस ने इस मामले की पड़ताल शुरू की तो पता चला कि पड़ोस के एक युवक उस घर में आना-जाना था। युवक मकान मालिक का बेहद करीबी भी है। जब पुलिस ने युवक से पूछताछ की तो पहले तो वह पुलिस को घुमाता रहा, लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने के बाद वह टूट गया।

पड़ोसी से मोबाइल पर टैंपर्ड लगवाने को बोली थी छात्रा
सूत्रों के मुताबिक, उसने पुलिस को बताया, कुछ दिनों पहले छात्रा के भाई ने एक मोबाइल खरीदा था। यही मोबाइल छात्रा भी यूज करती थी। छात्रा ने नादानी में खुद मोबाइल से अपना एक न्यूड वीडियो बनाया था। वह शायद वीडियो बनाकर उसे डिलीट करना भूल गई।

इसी दौरान पड़ोस में रहने वाला युवक वहां पहुंच गया। छात्रा की भी उससे बनती थी। उसने युवक को मोबाइल देकर उस पर टैंपर्ड ग्लास और कवर लगवाने के लिए कहा।

मोबाइल में था वीडियो
पड़ोसी युवक मोबाइल लेकर गोलघर के बलदेव प्लाजा चला गया। वहां उसने अपने एक परिचित मित्र दुकानदार से छात्रा के मोबाइल पर टैंपर्ड ग्लास और कवर लगवा दिया। इस दौरान दुकानदार को ही मोबाइल से एक वीडियो मिली। जिसे उसने पड़ोसी युवक को शेयर कर दिया। पुलिस को शक है कि अब पड़ोसी इस वीडियो के सहारे छात्रा को ब्लैकमेल कर रहा होगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular