Tuesday, July 23, 2024
Homeछत्तीसगढ़बीजापुर: स्वरोजगार के माध्यम से किराना दुकान का संचालन कर संतोष बना...

बीजापुर: स्वरोजगार के माध्यम से किराना दुकान का संचालन कर संतोष बना आत्मनिर्भर…

बीजापुर: मेसर्स संतोष किराना, प्रोपराईटर संतोष तेलम पिता स्व0 मासा तेलम ग्राम+पोस्ट- तुमनार, तहसील+जिला बीजापुर का निवासी है। संतोष के बचपन में ही पिता का देहांत होने के कारण परिवार पर मुसीबतों का पहाड टूट पड़ा। पिता के गुजर जाने बाद परिवार का पूरा भार संतोष की मां के कंधो पर आ गया। उस समय छोटे-छोटे होने के कारण घर के काम के साथ-साथ खेती-किसानी का भी कार्य को भी अकेली मां को ही करना पडता था। जिसके कारण उनका बचपन का जीवन काफी कठिनाईयों से गुजरा हुआ। जैसे-तैसे 5-6 साल गुजर जाने के बाद बड़े भैया मोबाईल यूटूब के माध्यम से इलेक्ट्रिकल रिपेयरिंग का कार्य सीख कर रिपेयरिंग का कार्य कर मां का सहयोग करने लगा। संतोष भी उनके भैया के साथ जिला मुख्यालय बीजापुर में इलेक्ट्रिकल का काम करने जाता रहा। तभी उनके कुछ साथियों ने स्वयं का व्यवसाय चालू करने की सलाह दी। संतोष ने भी खुद का किराना व्यवसाय चालू करने के लिए ऋण लेने यूनियन बैंक बीजापुर से सम्पर्क करने पर बैंक मैनेजर ने जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के माध्यम से ऋण हेतु आवेदन करने पर अनुदान का लाभ मिलने की जानकारी उनसे मार्गदर्शन प्राप्त कर संतोष ने जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र बीजापुर से सम्पर्क कर मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजनांतर्गत वर्ष 2022-23 में किराना दुकान हेतु 2.00 लाख का ऋण प्रकरण तैयार कर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया बीजापुर को प्रेषित कर 2.00 लाख रूपये का ऋण स्वीकृत कराया गया है। ऋण स्वीकृति उपरांत योजना के नियमानुसार उद्यमी को उद्योग विभाग द्वारा व्यवसाय का सफल संचालन हेतु 07 दिवस का उद्यमिता प्रशिक्षण प्रदाय किया गया है। हितग्राही अनुसूचित जनजाति वर्ग के उद्यमी होने के कारण ऋण स्वीकृत राशि पर 25 प्रतिशत की दर से 50 हजार रूपये विभाग द्वारा अनुदान प्रदाय किया गया। संतोष को किराना व्यवसाय से प्रतिमाह लगभग 8,000.00 रूपये की निरंतर आमदनी हो रही है और वह बैंक की किश्तों का अदायगी भी नियमित रूप से कर पा रहा है। अपने परिवार का भी खुशहाल जीवकोपार्जन कर पा रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular