Thursday, February 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: चॉइस सेंटर को प्रशासन ने किया सील... महतारी वंदन योजना का...

CG: चॉइस सेंटर को प्रशासन ने किया सील… महतारी वंदन योजना का भरवाया जा रहा था फर्जी फार्म, सैकड़ों महिलाओं से पैसों की ठगी

सरगुजा: जिले में महतारी वंदन योजना के नाम पर महिलाओं से पैसे लेकर फॉर्म भरने वाले वाले चॉइस सेंटर को नायब तहसीलदार की टीम ने सील कर दिया है। महिला वंदन योजना का ऑनलाइन फॉर्म भरे जाने की सूचना पर रोजाना यहां सैकड़ों की संख्या में महिलाएं फॉर्म भरने के लिए पहुंच रही थीं। नायब तहसीलदार ने महिलाओं का बयान भी दर्ज किया।

जानकारी के मुताबिक, शहर सीमा से लगे दरिमा क्षेत्र में आराध्या चॉइस सेंटर के संचालक शिव गुप्ता द्वारा पिछले कुछ दिनों से महतारी वंदन योजना का फॉर्म पैसे लेकर भरवाया जा रहा था। योजना के फॉर्म भराने की बात धीरे-धीरे फैल गई और रोज काफी संख्या में ग्रामीण महिलाएं यहां पहुंचने लगीं। इसकी जानकारी प्रशासन को मिली।

सीएससी के बाहर लगी महिलाओं की भीड़।

सीएससी के बाहर लगी महिलाओं की भीड़।

च्वॉइस सेंटर में लगी महिलाओं की भीड़

नायब तहसलीलदार अंकिता पटेल की टीम जब जांच करने के लिए आराध्या चॉइस सेंटर पहुंची, तो वहां सैकड़ों की संख्या में महिलाओं की भीड़ लगी थी, जो फॉर्म भरने आई थीं। मौके पर महतारी वंदन योजना के नाम पर सैकड़ों की संख्या में फॉर्म मिले, जिनमें महिलाओं का फोटो लगा था और मोबाइल नंबर भी लिखा हुआ था। फॉर्म में ज्यादा कुछ जानकारी नहीं लिखी गई थी।

जब्त किए गए महतारी वंदन योजना के फॉर्म।

जब्त किए गए महतारी वंदन योजना के फॉर्म।

महिलाओं का दर्ज किया गया बयान

नायब तहसीलदार अंकिता पटेल ने चॉइस सेंटर के संचालक और महिलाओं का बयान लिया। महिलाओं ने बताया कि चॉइस सेंटर के संचालक द्वारा 30-30 रुपये लेकर फॉर्म भरा जा रहा है। महतारी वंदन योजना के फॉर्म को जब्त कर लिया गया। चॉइस सेंटर के खिलाफ कार्रवाई करते हुए इसे सील कर दिया गया है।

शासन ने नहीं बनाया है नियम

महतारी वंदन योजना भाजपा के घोषणापत्र में शामिल योजना है, जिसमें महिलाओं को प्रतिवर्ष 1200 हजार रुपये दिए जाने हैं। इसके लिए अब तक शासन द्वारा हितग्राहियों का क्राइटेरिया और पंजीयन की स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है। ऐसे में योजना के नाम पर फॉर्म भरवाने और पैसे लेने को ठगी की श्रेणी में माना जा रहा है। नायब तहसीलदार ने कहा कि मामले की जांच के बाद अधिकारियों के निर्देश पर संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular