Friday, July 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: IAS के खिलाफ शिकायत... भाजपा का दावा- कलेक्टर कर रहे थे...

CG: IAS के खिलाफ शिकायत… भाजपा का दावा- कलेक्टर कर रहे थे का प्रचार, कांग्रेस बोली- हार के डर से लगा रहे अफसर पर आरोप

रायपुर: भारतीय जनता पार्टी के नेता 24 नवंबर काे मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय पहुंचे। यहां IAS राजेंद्र कटारा की शिकायत की गई। कटारा पर आरोप है कि वो आचार संहिता और चुनाव के दौरान कांग्रेसियों का साथ देते रहे, प्रचार भी किया। भाजपा ने कटारा को हटाने की मांग की है।

शिकायत लेकर भाजपा के सांसद और पाटन से प्रत्याशी विजय बघेल और बीजापुर के भाजपा नेता महेश गागड़ा पहुंचे। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में आवेदन देकर IAS अफसर पर नेताओं ने गंभीर आरोप लगाए।

शिकायत करने पहुंचे नेता।

शिकायत करने पहुंचे नेता।

क्या है शिकायत में
महेश गागाड़ा ने कहा- आचार संहिता लगने के पहले से ही हम बीजापुर कलेक्टर को लेकर शिकायत कर रहे थे। कोई कार्रवाई नहीं हुई। उनकी भूमिका लगातार संदिग्ध रही, वो कांग्रेस के प्रभाव में रहे यह जानकारी मिलती रही। जिनका लोकतंत्र और चुनाव प्रक्रिया में भरोसा है सभी लोगों ने शिकायत की। कलेक्टर, विधायक के निवास जा रहे हैं और उनके साथ मीटिंग कर रहे हैं। चुनाव को डिस्टर्ब करने के पूरी कोशिश की गई। काउंटिंग से पहले उन्हें हटाने की हमने मांग की है। यही हाल रहा तो जनता का निष्पक्ष चुनाव से भरोसा उठ जाएगा।

ये पत्र निर्वाचन कार्यालय में दिया गया है।

ये पत्र निर्वाचन कार्यालय में दिया गया है।

कांग्रेस के प्रचार का दावा
भाजपा की ओर से दी गई शिकायत में लिखा गया है- बीजापुर कलेक्टर राजेंद्र कटारा 6 अक्टूबर को कांग्रेस का प्रचार कर रहे थे, 27 अक्टूबर को स्थानीय कांग्रेस विधायक का सहयोग कर रहे थे, 2 नवंबर को पक्षपात पूर्ण रवैया भाजपा संग किया, 10 नवंबर को ईवीएम मशीनों के क्रमांक प्रदान नहीं किए। बीजापुर के बूथ क्रमांक 175 मंे गड़बड़ी दावा कर इसकी गिनती को भाजपा ने वैलिड न मानने की बात कही है। किस बूथ में कितना मतदान हुआ इसकी जानकारी नहीं दी गई है।

कांग्रेस की ओर से आया जवाब
कांग्रेस ने इसे लेकर पहलटवार किया। पार्टी के प्रवक्ता धनंजय ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी बुरी तरह से चुनाव हार रही है। प्रदेश की जनता ने मोदी की गारंटी को खारिज कर दिया और कांग्रेस की घोषणा पत्र पर भरोसा किया है। मतदान के बाद जो रुझान मिल रहे हैं कांग्रेस 75 से अधिक सीट जीत रही है। भाजपा के पास 13 सीट बचाने का भी संघर्ष है।

ठाकुर ने आगे कहा- भाजपा केंद्रीय नेतृत्व के खौफ से इस प्रकार से अधिकारियों पर आरोप लगाकर हार का ठीकरा अधिकारियों पर फोड़ना चाहती है। भाजपा को स्वीकार करना चाहिए की जनता उन्हें अस्वीकार कर चुकी है और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आगे भाजपा के पास कोई चेहरा नहीं था, भाजपा सिर्फ बहाने बना रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular