Thursday, June 20, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: पूर्व पार्षद पर रॉड-हॉकी और बेस बैट से हमला... घायल हिस्ट्रीशीटर...

CG: पूर्व पार्षद पर रॉड-हॉकी और बेस बैट से हमला… घायल हिस्ट्रीशीटर बोला- अश्लील मैसेज मामले में गिरफ्तार करने मुझे ही ढूंढ रही पुलिस

DURG: दुर्ग नगर निगम के पूर्व पार्षद और हिस्ट्रीशीटर रहे अजय दुबे के ऊपर कुछ लोगों ने जानलेवा हमला किया है। जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। प्राथमिक इलाज के बाद उन्हें रायपुर रेफर कर दिया गया है। घटना सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र की है।

अजय दुबे ने घायल अवस्था में अपनी फोटो फेसबुक में डालकर दुर्ग पुलिस पर आरोप लगाया है कि वो आरोपियों को पकड़ने की जगह अश्लील मैसेज के मामले में उसे ही गिरफ्तार करने के लिए खोज रही है।

दुर्ग नगर निगम के पूर्व पार्षद और हिस्ट्री शीटर अजय दुबे का फेसबुक पोस्ट।

दुर्ग नगर निगम के पूर्व पार्षद और हिस्ट्री शीटर अजय दुबे का फेसबुक पोस्ट।

अजय ने पोस्ट में क्या लिखा है ?

अजय ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि यदि सही माहौल और मार्गदर्शन मिले तो नशे की लत में बिगड़े हुए बच्चों को सही राह पर लाया जा सकता है। कुछ लोग उनकी बेज्जती कर उनके मन में जहर घोलने का काम कर रहे हैं। कुछ बड़े लोग समाज को ही लूटकर अपनी तिजोरी भर रहे हैं।

अजय दुबे ने बताया कि भाजयुमो के पूर्व महामंत्री समेत कई लोगों ने उन पर हमला किया है। उन्हें निगम में ठेका और साइकिल स्टैंड का ठेका दिलाने के लिए लड़ाई तक लड़ी।

दुर्ग कोतवाली थाना

दुर्ग कोतवाली थाना

पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप

अजय दुबे ने लिखा है कि पुलिस ने हमलावरों के खिलाफ साधारण मारपीट का केस दर्ज किया है। वो लोग चैन से घर में बैठे हैं। उल्टा अब उसके ऊपर अश्लील मैसेज भेजकर किसी को परेशान करने के मामले में पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए ढूंढ रही है। अजय ने कहा कि वो आरोपियों को न्याय दिलाने के लिए पूरी लड़ाई लड़ेंगे।

पुलिस ने लूट के मामले में अजय और उसके साथियों का निकाला था जुलूस

पुलिस ने लूट के मामले में अजय और उसके साथियों का निकाला था जुलूस

कौन है हिस्ट्रीशीटर अजय दुबे ?

अजय दुबे भाजपा का पार्षद रह चुका है। वो सांसद सरोज पाण्डेय का भी काफी करीबी था। हालांकि आपराधिक गतिविधि के चलते सरोज पाण्डेय ने दूरियां बना ली। उसे भाजपा ने टिकट नहीं दिया तो निर्दलीय पार्षद चुनाव लड़ा, जिसमें हार का सामना करना पड़ा।

18 सितंबर 2021 की रात पार्षद अजय दुबे ने अपने साथियों के साथ मिलकर महाराजा चौक स्थित मोबाइल शॉप में घुसकर 10 हजार रुपए की लूट की थी। कोतवाली पुलिस ने उसे और उसके साथियों को गिरफ्तार किया था।

इतना ही नहीं पुलिस ने पार्षद और उसके साथियों का कान पकड़वाकर पूरे शहर में घुमाया था। पुलिस की माने तो आरोपी के खिलाफ अलग-अलग थानों में 20 से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular