Tuesday, July 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: CM भूपेश के पिता की तबीयत गंभीर... रायपुर में मुख्यमंत्री ने...

CG: CM भूपेश के पिता की तबीयत गंभीर… रायपुर में मुख्यमंत्री ने अस्पताल पहुंचकर जाना हाल, सोशल मीडिया में लिखा- बाबूजी अस्वस्थ है; आशीर्वाद लेने पहुंचा

रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिताजी की तबीयत गंभीर बनी हुई है। 21 अक्टूबर को सीएम के पिता नंदकुमार बघेल को ब्रेन और स्पाईन से जुड़ी बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस बीच शनिवार को उनसे मिलने CM भूपेश अस्पताल पहुंचे। मुख्यमंत्री ने अस्पताल में भर्ती अपने पिता की तस्वीर भी सोशल मीडिया में साझा की और कहा कि, बाबूजी अस्वस्थ हैं, आज उनसे आशीर्वाद लेने पहुंचा हूं। उनकी जिजिविषा (जीने की चाह) मेरे लिए प्रेरणा हैं।

मुख्यमंत्री फ़ोटो में अपने पिताजी से बातें करते हुए नजर आए।

मुख्यमंत्री फ़ोटो में अपने पिताजी से बातें करते हुए नजर आए।

तबीयत अभी गंभीर बनी हुई है
अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि, 89 साल के नंदकुमार बघेल जी को ब्रेन और स्पाईन से सम्बंधित पुरानी बीमारी है और उसके साथ साथ उन्हें अनियंत्रित डायबिटीज भी है। 21 अक्टूबर को उन्हें जब भर्ती किया गया तब दिमाग में खून का थक्का जमा था और उन्हें निमोनिया था।

शरीर में इन्फेक्शन के चलते उन्हें वेंटीलेटर की भी जरुरत पड़ी। अभी वे लगभग एक माह से बिस्तर में है, हालांकि उनकी बीमारी में इलाज के कारण अब थोड़ा सुधार आया है। लेकिन अभी भी उनके शरीर में दाहिने भाग का लकवा है और तबीयत अभी गंभीर बनी हुई है।

17 नवंबर को लाइन में लग कर परिवार के साथ वोटिंग की थी।

17 नवंबर को लाइन में लग कर परिवार के साथ वोटिंग की थी।

नामांकन से पहले मुख्यमंत्री ने की थी मुलाकात
मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया में लिखा कि बाबूजी अस्वस्थ हैं। नामांकन से पहले उनसे अस्पताल में मिला था‌। चुनाव की गहमा-गहमी में उनसे मिलने नहीं आ पाया था। आज उनसे आशीर्वाद लेने पहुंचा‌। उनकी जिजीविषा मेरे लिए हमेशा प्रेरणा रही है।

हालांकि मुख्यमंत्री अपने पिता के सेहत की जानकारी चुनाव प्रचार के दौरान भी लेते रहे हैं। वहीं दूसरे चरण का मतदान खत्म होने के बाद अगले ही दिन सीएम ने खुद अस्पताल जाकर उनका हालचाल लिया।

कल परिवार के साथ लाइन में लग कर किया था मतदान
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कल 17 नवंबर को परिवार के साथ मतदान किया। पाटन से वे प्रत्याशी हैं। भूपेश बघेल पुश्तैनी गांव कुरूदडीह पहुंचकर अपने पूरे परिवार के साथ लाइन में खड़े होकर मतदान किया। इस दौरान उनकी पत्नी मुक्तेश्वरी देवी सहित उनकी बेटियां और बेटा भी मौजूद थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular