Wednesday, May 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़CG: सांसद दीपक बैज ने की मिशन आत्मनिर्भर-2023 की शुरुआत...

CG: सांसद दीपक बैज ने की मिशन आत्मनिर्भर-2023 की शुरुआत…

  • घर पहुंच सेवाओं का मिलेगा बस्तर के दिव्यांग जनों को लाभ
  • समाज कल्याण विभाग की रथ दिव्यांगजनों के द्वार, हर दिव्यांग को मिलेगा शासन की योजनाओं का लाभ

जगदलपुर: जिला प्रशासन द्वारा लुई ब्रेल की जयंती के मौके पर मिशन आत्मनिर्भर-2023 की शुरूआत की गई। इसके माध्यम से बस्तर जिले के हर दिव्यांग जन तक समाज कल्याण विभाग की पहुंच को सुनिश्चित की जाएगी। आड़ावाल स्थित दृष्टि-श्रवण बाधित शासकीय स्कूल बस्तर सांसद श्री दीपक बैज ने कार्यक्रम के शुभारंभ के अवसर पर 5 जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। समाज कल्याण विभाग के इस जागरूकता रथ में 10 लोगों की टीम होगी जो बस्तर जिले के हर गांव तक एक साथ पहुंचेगी। यानी कि एक साथ 50 लोगों की टीम दिव्यांग जनों की सहायता के लिए तैयार रहेगी। इनमें शामिल टीम 21 बिंदुओं की एक प्रश्नोत्तरी पर दिव्यांग जनों से जानकारी लेगी, जिसके अंतर्गत यह पता लगाया जा सकेगा कि, दिव्यांग जनों का यूडीआईडी कार्ड बना है या नहीं, उनका आधार कार्ड बना है या नहीं, इससे शासन की योजनाओं का सही लाभ दिव्यांगों तक पहुंच पाएगी और विभाग के पास भी उचित डाटा उपलब्ध होगी।

इस अवसर पर बस्तर सांसद दीपक बैज ने कहा कि, समाज कल्याण विभाग हमेशा दिव्यांगजनों की भलाई के लिए आगे रहता है। विभाग द्वारा किए जा रहे कार्य उन्हें हमेशा प्रेरित करते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार की योजनाओं से राज्य के दिव्यांगजनों के जीवन में नया सवेरा आया है। सांसद ने दृष्टि-श्रवण बाधित शासकीय स्कूल की शिक्षक की मांग को भी पूरा करने की बात कही, साथ ही खेल के मैदान की सुविधा देने की बात भी सांसद ने की।

इंद्रावती प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री राजीव शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि दिव्यांगजनों के लिए विभाग के द्वारा किए जा रहे कार्य अतुलनीय है। ये समाज में एक सकारात्मक बदलाव लेकर आएगी। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों की हर मांग को पूरा करने के लिए छत्तीसगढ़ शासन पूरी तरह तत्पर है। दिव्यांगजनों की हर मांग के लिए संसाधनों की आपूर्ति सरकार द्वारा की जा रही है। विभाग की उपसंचालक श्रीमती वैशाली मरड़वार ने जानकारी दी कि इस शिविर के माध्यम से जिल के एक-एक दिव्यांगजनों की पूरी जानकारी समाज कल्याण विभाग के पास होगी। कार्यक्रम की शुरुआत दृष्टि-श्रवण बाधित शासकीय स्कूल के बच्चों द्वार राजगीत गाकर की गई। इसके साथ ही विद्यालय परिसर में ब्रेल लिपि के जनक लुई ब्रेल की प्रतिमा का भी अनावरण किया गया। कार्यक्रम में स्कूल के 17 दृष्टिबाधित छात्रों को मोबाइल हैंडसेट प्रदान किया गया। कार्यक्रम के अंत में अतिथियों के द्वारा दृष्टि-श्रवण बाधित शासकीय स्कूल के बच्चों को पुरस्कार भी वितरण किया गया। कार्यक्रम में अपर कलेक्टर हरेश मंडावी, बस्तर संभाग दिव्यांग जन समिति के सचिव श्री जुगधर कश्यप, मदरसा बोर्ड के सदस्य शामिल हुए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular