Thursday, April 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: बार में बवाल फिर गैंगवार... NSUI कार्यकर्ताओं ने ABVP के जिला...

CG: बार में बवाल फिर गैंगवार… NSUI कार्यकर्ताओं ने ABVP के जिला महामंत्री को फोड़ा सिर, कलेक्टोरेट के सामने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

बिलासपुर: विधानसभा चुनाव आचार संहिता के बिलासपुर में हत्या और गैंगवार का नाम थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। शुक्रवार की देर रात तंत्रा बार में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पहले बवाल मचाया। फिर रास्ता रोक कर उन्होंने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (AVBP) के जिला महामंत्री पर पत्थर और रॉड से हमला कर दिया। इस हमले में AVBP नेता का सिर फट गया है। हालांकि, दूसरे पक्ष से भी युवक घायल हैं। पुलिस ने दोनों पक्षों पर केस दर्ज कर लिया है। पूरा मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है।

सरकंडा के शिवम होम्स कॉलोनी निवासी आयुष तिवारी (22) अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का जिला महामंत्री है। उसका भाई 36 मॉल में काम करता है। शुक्रवार की रात करीब 11.30 बजे आयुष अपने भाई को लेने के लिए गया था। इस दौरान एनएसयूआई के गौतम ऋषि, आयुष दुबे और उसके साथियों ने शराब पीकर तंत्रा बार में बवाल मचाया। तभी उनका आयुष के भाई से विवाद हो गया। आयुष ने उन्हें समझाइश देकर शांत करा दिया, जिसके बाद सभी वहां से निकल गए।

एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पहले तंत्रा बार में हंगामा मचाया।

एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पहले तंत्रा बार में हंगामा मचाया।

बदला लेने के लिए आयुष को रोका फिर किया हमला
आयुष ने पुलिस को बताया कि 36 मॉल के नीचे एनएसयूआई के कार्यकर्ता उसके भाई से उलझ रहे थे और मारपीट कर रहे थे, जिस पर आयुष ने बीच बचाव कर उन्हें शांत कराया। इसके बाद युवक बदला लेने की फिराक में थे और कलेक्टोरेट के सामने आयुष का इंतजार कर रहे थे। आयुष अपनी कार से कलेक्टोरेट के सामने पहुंचा, तब 10-12 लड़कों ने उसे रोक लिया। फिर उसे घेर कर पत्थर और रॉड से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। आयुष ने भी अपने बचाव में युवकों की पिटाई की। इस हमले में आयुष का सिर फट गया, जिसके बाद वह खून से लथपथ होकर सिविल लाइन थाने पहुंचा।

आचार संहिता के सामने कलेक्टोरेट के सामने हुआ गैंगवार।

आचार संहिता के सामने कलेक्टोरेट के सामने हुआ गैंगवार।

दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज
पुलिस ने घायल आयुष को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा, जहां उसकी हालत देखकर उसे सिम्स रेफर कर दिया गया। इस बीच दूसरे पक्ष से भी घायल युवक थाना पहुंच गए। उन्होंने भी आयुष, उसके भाई सहित अन्य के खिलाफ केस दर्ज कराया है। वहीं, पुलिस ने आयुष के हमलावर गौतम ऋषि, अंशुमान दुबे सहित अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है।

लगातार हो रही वारदात, पुलिस उदासीन
कुछ दिन पहले सरकंडा थाना क्षेत्र के सामने खेल परिसर में जन्मदिन मनाने के बहाने शराब पी रहे छात्र पर पान दुकानदार ने चाकू से हमला कर दिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। आचार संहिता के बीच मारपीट, चाकूबाजी और गैंगवार की घटनाएं लगातार बढ़ रही है, जिसे लेकर एक दिन पहले ही आईजी अजय यादव ने पुलिस अफसरों को फटकार लगाई थी और पेट्रोलिंग तेज करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद भी पुलिस सक्रिय नजर नहीं आ रही है।

मारपीट से एनएसयूआई कार्यकर्ता के सिर में गंभीर चोंटे आई है।

मारपीट से एनएसयूआई कार्यकर्ता के सिर में गंभीर चोंटे आई है।

बार पर नहीं है पुलिस और आबकारी विभाग का नियंत्रण
जिले में आचार संहिता लागू है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले में धारा 144 लागू किया है। इसके साथ ही रात 10 बजे के बाद डीजे सहित सभी शराब दुकानों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं, शहर में संचालित बार को भी समय से पहले बंद करने के लिए कहा गया है। लेकिन, शहर के बार पर आबकारी और पुलिस विभाग को कोई नियंत्रण नहीं है, जिसके कारण देर रात तक बार खुल रहे हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular