Tuesday, April 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाChhattisgarh : जुए में लाखों हारा, बेटी के गहने बेचे, गढ़ी झूठी...

Chhattisgarh : जुए में लाखों हारा, बेटी के गहने बेचे, गढ़ी झूठी कहानी, 15 लाख लूट की फर्जी रिपोर्ट; अब व्यापारी पर ही होगी कार्रवाई

सूरजपुर: जिले में चाकू की नोक पर व्यवसायी के घर से नगदी और जेवर सहित 15 लाख रुपए की लूट की शिकायत फर्जी निकली। व्यवसायी जुआ खेलने का आदी था। उसने बेटी के गहने भी बेच दिए थे। बेटी को गहने न लौटाना पड़े, इसलिए उसने पुत्र के साथ मिलकर लूट की फर्जी कहानी बनाई।

जानकारी के मुताबिक, सिटी कोतवाली इलाके के वार्ड नंबर-12 में रहने वाले नरेश अग्रवाल (55) ने गुरुवार रात अपने घर में दो युवकों ने गले में चाकू रखकर 15 लाख रुपए की लूट की शिकायत सुबह सूरजपुर थाने में दर्ज कराई।

एसपी, एएसपी सहित अधिकारी पहुंचे थे जांच में

एसपी, एएसपी सहित अधिकारी पहुंचे थे जांच में

शिकायत के बाद सूरजपुर एसपी एमआर आहिरे, एएसपी शोभराज अग्रवाल,टीआई विमलेश दुबे सहित सूरजपुर के अधिकारियों की टीम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची।

महिला-पुरूष द्वारा लूट की थी शिकायत
शिकायत में व्यवसायी नरेश अग्रवाल ने बताया कि उन्होंने रात के डेढ़ बजे लड़ाई-झगड़े की आवाज सुनी। आवाज सुनकर वे घर से बाहर निकले, तो देखा कि यहां महिला-पुरुष लड़ रहे हैं। उन्होंने दोनों को समझाया और वहां से जाने के लिए कहा।

जब वे वापस घर में लौटे तो महिला-पुरुष उनके साथ आ गए और गले में चाकू सटाकर घर की अलमारी में रखे 15 लाख रुपए के गहने और नगद लूटकर फरार हो गए।

मामले का खुलासा करते एएसपी व सूरजपुर टीआई

मामले का खुलासा करते एएसपी व सूरजपुर टीआई

जांच में संदिग्ध लगा मामला
पुलिस अधिकारियों ने मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि घटनास्थल से थोड़ी दूर पर ही एक आरक्षक की रात्रिकालीन ड्यूटी थी। रात को फोन तक थाने को नहीं किया गया। आसपास लगे सीसी टीवी कैमरों की जांच की गई। साथ ही एफएसएल प्रभारी कुलदीप कुजुर व डॉग स्क्वायड की टीम ने मौके पर पहुंच जांच की, तो लूटपाट होने के कोई सबूत नहीं मिले।

मौके पर जांच करते पुलिस अधिकारी

पूछताछ में मामला निकला फर्जी
पुलिस को मामला संदिग्ध लगने पर शिकायतकर्ता व्यवसायी नरेश अग्रवाल एवं उसके पुत्र अंकित अग्रवाल (25) से अलग-अलग पूछताछ की। पूछताछ में मामले का खुलासा हो गया। जांच में पता चला कि नरेश अग्रवाल जुआ खेलने का आदि है। वह पहले मिट्टी तेल का कारोबार करता था। हाल में उसने घर के सामने कपड़े की एक दुकान खोली है। लूट की कोई घटना उनके घर नहीं हुई है।

व्यसायी के कमरे से मिले तीन लाख के जेवर

व्यसायी के कमरे से मिले तीन लाख के जेवर

बेटी के गहने भी बेच दिए थे, गढ़ी झूठी कहानी
पुलिस जांच में पता चला कि नरेश अग्रवाल की पुत्री नेहा का विवाह खरसिया में हुआ है। बेटी ने अपने करीब 12 लाख रुपये के गहने पिता के घर रखे थे। नरेश अग्रवाल जुए में रूपये हारने के बाद बेटी के गहने एक स्थानीय संतोष आभूषण भंडार में बेच दिए थे। बेटी गहने वापस मांग रही थी। बेटी को गहने न लौटाना पड़े, इसलिए उसने झूठी कहानी रची।

पुत्र के कमरे में मिले तीन लाख रुपये के गहनें
पुलिस जांच के दौरान व्यवसायी के पुत्र अंकित अग्रवाल के कमरे से पुलिस को सोने-चांदी के तीन लाख रुपये के जेवर बरामद हुए, जिन्हें लूटना बताया गया था। स्थानीय ज्वेलर्स संतोष आभूषण भंडार के संचाल ने भी नरेश अग्रवाल द्वारा ज्वेलरी बेचने की तस्दीक पुलिस पूछताछ में कर दी है। गहने बेचकर नरेश अग्रवाल ने उधारी की रकम भी चुकाई थी।

व्यवसायी पर वैधानिक कार्रवाई करेगी पुलिस
सूरजपुर एएसपी शोभराज अग्रवाल ने बताया कि मामला जांच में झूठा निकला है। पुलिस व्यवसायी के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करेगी। इसी प्रकार प्रतापपुर में एक युवक ने पिता से पैसे वसूलने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ी थी। पुलिस ने उसके खिलाफ भी कार्रवाई की है।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular