Tuesday, June 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: KORBA- SP भोजराम पटेल की अनुकरणीय पहल.. कोरबा पुलिस...

BCC News 24: KORBA- SP भोजराम पटेल की अनुकरणीय पहल.. कोरबा पुलिस ने शुरू किया ‘तुंहर पुलिस तुंहर द्वार’ अभियान, पुलिसकर्मी घर-घर जाकर सुन रहे लोगों की समस्या

कोरबा (BCC NEWS 24): आमतौर पर पीड़ित अपनी शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंचते हैं, लेकिन कोरबा में पुलिस ने खुद घर-घर जाकर लोगों की शिकायतें सुनने का काम शुरू किया है। कोरबा एसपी भोजराम पटेल ने इसके लिए “तुंहर पुलिस तुंहर द्वार” कार्यक्रम शुरू किया है। इसके तहत पुलिस खुद लोगों के पास जाकर शिकायत सुनेगी।

कार्यक्रम की शुरुआत के पहले दिन रविवार को एसपी भोजराम पटेल स्वयं बगबुड़ा गांव पहुंचे। गांव में पुलिसकर्मियों ने एसपी के साथ घर-घर दरवाजा खट-खटाकर ग्रामीणों की समस्याएं पूछीं। गांव के श्याम लाल ने बताया कि वह अपने घर के बगल में शासकीय मद से स्वीकृत शौचालय का निर्माण करवा रहा है, जिसे पड़ोसी द्वारा जबरन रोका जा रहा है एवं पट्टे की भूमि में बना रहे हो कहकर झुठा आरोप लगाकर परेशान कर रहा है। शिकायत सुनकर एसपी ने स्वयं मौके पर जाकर मुआयना किया। दोनों पक्षों ,एवं पंचों से बात कर मामले को आपस में सुलह कराया गया। ग्रामीणों की दूसरी शिकायतों की भी सुनवाई हुई।

एसपी ने ग्रामीणों से उनका हाल चाल भी जाना।

एसपी ने ग्रामीणों से उनका हाल चाल भी जाना।

क्यों पड़ी इसकी जरूरत

एसपी भोजराम पटेल ने बताया, थानों में आम जनता के द्वारा की गई शिकायतों के निराकरण करने में समय लगता है,कई बार जनता पुलिस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं रहती है। ऐसे में पुलिस को ही लोगों के घर भेजा जा रहा है ताकि लोगों का भरोसा बढ़े और उन्हें परेशान न होना पड़े।

एसपी के आने की खबर पाकर ग्रामीण जमा हो गए।

एसपी के आने की खबर पाकर ग्रामीण जमा हो गए।

कैसे काम कर रहा है यह सिस्टम

एसपी भोजराम पटेल ने बताया,नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा, नगर पुलिस अधीक्षक दर्री और एसडीओपी कटघोरा के अधीन एक-एक मोबाइल वाहन तैनात किया गया है। वाहन में एक पुलिस अधिकारी और सहायक नियुक्त किया गया है जो संबंधित अनुविभागीय अधिकारी के अधीन कार्य करेंगे। संबंधित पुलिस अनुविभागीय अधिकारी थानों में लंबित शिकायतों की सूची की समीक्षा कर मोबाइल वाहन में तैनात अधिकारी को उस गांव में भेजेंगे। जहां शिकायतों की संख्या अधिक है या गंभीर किस्म की शिकायत है। मोबाइल वाहन में तैनात अधिकारी उन गांवों में जाकर मौके पर दोनों पक्षों को बुलाकर शिकायतों की जांच करेंगे एवं पुलिस कार्रवाई योग्य मामलों में मौके पर ही अपराध दर्ज करेंगे ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular