Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा : PM नरेन्द्र मोदी आज SECL की फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं...

कोरबा : PM नरेन्द्र मोदी आज SECL की फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं का वर्चुल करेंगे शुभारंभ, 211 करोड़ की लागत से बना है प्लांट

SECL की फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं का वर्चुल उद्घाटन

कोरबा: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल कोरबा के साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) की तीन प्रमुख फर्स्ट माइल कनेक्टिविटी परियोजनाओं का वर्चुअल तरीके से उद्घाटन करेंगे, जो दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में करेंगे।

यह परियोजनाएं 600 करोड़ रुपए से अधिक मूल्य की है और तेज, पर्यावरण अनुकूल और कुशल मशीनीकृत कोयला निकासी की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। एसईसीएल के दीपका क्षेत्र स्थित दीपका ओसीपी कोल हैंडलिंग प्लांट 211 करोड़ रुपये से अधिक लागत की एक प्रमुख परियोजना का उद्घाटन दिल्ली से वर्चुल माध्यम से करेंगे।

25 मीट्रिक टन की कोयला हैंडलिंग क्षमता

वार्षिक 25 मीट्रिक टन की कोयला हैंडलिंग क्षमता के साथ इस परियोजना में 20,000 टन की ओवरग्राउंड बंकर क्षमता और 2.1 किमी लंबी कन्वेयर बेल्ट है, जो प्रति घंटे 4,500 – 8,500 टन कोयले की तेजी से लोडिंग की सुविधा प्रदान करती है।

रेल साइडिंग के बीच सड़क आधारित कोयले की आवाजाही

इसके अतिरिक्त यह परियोजना गड्ढे और रेल साइडिंग के बीच सड़क आधारित कोयले की आवाजाही को कम करके पर्यावरण अनुकूल परिवहन सुनिश्चित करेगी, जिससे कार्बन उत्सर्जन पर अंकुश लगेगा। इससे न केवल पर्यावरण को लाभ होगा बल्कि रेक लोडिंग का समय एक घंटे से भी कम हो जाएगा और परिचालन दक्षता भी बढ़ेगी।

173 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया गया

एक अन्य महत्त्वपूर्ण परियोजना एसईसीएल के रायगढ़ क्षेत्र में छाल ओसीपी कोल हैंडलिंग प्लांट है। इसे 173 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बनाया गया है। इसमें वार्षिक 6 मीट्रिक टन कोयला संभालने की क्षमता के साथ एक ओवरग्राउंड बंकर, 1.7 किमी तक फैला एक कन्वेयर बेल्ट और 3,000 टन क्षमता का साइलो शामिल है

10 मीट्रिक टन कोयले की हैंडलिंग के लिए डिज़ाइन

इसके अतिरिक्त, एसईसीएल रायगढ़ क्षेत्र में बरौद ओसीपी कोल हैंडलिंग प्लांट है। इसे वार्षिक रूप से 10 मीट्रिक टन कोयले की हैंडलिंग के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह 216 करोड़ रुपये की लागत से पूरा हो गया है।

20,000 टन की ओवरग्राउंड बंकर क्षमता और 1.7 किमी कन्वेयर बेल्ट से लैस इस परियोजना में एक रैपिड लोडिंग सिस्टम है। यह प्रति घंटे 5000-7500 टन कोयला लोड करने में सक्षम है, लोडिंग प्रक्रिया को काफी सुव्यवस्थित बनाता है और परिचालन दक्षता में योगदान देता है।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular