Thursday, February 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: नशे में धुत स्कूल पहुंचा प्रिंसिपल... घर वापस लौटे बच्चे, परिजनों...

कोरबा: नशे में धुत स्कूल पहुंचा प्रिंसिपल… घर वापस लौटे बच्चे, परिजनों ने लगाई क्लास; मानसिक प्रताड़ना का लग चुका है आरोप

KORBA: कोरबा के पसान इलाके के कर्री हाई स्कूल का प्रिंसिपल शराब के नशे में धुत होकर स्कूल पहुंचा। उसकी हरकतों से परेशान होकर स्कूल के बच्चे घर वापस लौट गए। इसकी सूचना परिजनों को दी गई। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रिंसिपल को जमकर खरी खोटी सुनाई।

प्रिंसिपल अनिल कुमार का नशे में धुत होने का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। वीडियो में प्रिंसिपल नशे की हालत में दिखाई दे रहा है। वह अपनी गलती भी मान रहा है। इसकी सूचना पर गांव के सरपंच रोहणी बाई भी मौके पर पहुंची और शराबी प्रिंसिपल की हरकतों के बारे में जानकारी ली।

बार-बार शराब पीकर स्कूल आता है प्रिंसिपल

बताया जा रहा है कि प्रिंसिपल की इस हरकत से शिक्षक और बच्चे काफी परेशान हैं। इससे पहले प्रिंसिपल पसान क्षेत्र की लेंगा गांव में पदस्थ था। वहां भी शराब पीकर स्कूल में आता था। बार-बार मना करने के बावजूद भी वह नशे की हालत में स्कूल पहुंचा था, जिससे स्कूल प्रबंधन परेशान था। मानसिक रूप से परेशान होकर कई स्कूल शिक्षकों ने प्रिंसिपल की अपना ट्रांसफर करा लिया था।

ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर से की थी।

ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर से की थी।

शिकायत के बाद कर्री हाई स्कूल में किया गया पदस्थ

ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर से की थी। शिकायत के बाद प्रिंसिपल अनिल कुमार को पसान के कर्री हाई स्कूल में पदस्थ किया गया। जहां प्रिंसिपल की हरकतें वैसे के वैसी है। एक बार फिर से शराब के नशे में स्कूल पहुंच गया। इस दौरान अन्य शिक्षकों ने इसका विरोध भी किया, लेकिन वह अपने हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। ।

प्रिंसिपल अनिल कुमार का नशे में धुत होने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

प्रिंसिपल अनिल कुमार का नशे में धुत होने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

बच्चों पर पड़ रहा असर

ग्रामीणों का आरोप है कि इससे पहले भी प्रिंसिपल की इस तरह की करतूत सामने आ चुकी है और कलेक्टर से भी शिकायत की जा चुकी है। गांव के सरपंच रोहणी ने बताया कि ऐसे शिक्षक पर कार्रवाई होनी चाहिए। बच्चों के परिजनों ने कहा कि अगर स्कूल का प्रिंसिपल अगर इस तरह का कार्य करेंगे तो बच्चों पर इसका कैसा असर होगा।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular