Wednesday, May 22, 2024
Homeउत्तरप्रदेशBIG न्यूज़: सड़क हादसे में निगम के AE का पूरा परिवार खत्म.....

BIG न्यूज़: सड़क हादसे में निगम के AE का पूरा परिवार खत्म.. मरने वाले 5 लोगों में पति-पत्नी, मां और 2 बच्चे, दिवाली मनाने घर जा रहे थे

उत्तरप्रदेश: बस्ती में भीषण सड़क हादसे में कार सवार एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत हो गई। तेज रफ्तार कार हाईवे पर खड़े कंटेनर से टकरा गई। टक्कर इतनी भीषण था कि पूरी कार कंटेनर में घुस गई। हादसे में पति-पत्नी, मां और बेटी की मौके पर मौत हो गई, जबकि गंभीर घायल बेटे ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में तोड़ दिया। हादसा मुंडेरवा थाना क्षेत्र में खजौला पुलिस चौकी के पास हुआ।

हादसे में AE, उनकी पत्नी, मां और बेटा-बेटी की मौत हो गई।

दिवाली मनाने कार से घर जा रहा था परिवार
लखनऊ में जल निगम में AE के पद पर विनोद कुमार तैनात थे। रविवार को विनोद कुमार (42), अपनी मां सरस्वती, पत्नी नीलम (34), बेटी श्रेया और बेटे यथार्थ के साथ कार से दीवाली मनाने संतकबीरनगर जा रहे थे। मुलरुप से वह खलीलाबाद क्षेत्र के हरपुर ढोडहि के रहने वाले थे। ब्रेजा कार में सवार पूरा परिवार लखनऊ से निकला था

अंधेरा होने के चलते नहीं दिखा कंटेनर
रात के वक्त हाईवे किनारे कंटेनर खड़ा था। कार की स्पीड तेज थी। 8 बजे अंधेरा होने के कारण अंदाजा नहीं लगा और कार पीछे से कंटेनर में जा घुसी। हादसे की भयावहता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सभी कार में बुरी तरह से फंस गए। हादसे के बाद आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। उन्होंने पुलिस को सूचना दी। बमुश्किल गैस कटर से कार को काटकर सभी को निकाला गया। क्रेन से कार को कंटेनर से निकाला गया।

टक्कर इतनी भीषण थी कि पूरी कार कंटेंनर के नीचे की जगह में घुस गई थी। बमुश्किल गैस कटर से काटकर घायलों को बाहर निकाला गया।

हादसे में एई विनोद कुमार, उनकी मां, पत्नी, बेटी की मौके पर मौत हो गई, जबकि बेटे यथार्थ ने कुछ देर बाद दम तोड़ दिया। SP आशीष श्रीवास्तव ने बताया पांचों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। मृतकों के करीबी और रिश्तेदारों को सूचना दे दी गई।

कार सड़क से नीचे उतरकर कंटेनर में जा घुसी, कार को गैस कटर से काटकर शवों को बाहर निकाला गया।

कार सड़क से नीचे उतरकर कंटेनर में जा घुसी, कार को गैस कटर से काटकर शवों को बाहर निकाला गया।

बहुत दिनों से गांव नहीं गया था परिवार
विनोद कुमार परिवार के साथ लखनऊ में ही रहते थे। उनका बेटा और बेटी लखनऊ में ही पढ़ाई करते थे। रिश्तेदारों ने बताया कि बहुत दिनों के बाद गांव नहीं आए थे। इसलिए, दीवाली मनाने इस बार घर जा रहे थे। जहां हादसा हुआ है वहां से उनके घर की दूरी महज 17 किलोमीटर रह गई थी। हादसे में पूरा परिवार एक झटके में खत्म हो गया। परिवार में अब कोई नहीं बचा है। विनोद के पिताजी की पहले मौत हो चुकी थी।

सड़क किनारे खड़ा था कंटेनर
जिस कंटेनर में विनोद की कार पीछे से घुसी थी वह सड़क के एकदम किनारे खड़ा हुआ था। कार बेकाबू होकर कंटेनर के पीछे जा घुसी और उसके परखच्चे उड़ गए। लोगों के मन में यह सवाल जरूर उठ रहा है कि सड़क से नीचे उतकर कंटेनर में कार कैसे घुस गई? क्या सामने से कोई वाहन या कोई जानवर आ गया था।

भीषण हादसे से जुड़ी अन्य तस्वीरें देखिए…

यह फोटो पोस्टमॉर्टम हाउस के बाहर की है। परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है।

यह फोटो पोस्टमॉर्टम हाउस के बाहर की है। परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है।

घटना की जानकारी पर मौके पर SP व अन्य अधिकारी।

घटना की जानकारी पर मौके पर SP व अन्य अधिकारी।

कंटेनर में कार घुसने के बाद उसके परखच्चे उड़ गए।

कंटेनर में कार घुसने के बाद उसके परखच्चे उड़ गए।

हादसे की जानकारी पर मौके पर पहुंचा पुलिस प्रशासन व लोग।

हादसे की जानकारी पर मौके पर पहुंचा पुलिस प्रशासन व लोग।

यह फोटो हादसे के बाद की है। सड़क किनारे कंटेनर में कार घुसने से कार पूरी तरह से पिचक गई।

यह फोटो हादसे के बाद की है। सड़क किनारे कंटेनर में कार घुसने से कार पूरी तरह से पिचक गई।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular