Saturday, April 20, 2024
Homeमध्यप्रदेशएक्टर सुशांत सिंह राजपूत से मिलता-जुलता केस बैंग्लुरू में आया सामने; मॉडल...

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत से मिलता-जुलता केस बैंग्लुरू में आया सामने; मॉडल बीबी पर लगा ड्रग्स देने का आरोप, मैनेजर के साथ मिलकर पत्नी ड्रग्स और शराब के लिए जबरन बनाती थी दबाव….

रायसेन 1 अक्टूबर 2020। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत से मिलता केस बैंग्लुरू में मिला है। फर्क सिर्फ इतना है कि एक्टर सुशांत मामले में गर्लफ्रेंड रिया पर ड्रग्स देने का आरोप लगा था…जबकि बैंग्लुरू में युवक की मॉडल बीबी पर ड्रग्स देने का आरोप लगा है। दो दिन पहले बैंग्लोर में मध्यप्रदेश के रायसेन के एक युवक दिनेश मीणा ने फंदे पर लटकी लाश मिली थी। आरोप है कि दिनेश को इस कदर उसकी बीबी ने ड्रग्स का आदी बना दिया था कि वो परिवार से दूर होता जा रहा था। फिर एक दिन युवक की मौत की खबर मिली थी।

मृतक दिनेश मीणा के पिता राजाराम मीणा द्वारा दिए गए आवेदन में कहा गया है कि उनके पुत्र को उसकी पत्नी शिवानी गोयल और सहेली साक्षी के अलावा जिस कंपनी में वह काम करता था. उसके मैनेजर द्वारा धमकाया जाता था. साथ ही उसे ड्रग्स और शराब के लिए जबरन मजबूर किया जाता था. जिसकी वजह से वह शराब और ड्रग्स का आदि हो गया था. 23 सितंबर को मौत से पहले दिनेश ने बहन को फोन कर इस बारे में बताया था. वहीं, मामले में बरेली थाना प्रभारी मनोज दुबे ने बताया कि बेंगलुरु से पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ निर्णय लिया जाएगा. दिनेश के पिता द्वारा दिए गए आवेदन को बेंगलुरु पुलिस तक भेजा जा रहा है. जल्द ही मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

चार गांव निवासी दिनेश मीणा 2014 से एलएनसीटी कॉलेज, भोपाल में इंजीनियर का छात्र था और शिवानी गोयल के साथ वर्ष 2019 में भोपाल से बेंगलुरु में नौकरी करने का कहकर पहुंचा था. 2019 से बेंगलुरू में रह रहे दिनेश मीणा का शव 23 सितंबर को बेंगलुरू में उसके फ्लैट के अंदर बाथरूम में शॉवर से लटका मिला. मृतक दिनेश मीणा के पिता राजाराम मीणा के परिजनों ने बरेली थाना पहुंचकर थाना प्रभारी मनोज दुबे को पुलिस अधीक्षक रायसेन के नाम आवेदन दिया. पुलिस को दिए आवेदन में कहा गया है कि 23 सितंबर को दिनेश की मौत से पहले दिनेश ने अपनी बहन से वीडियो कॉलिंग के माध्यम से बात कर बताया था कि शिवानी गोयल और उसके साथी उसे ड्रग्स देते हैं. मृतक दिनेश मीणा के परिवारजनों ने भी बताया कि जब वह बेंगलुरू दिनेश के शव को लेने पहुंचे थे, उस समय बेंगलुरू पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी और मौके पर उसकी पत्नी शिवानी गोयल और जिस कंपनी में वह कार्य किया करता था, उसका मैनेजर और उसके अन्य दोस्त भी नहीं थे जबकि दिनेश की पत्नी ने ही अपने मोबाइल नंबर से फोन करके दिनेश की बहन बबली को सूचना दी थी कि उनके भाई ने बाथरूम में जाकर बाथरूम का दरवाजा बंद कर लिया है और वह बाहर नहीं निकल रहे हैं.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular