Monday, July 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के खिलाफ नक्सलियों का पर्चा......

CG: छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के खिलाफ नक्सलियों का पर्चा… बोले- आदिवासियों को BJP में शामिल कर रहे, आदिवासी रीति-रिवाज को खत्म कर हिंदू बना रहे

जगदलपुर: छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री और भाजपा नेता महेश गागड़ा के खिलाफ नक्सलियों ने पर्चा जारी किया है। पर्चे के माध्यम से नक्सलियों ने आरोप लगाया है कि, गागड़ा आदिवासी युवकों को भाजपा में शामिल कर हिंदू बना रहे हैं। आदिवासी रीति-रिवाज को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। ये दलित, पिछड़ा वर्ग के लोगों को अपना नहीं समझते हैं। इन्हें दबाने की कोशिश की जाती है।

दरअसल, नक्सलियों के पश्चिम बस्तर डिवीजन कमेटी के सचिव मोहन ने पर्चा जारी किया है। इस पर्चे में लिखा है कि, साल 2011 की जनगणना के अनुसार बीजापुर जिले में 2 लाख 55 हजार 230 की जनसंख्या है। इनमें 2 लाख 4 हजार 189 अनुसूचित जनजाति के लोग हैं। यानी आदिवासियों की संख्या काफी अधिक है। आदिवासियों की संस्कृति, पूजापाठ, खानपान सब अलग है।

नक्सली लीडर मोहन ने पर्चा जारी किया है।

नक्सली लीडर मोहन ने पर्चा जारी किया है।

नक्सली मोहन ने कहा कि, जब काकतीय राजा ने बस्तर में हमला कर सत्ता हासिल की, इसके बाद से ही बस्तर में आदिवासियों पर हिंदू धर्म का हमला शुरू हुआ। अब इस हिंदुत्व को बीजापुर में और बढ़ाने के लिए महेश गागड़ा, फूलचंद गागड़ा लगातार काम कर रहे हैं। युवक-युवतियों को तरह-तरह का लालच देकर भाजपा में शामिल कर रहे हैं और हिंदुत्व को बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं।

नक्सलियों का कहना है कि, मूलवासियों का रीति-रिवाज हजारों सालों से चला आ रहा है। इसे बचाने के लिए आदिवासी नेता गुंडाधुर जैसे लोगों ने अपनी जान कुर्बान की है। इसलिए अब अपने संस्कृति को बचाना है।

नक्सलियों के टारगेट लिस्ट में बस्तर के नेता
दरअसल, बस्तर में नक्सलियों के टारगेट लिस्ट में भाजपा के कई नेता हैं। साल 2023 में ही नक्सलियों ने भाजपा के कुल 5 जमीनी स्तर के नेताओं की हत्या की। साल 2019 में दंतेवाड़ा विधानसभा से विधायक भीमा मंडावी पर हमला उनकी हत्या की थी। अब भी कई नेता नक्सलियों के टारगेट लिस्ट में हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular