Friday, July 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG NEWS: राइस मिल से 2 करोड़ का धान गायब... कस्टम मिलिंग...

CG NEWS: राइस मिल से 2 करोड़ का धान गायब… कस्टम मिलिंग के लिए उठाया गया था धान, 1.59 करोड़ का चावल भी जब्त

सरगुजा: जिले के एक राइस मिल में खाद्य अधिकारी के नेतृत्व में संयुक्त टीम ने छापा मारा तो राइस मिल से 9522 क्विंटल धान गायब मिला। दल ने भौतिक सत्यापन करने के बाद राइस मिल से 1.59 करोड़ का चावल और धान को जब्त कर लिया है। गायब धान की कीमत 2100 रुपए प्रति क्विंटल की दर से करीब दो करोड़ रुपए है। खाद्य अधिकारी के अनुसार राइस मिलर्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक खाद्य, विपणन एवं स्टेट वेयर हाउस के अधिकारियों के संयुक्त दल ने सरगुजा जिले के विकासखंड लुंड्रा अंतर्गत ग्राम पंचायत चोरकीडीह के सुमित गोयल द्वारा संचालित बनभौरी राइस इंडस्ट्रीज में छापा मारकर जांच की।

17020 क्विंटल धान उठाव किया गया

निरीक्षण में पाया गया कि राइस मिल द्वारा 17020 क्विंटल धान उठाव किया गया है, जबकि धान उठाव के बाद मिलर्स द्वारा मात्र 867 क्विंटल ही चावल जमा किया गया है। शेष धान के भौतिक सत्यापन में 9,522 क्विंटल धान कम पाया गया।

राइस मिल से चावल व धान जब्त

साढ़े 9000 क्विंटल धान के गायब मिलने पर अधिकारियों ने मिलर्स से कुल 1.59 करोड़ रुपए मूल्य का 3385 क्विंटल चावल और 1152 क्विंटल धान को जब्त कर लिया है। जिला खाद्य अधिकारी रविंद्र सोनी ने बताया कि मिलर्स पर छत्तीसगढ़ कस्टम मिलिंग चावल उपार्जन आदेश 2016 एवम आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी।

कस्टम मिलिंग में होती है गड़बड़ी

समर्थन मूल्य में धान खरीदी की दर 3100 रुपये है, जबकि पड़ोसी राज्यों में धान 1600 से 1800 रुपए प्रति क्विंटल है। इस कारण कस्टम मिलिंग के लिए अनुबंधित राइस मिलर्स ने धान को वापस समिति में भेजकर बड़ी गड़बड़ी की आशंका है। खाद्य अधिकारी ने बताया कि कलेक्टर विलास भोस्कर के निर्देश पर राइस मिलों और कोचियों की जांच की जा रही है। कार्रवाई के दौरान जिला विपणन अधिकारी अरुण विश्वकर्मा, सहायक खाद्य अधिकारी रोशन गुप्ता एवं नोडल अधिकारी स्टेट वेयरहाउसिंग संदीप गुप्ता उपस्थित थे।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular