Monday, July 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: मृतक की पत्नी ने कहा- पड़ोसी इंजीनियर से हुआ था विवाद,...

कोरबा: मृतक की पत्नी ने कहा- पड़ोसी इंजीनियर से हुआ था विवाद, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार…

  • सिंचाई विभाग के ईई की संदिग्ध हालत में मौत पड़ोसी इंजीनियर पर हत्या करने का आरोप

कोरबा: शहर के एक कालोनी में निवासरत सिंचाई विभाग के कार्यपालन अभियंता की गुरुवार की देर शाम संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। पड़ोसी इंजीनियर से विवाद व शरीर पर चोट के निशान होने पर मृतक की पत्नी ने मारपीट करते हुए हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

शहर के घंटाघर के समीप पावर हाइट्स कालोनी में सिंचाई विभाग के कार्यपालन अभियंता राजेश धवनकर का मकान है। उनके दो बच्चे पढ़ाई के सिलसिले में बाहर रहते हैं। धवनकर पत्नी समेत रहते थे। गुरुवार की देर शाम धवनकर बेहोशी की हालत में पड़े मिले, उनके शरीर पर चोट के निशान थे। उनकी पत्नी ने मदद के लिए आवाज लगाई। पड़ोस में निवासरत डॉक्टर राजकुमार यादव व इंजीनियर धर्मेंद्र वर्मा वहां पहुंचे। उन्होंने कालोनी के गार्ड सुंदर साहू को बुलवाया, जिसकी मदद से नीचे गिरे धवनकर को उठाकर बेड पर रखा। बाद में धवनकर को उल्टी होने लगी। तब कालोनी के लोगों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने परीक्षण कर धवनकर को मृत घोषित कर दिया।

इसके बाद धवनकर की पत्नी ने पड़ोसी इंजीनियर वर्मा द्वारा मारपीट करते हुए हत्या करने का आरोप लगाया। धवनकर व वर्मा के बीच विवाद चल रहा था, इसलिए मामला गहरा गया। पुलिस ने संदेही इंजीनियर वर्मा को रात में ही हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। शुक्रवार को धवनकर का पोस्टमार्टम कराया गया। सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम में पसली टूटा और लीवर फटने से मौत होना पाया गया है। हालांकि मानिकपुर चौकी प्रभारी उप निरीक्षक प्रेमचंद साहू का कहना है कि मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। डॉक्टर को शार्ट पीएम रिपोर्ट देने को कहा गया है।

कॉलोनी के सुरक्षा गार्ड ने बताया- साहब बेड से नीचे गिरे थे, ऊपर रखवाया गया पावर हाइट्स कॉलोनी के गार्ड सुंदर साहू के मुताबिक शाम को वह गेट पर ड्यूटी कर रहा था। इस दौरान करीब साढ़े 6 बजे कालोनी परिसर में खेल रहे बच्चों ने हड़बड़ाते हुए उसे बुलाया। वह बच्चों के पास पहुंचा तो वे उसे 304 नंबर मकान ले गए, जहां बाहर डॉ. राजकुमार यादव व धमेंद्र वर्मा थे, उन्होंने धवनकर साहब नीचे गिरे हुए है, उन्हें उठाना है बोले। वे तीनों कमरे में गए, जहां बेड के नीचे पड़े धवनकर साहब को उठाकर ऊपर रखवाया गया। फिर वह वहां से गेट के पास ड्यूटी पर लौट गया। बाद में धवनकर साहब को कुछ लोग अस्पताल ले गए।

पुलिस ने शुरू की जांच, खंगाला गया सीसीटीवी फुटेज : राजेश धवनकर की मौत के बाद हत्या का आरोप लगने पर मामला संदिग्ध हो गया है। मानिकपुर पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। गुरुवार की रात जहां संदेही को हिरासत में लेने के साथ ही मृतक की पत्नी से पूछताछ की गई। शुक्रवार को कालोनी पहुंचकर घटना के दौरान का सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया। हालांकि फुटेज में परिसर की गतिविधियां ही नजर आई।

धवनकर-वर्मा का विवाद होने के बाद पुलिस ने की थी प्रतिबंधात्मक कार्रवाई पावर हाइट्स कॉलोनी में निवासरत राजेश धवनकर के बारे में कालोनी के लोगों ने बताया कि उन्हें शराब पीने की लत थी। नशे में वह गाली गलौच व हंगामा करते रहते थे। बगल के मकान में निवासरत धमेंद्र वर्मा से इसी वजह से विवाद होता था। उनके बीच पहले हाथापाई भी चुकी थी। कुछ दिन पहले धमेंद्र वर्मा ने मानिकपुर चौकी में राजेश धवनकर के खिलाफ शिकायत की थी। पुलिस ने कालोनी में हंगामा करने पर राजेश धवनकर के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की थी। हालांकि उसके बाद भी धवनकर नशे में पहुंचकर हंगामा करते थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular